Asianet News Hindi

बंद कमरे में अंकल के संग थी मां, 5 साल के मासूम झांककर देख रहा था डर्टी पिक्चर

First Published Oct 7, 2020, 11:34 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

महेसाणा, गुजरात.  एक मासूम अपनी मां के विवोहेत्तर संबंधों (Extramarital affair) की बलि चढ़ गया। उसने मां और अंकल को बंद कमरे से झांककर आपत्तिजनक हालत में देख लिया था। बता दें कि जिले के जोटाना गांव में झाड़ियों में शनिवार रात 5 साल के बच्चे की लाश पड़ी मिली थी। पुलिस की पड़ताल के बाद इस मामले में बच्चे की मां के प्रेमी को गिरफ्तार किया गया है। इस मामले में बच्चे की मां की भूमिका भी संदिग्ध मानी जा रही है, लेकिन उसके खिलाफ कोई ठोस सबूत नहीं मिल सका है। आरोपी ने कबूला कि बच्चे ने उसे अपनी मां के साथ आपत्तिजनक हालत में देख लिया था। इसी डर से हत्या कर दी। बच्चे की पहचान मेमदपुर के जगदीश ललित ठाकोर (5) के रूप में हुई थी। आगे पढ़ें इसी घटना के बारे में...

बच्चा शनिवार सुबह से गायब था। आरोपी ठाकोर संजय गोपाल ने बताया कि उसने बच्चे का गला दबाकर मार दिया था। फिर लाश को झाड़ियों में फेंक दी। आरोपी को डर था कि बच्चा उसके संबंधों के बारे में सबको बता देगा। आगे पढ़ें-पत्नी की स्कूल टाइम की लवस्टोरी में 9 साल बाद आया ट्वीस्ट, पति समझता रहा कि वो प्रेमी को भूल गई होगी

बच्चा शनिवार सुबह से गायब था। आरोपी ठाकोर संजय गोपाल ने बताया कि उसने बच्चे का गला दबाकर मार दिया था। फिर लाश को झाड़ियों में फेंक दी। आरोपी को डर था कि बच्चा उसके संबंधों के बारे में सबको बता देगा। आगे पढ़ें-पत्नी की स्कूल टाइम की लवस्टोरी में 9 साल बाद आया ट्वीस्ट, पति समझता रहा कि वो प्रेमी को भूल गई होगी

गुड़गांव, हरियाणा. यह मामला रधाना निवासी और यहां सेक्टर-5 में रहने वाले सुरेश नामक व्यक्ति की हत्या से जुड़ा है। सुरेश 5 महीने पहले लापता हो गया था। पिछले महीने इस हत्याकांड का खुलासा हुआ था। एक महिला ने अपने पहले प्यार सुखबीर के हाथों पति की हत्या करवा दी थी। पुलिस ने जब डूमरखां निवासी सुखबीर को पकड़ा, तो उसने सारी कहानी बयां कर दी। आरोपी ढाबा चलाता है। उसने सुरेश की लाश ढाबे के आंगन में गाड़ दी थी। सुनीता नामक महिला ने भिवानी के गांव बड़ेसरा के एक व्यक्ति की अपने पति से हत्या कर करवा दी थी। इसके बाद पति जेल चला गया। इस दौरान सुनीता अपने पहले प्यार सुखबीर के संपर्क में आ गई। 6-7 महीने पहले जब पति जेल से छूटकर आया, तो उसे सुनीता और सुखबीर के संबंधों के बारे में पता चला। उसने सुनीता को समझाया। लेकिन उसे जान गंवानी पड़ी। आगे पढ़ें इसी अवैध संबंधों की कहानी..

गुड़गांव, हरियाणा. यह मामला रधाना निवासी और यहां सेक्टर-5 में रहने वाले सुरेश नामक व्यक्ति की हत्या से जुड़ा है। सुरेश 5 महीने पहले लापता हो गया था। पिछले महीने इस हत्याकांड का खुलासा हुआ था। एक महिला ने अपने पहले प्यार सुखबीर के हाथों पति की हत्या करवा दी थी। पुलिस ने जब डूमरखां निवासी सुखबीर को पकड़ा, तो उसने सारी कहानी बयां कर दी। आरोपी ढाबा चलाता है। उसने सुरेश की लाश ढाबे के आंगन में गाड़ दी थी। सुनीता नामक महिला ने भिवानी के गांव बड़ेसरा के एक व्यक्ति की अपने पति से हत्या कर करवा दी थी। इसके बाद पति जेल चला गया। इस दौरान सुनीता अपने पहले प्यार सुखबीर के संपर्क में आ गई। 6-7 महीने पहले जब पति जेल से छूटकर आया, तो उसे सुनीता और सुखबीर के संबंधों के बारे में पता चला। उसने सुनीता को समझाया। लेकिन उसे जान गंवानी पड़ी। आगे पढ़ें इसी अवैध संबंधों की कहानी..

