Asianet News Hindi

भारत की बहादुर बेटियां: इजरायली सेना में ऑफिसर बनीं ये 2 बहनें, एक यूनिट हैड तो दूसरी स्पेशल कमांड़ो

First Published May 31, 2021, 4:40 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

जूनागढ़ (गुजरात). भारत की बेटियां आज हर फील्ड में अपनी सफलता का परचम लहरा रही हैं। वह हर क्षेत्र में पुरुषों से कंधा से कंधा मिला कर काम कर रही हैं। बता चाहे फिर देश की सीमा पर सुरक्षा की हो या फिर लड़कू विमान उड़ाने की। चांद पर जाने से लेकर जमीन तक पर अपने जौहर का कमाल दिखा रही हैं। ऐसा ही कुछ कर दिखाया है गुजरात जूनागढ़ की रहने वाली दो सगी बहनों ने जो इस वक्त इजरायल की सेना में शामिल हुई हैं। आइए जानते हैं इन बेटियों की कामयाबी की कहानी...
 

दरअसल, इन दो बहनों के नाम निश और रिया है। इसमें एक बहन निशा सेना में यूनिट हेड है जबकि रिया अभी कमांडों ट्रेनिंग ले रही है। उसे  ट्रेनिंग पूरी होने के बाद अपनी बहन की तरह इजरायल की सेना में पोस्टिंग मिलेगी। इस तरह यह दो बेटियां दुनिया की सबसे ताकतवर इजरायली सेना में शामिल होकर अपने साथ-साथ देश का नाम ऊंचा कर रही हैं
 

दरअसल, इन दो बहनों के नाम निश और रिया है। इसमें एक बहन निशा सेना में यूनिट हेड है जबकि रिया अभी कमांडों ट्रेनिंग ले रही है। उसे  ट्रेनिंग पूरी होने के बाद अपनी बहन की तरह इजरायल की सेना में पोस्टिंग मिलेगी। इस तरह यह दो बेटियां दुनिया की सबसे ताकतवर इजरायली सेना में शामिल होकर अपने साथ-साथ देश का नाम ऊंचा कर रही हैं
 

बता दें कि दोनों बहनों का परिवार मूल रुप से जूनागढ़ जिले के माणावदर तहसील के कोठडी गांव का रहने वाला है। उनके पिता-चाचा जीवाभाई मुलियासिया और उनके भाई सवदासभाई मुलियासिया इजराइल कुछ सालों पहले नौकरी करने के लिए गए हुए थे। अब उनका परिवार यहां के तेल अवीव में बस गया है। अब दोनों यहां एक किराने की दुकान चलाते हैं। उनके आसपास कई गुजराती परिवार रहते हैं।

बता दें कि दोनों बहनों का परिवार मूल रुप से जूनागढ़ जिले के माणावदर तहसील के कोठडी गांव का रहने वाला है। उनके पिता-चाचा जीवाभाई मुलियासिया और उनके भाई सवदासभाई मुलियासिया इजराइल कुछ सालों पहले नौकरी करने के लिए गए हुए थे। अब उनका परिवार यहां के तेल अवीव में बस गया है। अब दोनों यहां एक किराने की दुकान चलाते हैं। उनके आसपास कई गुजराती परिवार रहते हैं।

निशा मुलियासिया इजरायल की सेना में शामिल होने वाली पहली गुजराती महिला बन गई हैं। वह इजरायली सेना के डिपॉर्टमेंट ऑफ कम्युनिकेशन एंड साइबर सिक्योरिटी विभाग में तैनात हैं।
 

निशा मुलियासिया इजरायल की सेना में शामिल होने वाली पहली गुजराती महिला बन गई हैं। वह इजरायली सेना के डिपॉर्टमेंट ऑफ कम्युनिकेशन एंड साइबर सिक्योरिटी विभाग में तैनात हैं।
 

वहीं रिया मुलियासिया 12वीं के बाद सेना में शामिल हुई है। अभी वे सेना की प्री-सर्विस में हैं। तीन महीने के ट्रेनिंग के बाद उन्हें सेना के कुछ और टेस्ट देने हैं। इसके बाद उन्हें सेना में स्थाई पोस्टिंग मिल जाएगी।

वहीं रिया मुलियासिया 12वीं के बाद सेना में शामिल हुई है। अभी वे सेना की प्री-सर्विस में हैं। तीन महीने के ट्रेनिंग के बाद उन्हें सेना के कुछ और टेस्ट देने हैं। इसके बाद उन्हें सेना में स्थाई पोस्टिंग मिल जाएगी।

इजराइल और फिलस्तीन संगठन हमास के बीच 10 मई से शुरू हुई सैन्य झड़प 21 मई को खत्म हो गई। इस दौरान  इजराइल सेना की बेटियों ने बखूबी जिम्मदारी संभाली और हमास पर रॉकेट से हमला कर कई ठिकानों को तबाह कर दिया।

इजराइल और फिलस्तीन संगठन हमास के बीच 10 मई से शुरू हुई सैन्य झड़प 21 मई को खत्म हो गई। इस दौरान  इजराइल सेना की बेटियों ने बखूबी जिम्मदारी संभाली और हमास पर रॉकेट से हमला कर कई ठिकानों को तबाह कर दिया।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios