Asianet News Hindi

ढाई साल की मासूम ने कमरे को किया गंदा, तो सौतेली मां का चढ़ गया पारा और पेट पर दे मारी लात

First Published Oct 9, 2020, 2:26 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पाटण, गुजरात. पिता ने ढाई साल की मासूम को उसकी मां से अलग किया। वो गुमसुम रहने लगी थी। इस बीच सौतेली मां ने गुस्से में आकर उसके पेट में ऐसी लात मारी कि फिर वो उठ न सकी। दिल दहलाने वाली यह घटना 6 महीने पहले हुई थी। लेकिन सौतेली मां (Step mother) के खिलाफ कोई सबूत नहीं थे। पुलिस लगातार जांच करती रही और अब जाकर आरोपी महिला के खिलाफ FIR दर्ज की जा सकी है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बच्ची की मौत की वजह सामने आई। पुलिस के अनुसार, अंबलेश्वर सोसायटी में रहने वाले महेश सोलंकी ने 12 साल पहले जयाबेन से शादी की थी। पहली पत्नी से उसकी तीन बेटियां हैं। पिछले साल उसने गुपचुप तरीके से कौशलबेन से दूसरी शादी (Second marriage) कर ली। जब इस बारे में जयाबेन को पता चला, तो विवाद हुआ। इस पर महेश ने तीनों को अपने पास रखकर जयाबेन को घर से निकाल दिया। बताते हैं कि 6 महीने पहले ढाई साल की हेनील ने कमरे में पोट्टी कर दी थी। इस बात पर कौशलबेन को इतना गुस्सा आया कि उसने बच्ची के पेट में लात मार दी। लात मारने से हेनील दूर जाकर जमीन से टकरा गई। उसका सिर फट गया और मौत हो गई। आगे पढ़ें इसी शॉकिंग घटना के बारे में...

अपनी बेटी की मौत की खबर सुनकर जयाबेन (सगी मां) का कलेजा फट पड़ा। इसके बाद वो लड़-झगड़कर अपनी दोनों बेटियों को अपने साथ ले गई और पुलिस में हेनील की हत्या का मामला दर्ज कराया। आगे पढ़ें इसी घटना के बारे में..
 

अपनी बेटी की मौत की खबर सुनकर जयाबेन (सगी मां) का कलेजा फट पड़ा। इसके बाद वो लड़-झगड़कर अपनी दोनों बेटियों को अपने साथ ले गई और पुलिस में हेनील की हत्या का मामला दर्ज कराया। आगे पढ़ें इसी घटना के बारे में..
 

हालांकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में साबित हो गया था कि बच्ची की मौत सिर में चोट लगने से हुई थी। लेकिन ऐसे कोई सबूत नहीं थे, जिससे सौतेली मां का जुर्म साबित किया जा सके। अब पुलिस की जांच में यह साबित हो गया। आगे पढ़ें-2 माओं और 2 पिताओं में पिस गया 5 साल का मासूम, पढ़िये क्या गुजरी उसकी दिल पर

हालांकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में साबित हो गया था कि बच्ची की मौत सिर में चोट लगने से हुई थी। लेकिन ऐसे कोई सबूत नहीं थे, जिससे सौतेली मां का जुर्म साबित किया जा सके। अब पुलिस की जांच में यह साबित हो गया। आगे पढ़ें-2 माओं और 2 पिताओं में पिस गया 5 साल का मासूम, पढ़िये क्या गुजरी उसकी दिल पर

फरीदाबाद, हरियाणा. दिल दहलाने वाली यह कहानी (Shocking story) एक ऐसे 5 साल के बच्चे की है, जिसे उसकी सौतेली ही नहीं, सगी मां भी टॉर्चर कर रही थी। सौतेला पिता उसे बेल्ट से पीटता था। उसके बदन पर बीड़ी दागता था। बच्चे की मां और पिता दोनों ने दूसरी शादी कर ली थी। यानी बच्चा कभी सगी मां और सौतेले पिता के साथ रहता, तो कभी सगे पिता और सौतेली मां के साथ। हैरानी की बात यह है कि बच्चे को टॉचर्र (torture) करने में सौतेली और सगी दोनों मांएं पीछे नहीं रहीं। मामला बल्लभगढ़ के आदर्श नगर थाने का है। घायल बच्च का इलाज कराया जा रहा है। बच्चे के सगे नाना ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी। पुलिस ने बच्चे के सौतेले पिता और सगी मां को गिरफ्तार कर लिया है। बच्चे के नाना ने पुलिस को बताया कि अभी बच्चा अपनी सगी मां और सौतेले पिता के साथ रह रहा था। आरोप है कि मां ने बीड़ी से उसके बदन पर कई जगह दाग बनाए। आगे पढ़ें इसी घटना के बारे में...

फरीदाबाद, हरियाणा. दिल दहलाने वाली यह कहानी (Shocking story) एक ऐसे 5 साल के बच्चे की है, जिसे उसकी सौतेली ही नहीं, सगी मां भी टॉर्चर कर रही थी। सौतेला पिता उसे बेल्ट से पीटता था। उसके बदन पर बीड़ी दागता था। बच्चे की मां और पिता दोनों ने दूसरी शादी कर ली थी। यानी बच्चा कभी सगी मां और सौतेले पिता के साथ रहता, तो कभी सगे पिता और सौतेली मां के साथ। हैरानी की बात यह है कि बच्चे को टॉचर्र (torture) करने में सौतेली और सगी दोनों मांएं पीछे नहीं रहीं। मामला बल्लभगढ़ के आदर्श नगर थाने का है। घायल बच्च का इलाज कराया जा रहा है। बच्चे के सगे नाना ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी। पुलिस ने बच्चे के सौतेले पिता और सगी मां को गिरफ्तार कर लिया है। बच्चे के नाना ने पुलिस को बताया कि अभी बच्चा अपनी सगी मां और सौतेले पिता के साथ रह रहा था। आरोप है कि मां ने बीड़ी से उसके बदन पर कई जगह दाग बनाए। आगे पढ़ें इसी घटना के बारे में...

