Asianet News Hindi

बेबसी..बीमार बेटे को ठेले पर लेकर अस्पताल पहुंची विधवा मां, एंबुलेंस किराए के भी नहीं बचे पैसे

First Published Apr 14, 2020, 6:33 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

जेतपुर (गुजरात). कोरोना के कहर में देश से कई दुखद तस्वीरें और दिल को झकझोर देने वाली खबरे सामने आ रही हैं। ऐसी ही एक घटना गुजरात से सामने आई है। जहां एक गरीब और विधवा मां अपने बीमार बेटे को ठेल पर लेकर अस्पताल पहुंची थी।
 

दरअसल, जेतपुर में रहने वाले एक मजदूरी करने वाले युवक का एक्सीडेंट हो गया। पीड़ित का दर्द इतना बढ़ गया कि उसको अस्पातल ले जाने की नौबत आ गई। लेकिन, घर में इतने रुपए नहीं थे कि उसके परिवार वाले एंबुलेंस का किराया दे सकें। ऐसे में युवक की मां अपने बेटे को एक ठेले पर लिटाकर हॉस्पिटल लेकर पहुंची।

दरअसल, जेतपुर में रहने वाले एक मजदूरी करने वाले युवक का एक्सीडेंट हो गया। पीड़ित का दर्द इतना बढ़ गया कि उसको अस्पातल ले जाने की नौबत आ गई। लेकिन, घर में इतने रुपए नहीं थे कि उसके परिवार वाले एंबुलेंस का किराया दे सकें। ऐसे में युवक की मां अपने बेटे को एक ठेले पर लिटाकर हॉस्पिटल लेकर पहुंची।

लॉकडाउन के चलते दिहाड़ी मजदूरी करके जीवन यापन करने वाले परिवारों का जीना मुश्किल हो गया। विधवा मां ने जब अस्पताल में लोगों को अपनी आपबीती बताई तो सुनने वालों की आंखों में आसूं आ गए।

लॉकडाउन के चलते दिहाड़ी मजदूरी करके जीवन यापन करने वाले परिवारों का जीना मुश्किल हो गया। विधवा मां ने जब अस्पताल में लोगों को अपनी आपबीती बताई तो सुनने वालों की आंखों में आसूं आ गए।

तेज धूप में अपने बेटे को ठेले पर लिटाकर जेतपुर से जूनागढ़ अस्पताल ले जाती हुई विधवा मां।

तेज धूप में अपने बेटे को ठेले पर लिटाकर जेतपुर से जूनागढ़ अस्पताल ले जाती हुई विधवा मां।

जब महिला ने 108 में फोन करके बुलया तो जवाब मिला-गाड़ी अभी कहीं गई है। 

जब महिला ने 108 में फोन करके बुलया तो जवाब मिला-गाड़ी अभी कहीं गई है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios