पति-पत्नी और वो: पति को टिफिन देने जाती थी महिला, एक दिन 'भटक' गई रास्ता

First Published 16, Sep 2020, 11:59 AM

नवसारी, गुजरात. अपराधी कितना भी शातिर हो, कानून के हाथों से बच नहीं पाता। 6 महीने पहले नवसारी जिले के बामणवाड़ा गांव के उप सरपंच नीलेश पटेल की क्राइम पेट्रोल क्राइम (Crime Petrol) शो की तर्ज पर हत्या कर दी गई थी। उसकी लाश खेत में पड़ी मिली थी। इस हत्याकांड का अब पुलिस ने खुलासा कर दिया है। यह साजिश मृतक की प्रेमिका और उसके पति ने मिलकर रची थी। महिला का पति किसी डेयरी में काम करता था। जब वो उसे टिफिन देने जाती थी, इसी दौरान रास्ते में उसकी मुलाकात नीलेश से हो गई। दोनों में अवैध संबंध (Extramarital affair) बन गए। इसकी जानकारी जब महिला के पति को मालूम हुई, तो रोने लगी। महिला ने कहा कि वो बहक गई थी। इसके बाद दम्पती ने नीलेश की हत्या का प्लान बनाया। इसमें अपने साथी भी शामिल कर लिए। आगे पढ़िए इसी कहानी के बारे में...

<p>नवसारी पुलिस थाने के पीआई केएच पुवार के मुताबिक, आरोपी महिला धर्मिष्ठा और नीलेश के अवैध संबंधों की जानकारी पति चिन्मय पटेल को पता चल गई थी। धर्मिष्ठा ने माफी मांगकर प्रेमी को ही रास्ते से हटाने की साजिश रच दी। <strong>आगे पढ़ें इसी खबर में के बारे में...</strong><br />
&nbsp;</p>

नवसारी पुलिस थाने के पीआई केएच पुवार के मुताबिक, आरोपी महिला धर्मिष्ठा और नीलेश के अवैध संबंधों की जानकारी पति चिन्मय पटेल को पता चल गई थी। धर्मिष्ठा ने माफी मांगकर प्रेमी को ही रास्ते से हटाने की साजिश रच दी। आगे पढ़ें इसी खबर में के बारे में...
 

<p>चिन्मय &nbsp;और धर्मिष्ठा ने क्राइम पेट्रोल की तर्ज पर नीलेश को हटाने की साजिश रची थी। धर्मिष्ठा ने ही नीलेश को मिलने बुलाया था। ऐसी जगह उसे बुलाया गया, जहां CCTV नहीं थे। हत्या के दौरान फिंकर प्रिंट न रह जाएं, इसलिए सेलो टेप चिपका लिया था। <strong>आगे पढ़ें इसी खबर के बारे में...</strong></p>

चिन्मय  और धर्मिष्ठा ने क्राइम पेट्रोल की तर्ज पर नीलेश को हटाने की साजिश रची थी। धर्मिष्ठा ने ही नीलेश को मिलने बुलाया था। ऐसी जगह उसे बुलाया गया, जहां CCTV नहीं थे। हत्या के दौरान फिंकर प्रिंट न रह जाएं, इसलिए सेलो टेप चिपका लिया था। आगे पढ़ें इसी खबर के बारे में...

<p>चिन्मय ने इस हत्याकांड में दो अन्य साथी तैयार कर लिए थे। सबने नीलेश की रॉड-डंडों से पीट-पीटकर हत्या कर दी थी। फिर लाश को खेत में फेंककर चले गए थे। <strong>आगे पढ़ें इसी खबर के बारे में...</strong></p>

चिन्मय ने इस हत्याकांड में दो अन्य साथी तैयार कर लिए थे। सबने नीलेश की रॉड-डंडों से पीट-पीटकर हत्या कर दी थी। फिर लाश को खेत में फेंककर चले गए थे। आगे पढ़ें इसी खबर के बारे में...

<p>आरोपियों ने हथियार नदी में फेंक दिए थे। लेकिन पुलिस ने कॉल डिटेल और अन्य सबूतों के आधार पर छह महीने बाद इस हत्याकांड का खुलासा कर दिया।</p>

<p><strong>आगे पढ़ें...पत्नी जब नहीं भूली अपना पहला प्यार, पति ने चली एक चाल और फिर सामने आई चौंकाने वाली घटना</strong></p>

आरोपियों ने हथियार नदी में फेंक दिए थे। लेकिन पुलिस ने कॉल डिटेल और अन्य सबूतों के आधार पर छह महीने बाद इस हत्याकांड का खुलासा कर दिया।

आगे पढ़ें...पत्नी जब नहीं भूली अपना पहला प्यार, पति ने चली एक चाल और फिर सामने आई चौंकाने वाली घटना

<p><strong>पुणे, महाराष्ट्र. </strong>विवाहेत्तर संबंध के चलते एक शख्स को अपनी जान गंवानी पड़ी। प्रेमिका के पति ने अपने साथियों के साथ मिलकर उसे दर्दनाक मौत दी। मामला पिंपरी चिंचवाड़ा के सांगवी इलाके का है। पुलिस ने इस हत्याकांड में प्रेमिका के पति और उसके एक दोस्त को गिरफ्तार कर लिया है। 4 आरोपी अभी फरार हैं। इस मामले की जांच क्राइम ब्रांच कर रही है। 25 वर्षीय अयाज की पत्नी शादी के बाद भी अपने प्रेमी सौरभ व्यंकट जाधव(28) के संपर्क में थी। इसकी भनक अयाज को हो चुकी थी। यह बात उसने अपने दोस्तों को बताई। सबने व्यंकट को मारने की साजिश रची। इसके बाद उसका अपहरण करके चाकुओं से गोंद दिया। पुलिस ने अयाज और उसके साथी विजय लोढ़े(19) को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं, सोन्या बाराथे और तीन अन्य लोग अभी फरार हैं। <strong>आगे पढ़िए इसी सनसनीखेज कहानी के बारे में...</strong><br />
&nbsp;</p>

पुणे, महाराष्ट्र. विवाहेत्तर संबंध के चलते एक शख्स को अपनी जान गंवानी पड़ी। प्रेमिका के पति ने अपने साथियों के साथ मिलकर उसे दर्दनाक मौत दी। मामला पिंपरी चिंचवाड़ा के सांगवी इलाके का है। पुलिस ने इस हत्याकांड में प्रेमिका के पति और उसके एक दोस्त को गिरफ्तार कर लिया है। 4 आरोपी अभी फरार हैं। इस मामले की जांच क्राइम ब्रांच कर रही है। 25 वर्षीय अयाज की पत्नी शादी के बाद भी अपने प्रेमी सौरभ व्यंकट जाधव(28) के संपर्क में थी। इसकी भनक अयाज को हो चुकी थी। यह बात उसने अपने दोस्तों को बताई। सबने व्यंकट को मारने की साजिश रची। इसके बाद उसका अपहरण करके चाकुओं से गोंद दिया। पुलिस ने अयाज और उसके साथी विजय लोढ़े(19) को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं, सोन्या बाराथे और तीन अन्य लोग अभी फरार हैं। आगे पढ़िए इसी सनसनीखेज कहानी के बारे में...
 

<p>पुलिस इंस्पेक्टर मोहन शिंदे ने बताया कि अयाज की पत्नी और सौरभ बहुत पहले से एक-दूसरे को जानते थे। शादी के बाद भी सौरभ और अयाज की पत्नी मोबाइल पर संपर्क में थे। इसकी भनक अयाज को लग चुकी थी। उसने कई बार पत्नी को समझाया, लेकिन वो नहीं मानी। इसके बाद अयाज ने सौरभ की हत्या की कहानी रची।&nbsp; आरोपियों ने सौरभ का अपहरण किया था। उसकी लाश शुक्रवार को औंध इलाके में झाड़ियों में पड़ी मिली थी। पुलिस ने जब सौरभ का फोन ट्रेस किया, तो अयाज की पत्नी का नाम सामने आया। दोनों की कॉल डिटेल निकालने पर मामला प्रेम प्रसंग का निकला।</p>

<p>&nbsp;</p>

पुलिस इंस्पेक्टर मोहन शिंदे ने बताया कि अयाज की पत्नी और सौरभ बहुत पहले से एक-दूसरे को जानते थे। शादी के बाद भी सौरभ और अयाज की पत्नी मोबाइल पर संपर्क में थे। इसकी भनक अयाज को लग चुकी थी। उसने कई बार पत्नी को समझाया, लेकिन वो नहीं मानी। इसके बाद अयाज ने सौरभ की हत्या की कहानी रची।  आरोपियों ने सौरभ का अपहरण किया था। उसकी लाश शुक्रवार को औंध इलाके में झाड़ियों में पड़ी मिली थी। पुलिस ने जब सौरभ का फोन ट्रेस किया, तो अयाज की पत्नी का नाम सामने आया। दोनों की कॉल डिटेल निकालने पर मामला प्रेम प्रसंग का निकला।

 

loader