बच्चे के सौतेले पिता पर भी उसे बेल्ट से पीटने का आरोप है। बच्चे के टॉर्चर की कहानी सुनकर हर कोई हैरान है। आगे पढ़ें इसी खबर के बारे में...

बच्चे के सौतेले पिता पर भी उसे बेल्ट से पीटने का आरोप है। बच्चे के टॉर्चर की कहानी सुनकर हर कोई हैरान है। आगे पढ़ें इसी खबर के बारे में...

दूसरे पति की चाहत में सगी मां यह भी भूल गई कि उस मासूम को उसने अपनी कोख से जन्मा है। आगे पढ़ें-आधा घंटे दुकान के बाहर बैठी रही मासूम, जब दूध नहीं मिला..तो डरके मारे घर ही नहीं लौटी

दूसरे पति की चाहत में सगी मां यह भी भूल गई कि उस मासूम को उसने अपनी कोख से जन्मा है। आगे पढ़ें-आधा घंटे दुकान के बाहर बैठी रही मासूम, जब दूध नहीं मिला..तो डरके मारे घर ही नहीं लौटी

जोधपुर, राजस्थान. मां-बाप अपने बच्चों के लिए निर्दयी कैसे हो सकते हैं? उनके साये में बच्चे महफूज होने के बजाय खौफ कैसे खा सकते हैं? इस बच्ची को लेकर यह सवाल उठता है। एसीपी नीरज शर्मा ने बताया कि जाकिर हुसैन कॉलोनी निवासी मोहम्मद नौशाद की बेटी तनु सुबह 11 बजे समीप की दुकान पर दूध लेने गई थी। उसके बाद घर नहीं लौटी थी। मामला सामने आने पर पुलिस सक्रिय हो गई थी। सीसीटीवी कैमरे देखे गए। कई लोगों से पूछताछ की। बाद में बच्ची दुकान के समीप एक बाथरूम में छुपी मिली। तनु ने बताया कि वो दुकान के बाहर आधा घंटे बैठी रही। लेकिन जब दूध नहीं मिला, तो घरवालों के डर से छुप गई थी। आगे पढ़ें-जल्लाद मां-बाप के खौफ से पागलों की तरह सड़क पर दौड़ती रही मासूम, उसे ढूंढने पुलिस ने कर दिया जमीं-आसमां एक
 

जोधपुर, राजस्थान. मां-बाप अपने बच्चों के लिए निर्दयी कैसे हो सकते हैं? उनके साये में बच्चे महफूज होने के बजाय खौफ कैसे खा सकते हैं? इस बच्ची को लेकर यह सवाल उठता है। एसीपी नीरज शर्मा ने बताया कि जाकिर हुसैन कॉलोनी निवासी मोहम्मद नौशाद की बेटी तनु सुबह 11 बजे समीप की दुकान पर दूध लेने गई थी। उसके बाद घर नहीं लौटी थी। मामला सामने आने पर पुलिस सक्रिय हो गई थी। सीसीटीवी कैमरे देखे गए। कई लोगों से पूछताछ की। बाद में बच्ची दुकान के समीप एक बाथरूम में छुपी मिली। तनु ने बताया कि वो दुकान के बाहर आधा घंटे बैठी रही। लेकिन जब दूध नहीं मिला, तो घरवालों के डर से छुप गई थी। आगे पढ़ें-जल्लाद मां-बाप के खौफ से पागलों की तरह सड़क पर दौड़ती रही मासूम, उसे ढूंढने पुलिस ने कर दिया जमीं-आसमां एक
 

सूरत, गुजरात.  पिता और सौतेली मां की क्रूरता से डरकर एक 7 साल की बच्ची ऐसी घर से भागी कि वो 10 घंटे तक बदहवास सड़कों पर दौड़ती रही। यह बच्ची पांडेसरा के जलरामनगर से लापता हुई थी। उसे 10 घंटे बाद पुलिस ने परवत पाटिया इलाके से ढूंढ लिया। बच्ची ने बताया कि उसके मां-बाप हाथ-पैर बांधकर मारते थे। अब वो उनके साथ नहीं रहना चाहती। पुलिस ने पिता और सौतेली मां के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।
 

सूरत, गुजरात.  पिता और सौतेली मां की क्रूरता से डरकर एक 7 साल की बच्ची ऐसी घर से भागी कि वो 10 घंटे तक बदहवास सड़कों पर दौड़ती रही। यह बच्ची पांडेसरा के जलरामनगर से लापता हुई थी। उसे 10 घंटे बाद पुलिस ने परवत पाटिया इलाके से ढूंढ लिया। बच्ची ने बताया कि उसके मां-बाप हाथ-पैर बांधकर मारते थे। अब वो उनके साथ नहीं रहना चाहती। पुलिस ने पिता और सौतेली मां के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios