Asianet News Hindi

लेडी डॉक्टर ने किया कमाल, कोरोना को मात देने बना डाली ऐसी सुरक्षा किट, CM से मंत्री तक कर रहे तारीफ

First Published Apr 4, 2020, 6:21 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

भागलपुर (बिहार). कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया में दहशत फैला रखी है। हर कोई इससे डरा हुआ है और सब अपने घरों में कैद हैं। इस महामारी से लोगों को बचाने के लिए डॉक्टर और नर्सें खुद की जान जोखिम में डालकर 24 घंटे मरीजों का इराज कर रहे हैं। आलम यह है कि वह पिछले कई दिनों से अपने घर तक नहीं गए हैं। रोज इतने मामले सामने आ रहे हैं कि डॉकटरो के पास प्रोटेक्शन किट तक कम पड़ने लगी है। लेकिन, इसके बावजूद भी डॉक्टर पर्सनल प्रोटेक्शन इक्विपमेंट (पीपीई) की कमी के कारण जुगाड़ पर काम चला रहे हैं। ऐसा ही एक मामला बिहार में सामने आया है। जहां एक नर्स ने जुगाड़ से किट बना डाली। 

दरअसल, भागलपुर की लेडी डॉक्‍टर गीता रानी ने जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल प्रबंधन से बार-बार प्रोटेक्शन किट की मांग की थी। लेकिन, इसके बावजूद जब इसकी व्यवस्था नहीं हो पाई। लेकिन, लेडी डॉक्टर ने अपना हौसला नहीं खोया। इसके बाद उन्होंने अपनी कार के सीट कवर से पर्सनल प्रोटेक्शन इक्विपमेंट किट तैयार करवाया है।

दरअसल, भागलपुर की लेडी डॉक्‍टर गीता रानी ने जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल प्रबंधन से बार-बार प्रोटेक्शन किट की मांग की थी। लेकिन, इसके बावजूद जब इसकी व्यवस्था नहीं हो पाई। लेकिन, लेडी डॉक्टर ने अपना हौसला नहीं खोया। इसके बाद उन्होंने अपनी कार के सीट कवर से पर्सनल प्रोटेक्शन इक्विपमेंट किट तैयार करवाया है।

डॉ. गीता ने बताया कि भागलपुर के दर्जी सौकत टेलर मास्टर को उन्होंने यू-ट्यूब पर सुरक्षा किट दिखाया। फिर टेलर से कार के कवर से वैसा ही किट तैयार करने को कहा। यह किट पूरी तरह सुरक्षित कोरोना से बचाव करने में सक्षम है। इसे धो कर बार-बार उपयोग में भी लाया जा सकता है।

डॉ. गीता ने बताया कि भागलपुर के दर्जी सौकत टेलर मास्टर को उन्होंने यू-ट्यूब पर सुरक्षा किट दिखाया। फिर टेलर से कार के कवर से वैसा ही किट तैयार करने को कहा। यह किट पूरी तरह सुरक्षित कोरोना से बचाव करने में सक्षम है। इसे धो कर बार-बार उपयोग में भी लाया जा सकता है।

डॉ. गीता रानी ने अपने इस किट की जानकारी ई-मेल के माध्‍यम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को भी दी है।  डॉक्टर ने लिखा है कि हम इस तरह से सस्ती और अच्छी किट तैयार कर सकते हैं।

डॉ. गीता रानी ने अपने इस किट की जानकारी ई-मेल के माध्‍यम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को भी दी है। डॉक्टर ने लिखा है कि हम इस तरह से सस्ती और अच्छी किट तैयार कर सकते हैं।

डॉक्टर ने लोगों से छाता के उपयोग का भी सुझाव दिया है। उनका कहना है कि अगर लॉकडाउन में लोग घरों में ही रहें। लेकिन किसी जरूरी काम से निकलना ही पड़े तो छाता लेकर निकलें। जिससे तीन मीटर की दूरी अपने आप हो जाएगी।

डॉक्टर ने लोगों से छाता के उपयोग का भी सुझाव दिया है। उनका कहना है कि अगर लॉकडाउन में लोग घरों में ही रहें। लेकिन किसी जरूरी काम से निकलना ही पड़े तो छाता लेकर निकलें। जिससे तीन मीटर की दूरी अपने आप हो जाएगी।

किट बनने के बाद लेडी डॉक्टर ने अपने चिकित्सक पति डॉ. सचिन कुमार के साथ मिलकर कार के कवर से खुद और अपने पति के लिए किट तैयार कराया और बाकायदा इसे पहन कर उन्‍होंने कोरोना के खिलाफ जंग में ड्यूटी भी की।

किट बनने के बाद लेडी डॉक्टर ने अपने चिकित्सक पति डॉ. सचिन कुमार के साथ मिलकर कार के कवर से खुद और अपने पति के लिए किट तैयार कराया और बाकायदा इसे पहन कर उन्‍होंने कोरोना के खिलाफ जंग में ड्यूटी भी की।

डॉक्टर ने लोगों से छाता के उपयोग का भी सुझाव दिया है। उनका कहना है कि अगर लॉकडाउन में लोग घरों में ही रहें। लेकिन किसी जरूरी काम से निकलना ही पड़े तो छाता लेकर निकलें। जिससे तीन मीटर की दूरी अपने आप हो जाएगी।

डॉक्टर ने लोगों से छाता के उपयोग का भी सुझाव दिया है। उनका कहना है कि अगर लॉकडाउन में लोग घरों में ही रहें। लेकिन किसी जरूरी काम से निकलना ही पड़े तो छाता लेकर निकलें। जिससे तीन मीटर की दूरी अपने आप हो जाएगी।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios