Asianet News Hindi

facebook फ्रेंड की पोस्ट देखकर लड़कियां इतनी इम्प्रेस होती कि वो जैसा कहता, ये करती जातीं

First Published Oct 17, 2020, 5:37 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

श्रीनगर, जम्मू-कश्मीर. फेसबुक पर दिखने वाली हर फोटो सुंदर नहीं होती और हर लड़की...हकीकत में लड़की भी नहीं होती! फेसबुक पर फर्जी अकाउंट बनाकर लोगों को ठगने के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। श्रीनगर की साइबर सेल ने एक ठग और उसके साथी को गिरफ्तार किया है। इन्होंने लड़के-लड़की के नाम से करीब 15 फेक अकाउंट बना रखे थे। मुख्य आरोपी ने खुद को एक बड़े प्रोजेक्ट का मैनेजर बता रखा था। इसके जरिये ये लड़कियों से दोस्ती करने लगे। आरोपियों की प्रोफाइल देखकर लड़कियां इम्प्रेस हो जातीं। इस तरह दोनों के बीच दोस्ती हो जाती। फिर आरोपी उन्हें अच्छी नौकरी दिलाने के बहाने ठग लेते। लेकिन बारामुला की एक लड़की ठगी के बाद चुप नहीं बैठी। उसने साइबर सेल में शिकायत कर दी। इसके बाद पुलिस सक्रिय हुई और मोहम्मद हुसैन मीमर उर्फ बिट्टा मोरे पुत्र गुलाम कादिर मीर को धर दबोचा। आरोपी अनंतनाग के लाजीबल केपी रोड का रहने वाला है। पढ़िए आगे कहानी...

आरोपी ने पीड़ित लड़कियों से गहरी दोस्ती गांठकर उनके ही नाम पर सिम कार्ड तक निकलवा लिए थे। इनके जरिये वो लोगों का कॉल करता था।

आरोपी ने पीड़ित लड़कियों से गहरी दोस्ती गांठकर उनके ही नाम पर सिम कार्ड तक निकलवा लिए थे। इनके जरिये वो लोगों का कॉल करता था।

आरोपी गरीब परिवार से ताल्लुक रखने वाली लड़कियों को ज्यादा टार्गेट करता था। क्योंकि ऐसी लड़कियों को काम की तलाश होती थी।

आरोपी गरीब परिवार से ताल्लुक रखने वाली लड़कियों को ज्यादा टार्गेट करता था। क्योंकि ऐसी लड़कियों को काम की तलाश होती थी।

साइबर सेल के अनुसार, आरोपी फेसबुक पर कई नामचीन हस्तियों के साथ अपने फोटो पोस्ट करता था। इनमें फिल्म, राजनीति, अफसर सब शामिल होते थे।

साइबर सेल के अनुसार, आरोपी फेसबुक पर कई नामचीन हस्तियों के साथ अपने फोटो पोस्ट करता था। इनमें फिल्म, राजनीति, अफसर सब शामिल होते थे।

आरोपी की प्रोफाइल देखकर लड़कियां इम्प्रेस हो जाती थीं और उससे दोस्ती कर लेती थीं।

आरोपी की प्रोफाइल देखकर लड़कियां इम्प्रेस हो जाती थीं और उससे दोस्ती कर लेती थीं।

आरोपी कभी भी अपने बैंक अकाउंट में पैसे नहीं डालता था। बल्कि किसी अन्य पीड़ित लड़की के अकाउंट का इस्तेमाल करता था।

आरोपी कभी भी अपने बैंक अकाउंट में पैसे नहीं डालता था। बल्कि किसी अन्य पीड़ित लड़की के अकाउंट का इस्तेमाल करता था।

आरोपी लगातार अपने सिम कार्ड और मोबाइल फोन बदलता रहता था, ताकि पुलिस की पकड़ में नहीं आए।

आरोपी लगातार अपने सिम कार्ड और मोबाइल फोन बदलता रहता था, ताकि पुलिस की पकड़ में नहीं आए।

आरोपी को इस तरह से ठगी का आइडिया क्राइम टीवी शो-क्राइम पेट्रोल देखकर आया था। इसके बाद उसे रातों-रात लखपति बनने का जुनून सवार हुआ।

आरोपी को इस तरह से ठगी का आइडिया क्राइम टीवी शो-क्राइम पेट्रोल देखकर आया था। इसके बाद उसे रातों-रात लखपति बनने का जुनून सवार हुआ।

यह घटना आपको अलर्ट करती है। फेसबुक पर किसी से भी दोस्ती करते समय सावधानी बरतें।

यह घटना आपको अलर्ट करती है। फेसबुक पर किसी से भी दोस्ती करते समय सावधानी बरतें।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios