Asianet News Hindi

सुशांत के फ्रेंड का बड़ा खुलासा, बताया कैसे फंसा उनका दोस्त, रिया और मैनेजमेंट कंपनी को लेकर खोले कई राज

First Published Sep 23, 2020, 2:27 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुंबई. सुशांत सिंह राजपूत के दोस्त और अभिनेता युवराज एस सिंह ने टैलेंट मैनेजमेंट एजेंसी KWAN को लेकर बड़ा खुलासा किया है। रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क से बात करते हुए सुशांत के दोस्त ने चौंकाने वाली जानकारी दी। युवराज सिंह ने बताया कि कैसे KWAN कैसे ए लिस्टर्स फिल्मस्टार्स के साथ काम करती है? कैसे काम के नाम पर यह कंपनी ड्रग के धंधे में धकेलती है?
 

सुशांत सिंह राजपूत केस में ड्रग एंगल के खुलासा के बाद रिया चक्रवर्ती को एनसीबी (NCB) ने गिरफ्तार कर लिया था। इसके बाद उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था। रिया को 8 सितंबर को गिरफ्तार किया गया था। उनकी 14 दिन की न्यायिक हिरासत 22 सितंबर को खत्म हो चुकी है। लेकिन, अभी उनकी मुश्किल कम नहीं हुई है। एक्ट्रेस की न्यायिक हिरासत को बढ़ाकर 6 अक्टूबर तक कर दिया गया है।
 

सुशांत सिंह राजपूत केस में ड्रग एंगल के खुलासा के बाद रिया चक्रवर्ती को एनसीबी (NCB) ने गिरफ्तार कर लिया था। इसके बाद उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था। रिया को 8 सितंबर को गिरफ्तार किया गया था। उनकी 14 दिन की न्यायिक हिरासत 22 सितंबर को खत्म हो चुकी है। लेकिन, अभी उनकी मुश्किल कम नहीं हुई है। एक्ट्रेस की न्यायिक हिरासत को बढ़ाकर 6 अक्टूबर तक कर दिया गया है।
 

युवराज सिंह ने बताया, बॉलीवुड में नए लोगों को कथित रूप से ड्रग के धंधे में धकेला गया और अगर उन्होंने ऐसा करने से मना किया गया तो टैलेंट मैनेजमेंट एजेंसी ने उनका बहिष्कार कर दिया। 
 

युवराज सिंह ने बताया, बॉलीवुड में नए लोगों को कथित रूप से ड्रग के धंधे में धकेला गया और अगर उन्होंने ऐसा करने से मना किया गया तो टैलेंट मैनेजमेंट एजेंसी ने उनका बहिष्कार कर दिया। 
 

युवराज ने रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क को बताया कि वह KWAN के सीईओ ध्रुव को दस साल से जानते हैं। उन्होंने दावा किया कि KWAN से जुड़े ज्यादातर ए-लिस्टर्स ड्रग्स में शामिल हैं। 
 

युवराज ने रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क को बताया कि वह KWAN के सीईओ ध्रुव को दस साल से जानते हैं। उन्होंने दावा किया कि KWAN से जुड़े ज्यादातर ए-लिस्टर्स ड्रग्स में शामिल हैं। 
 

इसके अलावा सुशांत के दोस्त ने इशारा किया कि टैलेंट मैनेजमेंट एजेंसी और ड्रग सिंडिकेट के बीच संबंध है। बॉलीवुड के कई अन्य बड़े नाम इसमें शामिल हो सकते हैं। जया साहा केवल एक एजेंट हैं। उन्होंने बताया, KWAN दिल्ली में स्थापित की गई। इसके संस्थापक सदस्य जैसे अनिल बाहन। वे फिल्मों में भी नहीं थे। मैं शुरू से ही कंपनी को जानता हूं। खासकर ध्रुव को बहुत लंबे समय से जानता हूं। 
 

इसके अलावा सुशांत के दोस्त ने इशारा किया कि टैलेंट मैनेजमेंट एजेंसी और ड्रग सिंडिकेट के बीच संबंध है। बॉलीवुड के कई अन्य बड़े नाम इसमें शामिल हो सकते हैं। जया साहा केवल एक एजेंट हैं। उन्होंने बताया, KWAN दिल्ली में स्थापित की गई। इसके संस्थापक सदस्य जैसे अनिल बाहन। वे फिल्मों में भी नहीं थे। मैं शुरू से ही कंपनी को जानता हूं। खासकर ध्रुव को बहुत लंबे समय से जानता हूं। 
 

युवराज ने कहा, 10 सालों से उनका व्यवसाय बहुत अच्छा फल-फूल रहा है। उन्होंने कई बड़े सितारों को साइन किया, इंडस्ट्री में उनका ट्रैक रिकॉर्ड बहुत अच्छा नहीं था। हमेशा कुछ पेमेंट के मुद्दे रहे।
 

युवराज ने कहा, 10 सालों से उनका व्यवसाय बहुत अच्छा फल-फूल रहा है। उन्होंने कई बड़े सितारों को साइन किया, इंडस्ट्री में उनका ट्रैक रिकॉर्ड बहुत अच्छा नहीं था। हमेशा कुछ पेमेंट के मुद्दे रहे।
 

युवराज ने आगे कहा, कंपनी ने कभी भी निष्पक्ष व्यवहार नहीं किया। उन्होंने हमेशा अपने फेवरेट का पक्ष लिया। हमारे सभी बॉलीवुड हीरोइन और मॉडल जिन्होंने तीन या चार फिल्में की हैं - वे उनका शोषण करते हैं। वे उनका शोषण करते हैं, उन्हें नशीली दवाओं के व्यापार में डालते हैं। 
 

युवराज ने आगे कहा, कंपनी ने कभी भी निष्पक्ष व्यवहार नहीं किया। उन्होंने हमेशा अपने फेवरेट का पक्ष लिया। हमारे सभी बॉलीवुड हीरोइन और मॉडल जिन्होंने तीन या चार फिल्में की हैं - वे उनका शोषण करते हैं। वे उनका शोषण करते हैं, उन्हें नशीली दवाओं के व्यापार में डालते हैं। 
 

पुरुषों का भी इसमें इस्तेमाल किया जाता है। जो लोग उनके साथ सहयोग नहीं करते हैं, उन्हें भविष्य में काम नहीं मिलता है। कहीं भी काम नहीं मिलता है। वे उन्हें उद्योग से बाहर कर देते हैं। लड़कियों के साथ भी ऐसा ही होता है।
 

पुरुषों का भी इसमें इस्तेमाल किया जाता है। जो लोग उनके साथ सहयोग नहीं करते हैं, उन्हें भविष्य में काम नहीं मिलता है। कहीं भी काम नहीं मिलता है। वे उन्हें उद्योग से बाहर कर देते हैं। लड़कियों के साथ भी ऐसा ही होता है।
 

यह इन टैलेंट मैनेजमेंट एजेंसियों का एक बहुत बड़ा रैकेट है, जिसे मीडिया द्वारा उजागर किया जा रहा है और मुझे आशा है कि यह भविष्य में उजागर होगा। 
 

यह इन टैलेंट मैनेजमेंट एजेंसियों का एक बहुत बड़ा रैकेट है, जिसे मीडिया द्वारा उजागर किया जा रहा है और मुझे आशा है कि यह भविष्य में उजागर होगा। 
 

सुशांत के दोस्त युवराज ने रिया की हरकतों पर सवाल उठाया। सुशांत के खिलाफ लगाए गए आधारहीन आरोपों को यह कहते हुए खारिज कर दिया कि उसका दोस्त फंस गया है और उसे ड्रग्स के लिए मजबूर किया गया।
 

सुशांत के दोस्त युवराज ने रिया की हरकतों पर सवाल उठाया। सुशांत के खिलाफ लगाए गए आधारहीन आरोपों को यह कहते हुए खारिज कर दिया कि उसका दोस्त फंस गया है और उसे ड्रग्स के लिए मजबूर किया गया।
 

उन्होंने कहा, रिया के पीछे बहुत से लोगों ने सुशांत को फंसाने की कोशिश की, जिसमें बहुत सारे बड़े निर्माता भी शामिल हैं, प्रसिद्ध निर्देशक भी शामिल हैं। युवराज ने बताया, पिछली बार जब सुशांत से मिले थे, तब बात करते हुए युवराज ने कहा, मैं उनसे हमारे जिम के बाहर मिला और हम थोड़ी देर के लिए मिले, जहां मैंने उन्हें एक बहुत बड़ी हिट देने के लिए बधाई दी और कहा अब आपको बहुत काम मिल जाएगा। मैं उसके बाद भी उससे मिलना चाहता था क्योंकि मैं उसके साथ काम करना चाहता था। 
 

उन्होंने कहा, रिया के पीछे बहुत से लोगों ने सुशांत को फंसाने की कोशिश की, जिसमें बहुत सारे बड़े निर्माता भी शामिल हैं, प्रसिद्ध निर्देशक भी शामिल हैं। युवराज ने बताया, पिछली बार जब सुशांत से मिले थे, तब बात करते हुए युवराज ने कहा, मैं उनसे हमारे जिम के बाहर मिला और हम थोड़ी देर के लिए मिले, जहां मैंने उन्हें एक बहुत बड़ी हिट देने के लिए बधाई दी और कहा अब आपको बहुत काम मिल जाएगा। मैं उसके बाद भी उससे मिलना चाहता था क्योंकि मैं उसके साथ काम करना चाहता था। 
 

युवराज ने कहा, सुशांत का इस्तेमाल किया गया ताकि उन्हें लूटा जा सके और उनका पैसा फिल्मों में इस्तेमाल किया जा सके। और ऐसा हो भी रहा था।
 

युवराज ने कहा, सुशांत का इस्तेमाल किया गया ताकि उन्हें लूटा जा सके और उनका पैसा फिल्मों में इस्तेमाल किया जा सके। और ऐसा हो भी रहा था।
 

बॉलीवुड और ड्रग्स पर युवराज ने कहा, यदि आप चरस, गांजा, कोकीन नहीं लेते हैं। तब आपको इस उद्योग में काम नहीं मिलेगा। यह संभव है कि उसे चरस, गांजा या कोकीन लेना पड़ता हो। यदि आप एक स्टार बनना चाहते हैं तो आपको ड्रग्स और कास्टिंग से गुजरना होगा। कोई और रास्ता नहीं है। 
 

बॉलीवुड और ड्रग्स पर युवराज ने कहा, यदि आप चरस, गांजा, कोकीन नहीं लेते हैं। तब आपको इस उद्योग में काम नहीं मिलेगा। यह संभव है कि उसे चरस, गांजा या कोकीन लेना पड़ता हो। यदि आप एक स्टार बनना चाहते हैं तो आपको ड्रग्स और कास्टिंग से गुजरना होगा। कोई और रास्ता नहीं है। 
 

KWAN के CEO ध्रुव चिटगोपेकर पर NCB नजर रखे हुए है। एजेंसी KWAN के स्वामित्व की जांच कर रही है। एजेंसी की कर्मचारी करिश्मा प्रकाश, जो दीपिका पादुकोण की मैनेजर हैं उन्हें भी जांच के लिए बुलाया गया है। 
 

KWAN के CEO ध्रुव चिटगोपेकर पर NCB नजर रखे हुए है। एजेंसी KWAN के स्वामित्व की जांच कर रही है। एजेंसी की कर्मचारी करिश्मा प्रकाश, जो दीपिका पादुकोण की मैनेजर हैं उन्हें भी जांच के लिए बुलाया गया है। 
 

2017 में हुए चैट्स् के जरिए बड़ा खुलासा हुआ। इसमें 'डी' (जो बाद में दीपिका पादुकोण के रूप में पुष्टि की गई थी) और 'के' के व्हाट्सएप चैट का उपयोग किया था। दीपिका की मैनेजर के यानी करिश्मा प्रकाश के होने की पुष्टि हुई। एक्सेस किए गए चैट अक्टूबर 2017 के हैं। 'D' पूछते हुए "K" से "Maal" मांगता है। जवाब आता है कि है लेकिन घर पर नहीं है।  'डी' स्पष्ट करता है कि उसे "हैश" की जरूरत है। 
 

2017 में हुए चैट्स् के जरिए बड़ा खुलासा हुआ। इसमें 'डी' (जो बाद में दीपिका पादुकोण के रूप में पुष्टि की गई थी) और 'के' के व्हाट्सएप चैट का उपयोग किया था। दीपिका की मैनेजर के यानी करिश्मा प्रकाश के होने की पुष्टि हुई। एक्सेस किए गए चैट अक्टूबर 2017 के हैं। 'D' पूछते हुए "K" से "Maal" मांगता है। जवाब आता है कि है लेकिन घर पर नहीं है।  'डी' स्पष्ट करता है कि उसे "हैश" की जरूरत है। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios