आज दौड़ेगी रेल, यात्रियों के लिए कन्फर्म टिकट-मास्क जरूरी, यात्रा करनी है तो इन 10 बातों का रखें ध्यान

First Published 12, May 2020, 9:55 AM

नई दिल्ली. कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए सरकार द्वारा देशभर में लागू किए गए लॉकडाउन में अब ढील मिलने लगी है। देश में जारी लॉकडाउन 3.0 के बीच भारतीय रेलवे लगभग डेढ़ महीने के अंतराल के बाद 12 मई से यात्री ट्रेनों के परिचालन की फिर से शुरुआत करने जा रही है। इसके लिए रेलवे ने 15 जोड़ी ट्रेनों के परिचालन का निर्णय लिया है। हालांकि इस दौरान यात्रियों के लिए रेल मंत्रालय की ओर से गाइडलाइन जारी की गई है। जिसका सभी यात्रियों को पालन करना अनिवार्य है।  

<p style="text-align: justify;"><strong>90 मिनट पहले पहुंचना होगा रेलवे स्टेशन</strong><br />
स्पेशल ट्रेन की यात्रा करने वाले यात्रियों को 90 मिनट पहले ही स्टेशन पहुंचना होगा। दरअसल, रेलवे यह सुनिश्चित कर लेना चाहती है कि यात्रा करने वाले यात्री पूरी तरह स्वस्थ हों, इसलिए उनकी स्वास्थ्य जांच होगी, जिसके लिए उन्हें डेढ़ घंटे पहले स्टेशन पहुंचने को कहा गया है।</p>

90 मिनट पहले पहुंचना होगा रेलवे स्टेशन
स्पेशल ट्रेन की यात्रा करने वाले यात्रियों को 90 मिनट पहले ही स्टेशन पहुंचना होगा। दरअसल, रेलवे यह सुनिश्चित कर लेना चाहती है कि यात्रा करने वाले यात्री पूरी तरह स्वस्थ हों, इसलिए उनकी स्वास्थ्य जांच होगी, जिसके लिए उन्हें डेढ़ घंटे पहले स्टेशन पहुंचने को कहा गया है।

<p style="text-align: justify;"><strong>हर यात्री को मास्क पहनना अनिवार्य</strong><br />
भारतीय रेल का कहना है कि सभी यात्रियों के लिए मास्क पहनना अनिवार्य होगा। ट्रेन में चढ़ने वाले यात्रियों की हालांकि पहले स्वास्थ्य जांच कर ली जाएगी, लेकिन इसके बावजूद हर यात्री को मास्क पहनना जरूरी होगा और सर्दी-जुकाम जैसे लक्षणों वाले यात्रियों को यात्रा की अनुमति नहीं दी जाएगी।</p>

हर यात्री को मास्क पहनना अनिवार्य
भारतीय रेल का कहना है कि सभी यात्रियों के लिए मास्क पहनना अनिवार्य होगा। ट्रेन में चढ़ने वाले यात्रियों की हालांकि पहले स्वास्थ्य जांच कर ली जाएगी, लेकिन इसके बावजूद हर यात्री को मास्क पहनना जरूरी होगा और सर्दी-जुकाम जैसे लक्षणों वाले यात्रियों को यात्रा की अनुमति नहीं दी जाएगी।

<p style="text-align: justify;"><strong>नई दिल्ली स्टेशन पर सिर्फ पहाड़गंज की तरफ से प्रवेश</strong><br />
आप यदि नई दिल्ली से चलने वाले राजधानी स्पेशल ट्रेन से यात्रा करने वाले यात्रियों को सिर्फ पहाड़गंज साइड से स्टेशन में प्रवेश मिलेगा। किसी भी सूरत में रिजर्व ट्रेन के पैसेंजर को अजमेरी गेट साइड से प्रवेश नहीं मिलेगा। उत्तर रेलवे से मिली जानकारी के अनुसार, रेल प्रशासन ने राजधानी स्पेशल गाड़ियों में चढ़ने वाले रिजर्व टिकट वाले पैसेंजर को पहाड़गंज साइड से इंट्री देने का फैसला किया है।</p>

नई दिल्ली स्टेशन पर सिर्फ पहाड़गंज की तरफ से प्रवेश
आप यदि नई दिल्ली से चलने वाले राजधानी स्पेशल ट्रेन से यात्रा करने वाले यात्रियों को सिर्फ पहाड़गंज साइड से स्टेशन में प्रवेश मिलेगा। किसी भी सूरत में रिजर्व ट्रेन के पैसेंजर को अजमेरी गेट साइड से प्रवेश नहीं मिलेगा। उत्तर रेलवे से मिली जानकारी के अनुसार, रेल प्रशासन ने राजधानी स्पेशल गाड़ियों में चढ़ने वाले रिजर्व टिकट वाले पैसेंजर को पहाड़गंज साइड से इंट्री देने का फैसला किया है।

<p style="text-align: justify;"><strong>सामान्य किराया राजधानी ट्रेनों के बराबर</strong><br />
रेलवे ने जो 15 जोड़ी ट्रेनें चलाई हैं, उनका किराया राजधानी एक्सप्रेस ट्रेनों के बराबर है। इसका कारण यह है कि ये सारी ट्रेनें वातानुकूलित हैं और इनका स्टॉपेज सिर्फ चुनिंदा स्टेशनों पर ही हैं, जिसकी वजह से किराया अधिक रखा गया है।</p>

सामान्य किराया राजधानी ट्रेनों के बराबर
रेलवे ने जो 15 जोड़ी ट्रेनें चलाई हैं, उनका किराया राजधानी एक्सप्रेस ट्रेनों के बराबर है। इसका कारण यह है कि ये सारी ट्रेनें वातानुकूलित हैं और इनका स्टॉपेज सिर्फ चुनिंदा स्टेशनों पर ही हैं, जिसकी वजह से किराया अधिक रखा गया है।

<p style="text-align: justify;"><strong>डिब्बाबंद खाने का करना होगा भुगतान</strong><br />
अगर किराया राजधानी एक्सप्रेस ट्रेनों के बराबर लिया जा रहा है, इसका मतलब यह नहीं है कि आपको इन ट्रेनों में खानपान मुफ्त में मिलेगा। रेलवे का कहना है कि उसने रेल के किराये में खानपान का पैसा नहीं लिया है, इसलिए यात्रियों को खानपान का भुगतान करना होगा। यात्रियों खाने में डिब्बाबंद भोजन दिया जाएगा, जो ट्रेन की पैंट्री से नहीं बल्कि IRCTC की ओर से मुहैया कराया जाएगा। </p>

डिब्बाबंद खाने का करना होगा भुगतान
अगर किराया राजधानी एक्सप्रेस ट्रेनों के बराबर लिया जा रहा है, इसका मतलब यह नहीं है कि आपको इन ट्रेनों में खानपान मुफ्त में मिलेगा। रेलवे का कहना है कि उसने रेल के किराये में खानपान का पैसा नहीं लिया है, इसलिए यात्रियों को खानपान का भुगतान करना होगा। यात्रियों खाने में डिब्बाबंद भोजन दिया जाएगा, जो ट्रेन की पैंट्री से नहीं बल्कि IRCTC की ओर से मुहैया कराया जाएगा। 

<p style="text-align: justify;">रेलवे ने पहले ही स्पष्ट कर दिया है कि ट्रेन में डिब्बाबंद भोजन दिया जाएगा, उसका चार्ज टिकट में नहीं शामिल है। इसके लिए अलग से भुगतान करना होगा। इसके साथ ही रेलवे द्वारा पानी की भी व्यवस्था की गई है। जिसके लिए यात्रियों को शुल्क अदा करनी होगी।</p>

रेलवे ने पहले ही स्पष्ट कर दिया है कि ट्रेन में डिब्बाबंद भोजन दिया जाएगा, उसका चार्ज टिकट में नहीं शामिल है। इसके लिए अलग से भुगतान करना होगा। इसके साथ ही रेलवे द्वारा पानी की भी व्यवस्था की गई है। जिसके लिए यात्रियों को शुल्क अदा करनी होगी।

<p style="text-align: justify;"><strong>जिस राज्य में जा रहे हैं, वहां के नियमों का पालन करना होगा</strong><br />
स्टेशन पर हैंड सैनिटाइज़र की सुविधा होगी, मास्क पहनना जरूरी होग। जिस राज्य में जा रहे हैं, वहां के नियमों का पालन करना होगा। जो भी राज्य सरकार द्वारा निर्धारित किए गए हैं। कोच में ना तो चादर मिलेगी, ना कंबल होगा और ना ही परदे ही होंगे। </p>

जिस राज्य में जा रहे हैं, वहां के नियमों का पालन करना होगा
स्टेशन पर हैंड सैनिटाइज़र की सुविधा होगी, मास्क पहनना जरूरी होग। जिस राज्य में जा रहे हैं, वहां के नियमों का पालन करना होगा। जो भी राज्य सरकार द्वारा निर्धारित किए गए हैं। कोच में ना तो चादर मिलेगी, ना कंबल होगा और ना ही परदे ही होंगे। 

<p style="text-align: justify;"><strong>सात दिनों का होगा रिजर्वेशन</strong><br />
आईआरसीटीसी का कहना है कि इन ट्रेनों में अग्रिम आरक्षण अधिकतम सात दिन के लिए होगा। फिलहाल आरएसी और वेटिंग टिकट जारी नहीं होगी। ट्रेन में टीटीई को किसी का टिकट बनाने की अनुमति नहीं होगी। रेलवे ने साफ कर दिया है कि टिकट काउंटर अभी बंद हैं। श्रमिक स्पेशल ट्रेनों पर इसका कोई असर नहीं पड़ेगा। </p>

सात दिनों का होगा रिजर्वेशन
आईआरसीटीसी का कहना है कि इन ट्रेनों में अग्रिम आरक्षण अधिकतम सात दिन के लिए होगा। फिलहाल आरएसी और वेटिंग टिकट जारी नहीं होगी। ट्रेन में टीटीई को किसी का टिकट बनाने की अनुमति नहीं होगी। रेलवे ने साफ कर दिया है कि टिकट काउंटर अभी बंद हैं। श्रमिक स्पेशल ट्रेनों पर इसका कोई असर नहीं पड़ेगा। 

<p style="text-align: justify;"><strong>टिकट कैंसल कराया तो 50% कटेगा चार्ज </strong><br />
भारतीय रेल ने टिकटें रद्द कराने का भी विकल्प दिया है। इस संबंध में उसका कहना है कि यात्री ट्रेन के प्रस्थान से 24 घंटे पहले तक टिकट रद्द करा सकते हैं, लेकिन टिकट रद्द होने पर कुल किराये का 50 प्रतिशत शुल्क के रूप में काट लिया जाएगा।</p>

टिकट कैंसल कराया तो 50% कटेगा चार्ज 
भारतीय रेल ने टिकटें रद्द कराने का भी विकल्प दिया है। इस संबंध में उसका कहना है कि यात्री ट्रेन के प्रस्थान से 24 घंटे पहले तक टिकट रद्द करा सकते हैं, लेकिन टिकट रद्द होने पर कुल किराये का 50 प्रतिशत शुल्क के रूप में काट लिया जाएगा।

<p style="text-align: justify;"><strong>सिर्फ IRCTC वेबसाइट पर बुकिंग</strong><br />
ये विशेष ट्रेनें नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से चलेंगी और डिब्रूगढ़, अगरतला, हावड़ा, पटना, बिलासपुर, रांची, भुवनेश्वर, सिकंदराबाद, बेंगलुरु, चेन्नै, तिरुवनंतपुरम, मडगांव, मुंबई सेंट्रल, अहमदाबाद और जम्मू-तवी को जाएंगी। इन ट्रेनों में आरक्षण के लिए बुकिंग 11 मई शाम 4 बजे से शुरू हो गई हैं। बुकिंग सिर्फ आईआरसीटीसी की वेबसाइट के जरिए की जा सकती है। आरक्षण के दौरान प्राप्त टिकटों पर ‘क्या करें और क्या ना करें’स्पष्ट रूप से लिखा होगा।<br />
 </p>

सिर्फ IRCTC वेबसाइट पर बुकिंग
ये विशेष ट्रेनें नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से चलेंगी और डिब्रूगढ़, अगरतला, हावड़ा, पटना, बिलासपुर, रांची, भुवनेश्वर, सिकंदराबाद, बेंगलुरु, चेन्नै, तिरुवनंतपुरम, मडगांव, मुंबई सेंट्रल, अहमदाबाद और जम्मू-तवी को जाएंगी। इन ट्रेनों में आरक्षण के लिए बुकिंग 11 मई शाम 4 बजे से शुरू हो गई हैं। बुकिंग सिर्फ आईआरसीटीसी की वेबसाइट के जरिए की जा सकती है। आरक्षण के दौरान प्राप्त टिकटों पर ‘क्या करें और क्या ना करें’स्पष्ट रूप से लिखा होगा।
 

loader