सुरेश की हत्या के बाद सुखवीर ने सुनीता को कॉल करके कहा था कि कर दिया आपका काम। इस पर सुनीता ने जवाब दिया था कि सही किया। सेक्टर-5, गुरुग्राम के थाना आगे पढ़ें इसी अवैध संबंधों की कहानी..
 

सुरेश की हत्या के बाद सुखवीर ने सुनीता को कॉल करके कहा था कि कर दिया आपका काम। इस पर सुनीता ने जवाब दिया था कि सही किया। सेक्टर-5, गुरुग्राम के थाना आगे पढ़ें इसी अवैध संबंधों की कहानी..
 

सुनीता ने बताया कि 9 साल पहले सुखबीर और वो स्कूल पढ़ने जाते थे। उसी समय दोनों के बीच प्रेम संबंध बन गए थे। सुखबीर नरवाड़ा पढ़ने जाता था, जबकि सुनीता बड़ेसरा गांव से खरल गुरुकुल। दोनों की मुलाकात डुमरखां बस अड्ड पर होती थी।  आगे पढ़ें इसी अवैध संबंधों की कहानी..

सुनीता ने बताया कि 9 साल पहले सुखबीर और वो स्कूल पढ़ने जाते थे। उसी समय दोनों के बीच प्रेम संबंध बन गए थे। सुखबीर नरवाड़ा पढ़ने जाता था, जबकि सुनीता बड़ेसरा गांव से खरल गुरुकुल। दोनों की मुलाकात डुमरखां बस अड्ड पर होती थी।  आगे पढ़ें इसी अवैध संबंधों की कहानी..

सुरेश के जेल जाने के बाद सुखबीर और सुनीता दुबारा मिलने लगे। लेकिन जब सुरेश को इसका पता चला, तो उसे रास्ते से हटाने का प्लान बनाया गया। सुखबीर ने सुरेश को अपने ढाबे पर बुलाया था। यहां दोनों ने शराब पी। जब सुरेश बेहोश हो गया, तो सुखबीर ने उसे गोली मार दी। आगे पढ़ें इसी अवैध संबंधों की कहानी..

 

सुरेश के जेल जाने के बाद सुखबीर और सुनीता दुबारा मिलने लगे। लेकिन जब सुरेश को इसका पता चला, तो उसे रास्ते से हटाने का प्लान बनाया गया। सुखबीर ने सुरेश को अपने ढाबे पर बुलाया था। यहां दोनों ने शराब पी। जब सुरेश बेहोश हो गया, तो सुखबीर ने उसे गोली मार दी। आगे पढ़ें इसी अवैध संबंधों की कहानी..

 

लंबे समय तक अपने बेटे से संपर्क नहीं होने पर सुरेश के पिता रधाना निवासी राममेहर ने एक सितंबर को गुड़गांव सेक्टर-5 पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी। सुनीता ने पुलिस को बयान दिया था कि सुरेश उससे लड़-झगड़कर कहीं चला गया है। आगे पढ़ें इसी अवैध संबंधों की कहानी..
 

लंबे समय तक अपने बेटे से संपर्क नहीं होने पर सुरेश के पिता रधाना निवासी राममेहर ने एक सितंबर को गुड़गांव सेक्टर-5 पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी। सुनीता ने पुलिस को बयान दिया था कि सुरेश उससे लड़-झगड़कर कहीं चला गया है। आगे पढ़ें इसी अवैध संबंधों की कहानी..
 

पुलिस की जांच में सामने आया है कि 12 अप्रैल को सुरेश और उसकी पत्नी में झगड़ा हुआ था। उसे सुनीता और सुखवीर के अफेयर के बारें में पता चल गया था। यह बात सुनीता ने फोन पर सुखवीर को बताई थी। आगे पढ़ें इसी अवैध संबंधों की कहानी..
 

पुलिस की जांच में सामने आया है कि 12 अप्रैल को सुरेश और उसकी पत्नी में झगड़ा हुआ था। उसे सुनीता और सुखवीर के अफेयर के बारें में पता चल गया था। यह बात सुनीता ने फोन पर सुखवीर को बताई थी। आगे पढ़ें इसी अवैध संबंधों की कहानी..
 

सुनीता ने सुखवीर को उकसाया था कि सुरेश पहले ही एक मर्डर कर चुका है, अगर उसे नहीं रोका गया, तो वो तुम्हें भी नहीं छोड़ेगा। यह सुनकर सुखवीर ने सुरेश की हत्या करने की ठान ली।

सुनीता ने सुखवीर को उकसाया था कि सुरेश पहले ही एक मर्डर कर चुका है, अगर उसे नहीं रोका गया, तो वो तुम्हें भी नहीं छोड़ेगा। यह सुनकर सुखवीर ने सुरेश की हत्या करने की ठान ली।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios