ये कोई एलियन नहीं है, बल्कि कोरोना ने लोगों की लाइफस्टाइल बदल दी है, इसे कहते हैं सुरक्षा के साथ फैशन

First Published 1, Jun 2020, 10:27 AM

सूरत, गुजरात. कोरोना संक्रमण को रोकने और बीमार लोगों का इलाज करने वाले फ्रंट लाइन वॉरियर्स यानी की डॉक्टरों के लिए यहां एक अनूठा और फैशन के अनुकूल पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्विपमेंट(पीपीई) किट डिजाइन किया गया है। इसे साड़ी या सलवार सूट किसी पर भी पहना जा सकता है। यह दिखने में भी स्टाइलिश है और आसानी से पहना भी जा सकता है। इसे दुनिया का पहला ऐसा पीपीई किट कहा जा रहा है, जिसमें तमाम खूबियां हैं। इसे नारी कवच कोविड-19 नाम दिया गया है। इसे डिजाइन किया है सूरत के जाने-माने डिजाइनर सौरव मंडल ने। ये फैशन डिजाइन विकास केंद्र फैशननोवा से जुड़े हैं। उनके मुताबिक यह आत्मनिर्भर भारत अभियान का हिस्सा है। वे बताते हैं कि इस किट को मेडिकल लैब सिट्रा ने मंजूरी दे दी है। जानें इसकी खूबियां...

<p>आमतौर पर सामान्य पीपीई किट को एक बार पहनो, तो फिर 6-8 घंटे तक आप टॉयलेट नहीं जा पाते। लेकिन इसके साथ ऐसा नहीं है। इसे आसानी से पहना और उतारा जा सकता है। फैशननोवा के निदेशक अनुपम गोयल कहते हैं कि सामान्य किट को एक बार उतारा, तो उसे दुबारा उपयोग नहीं कर पाते, लेकिन इस किट को कर सकते हैं। इस किट को पुरुष भी पहन सकते हैं। </p>

आमतौर पर सामान्य पीपीई किट को एक बार पहनो, तो फिर 6-8 घंटे तक आप टॉयलेट नहीं जा पाते। लेकिन इसके साथ ऐसा नहीं है। इसे आसानी से पहना और उतारा जा सकता है। फैशननोवा के निदेशक अनुपम गोयल कहते हैं कि सामान्य किट को एक बार उतारा, तो उसे दुबारा उपयोग नहीं कर पाते, लेकिन इस किट को कर सकते हैं। इस किट को पुरुष भी पहन सकते हैं। 

<p>बता दें कि मोदी भी मन की बात में सूरत के फैशननोवा इंस्टीट्यूट की इस पहल को सराहा था। वहीं, कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी ने इस प्रयास की सराहना करते हुए ट्वीट किया था। इस किट की अभी कीमत 1200 रुपए है। लेकिन कहा जा रहा है  जैसे-जैसे इसकी डिमांड बढ़ेगी और प्रोडक्शन बढ़ेगा, तो इसकी कीमत आधी से भी कम हो जाएगी। <strong>आगे देखिए फैशन में आए मास्क और किट..</strong></p>

बता दें कि मोदी भी मन की बात में सूरत के फैशननोवा इंस्टीट्यूट की इस पहल को सराहा था। वहीं, कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी ने इस प्रयास की सराहना करते हुए ट्वीट किया था। इस किट की अभी कीमत 1200 रुपए है। लेकिन कहा जा रहा है  जैसे-जैसे इसकी डिमांड बढ़ेगी और प्रोडक्शन बढ़ेगा, तो इसकी कीमत आधी से भी कम हो जाएगी। आगे देखिए फैशन में आए मास्क और किट..

<p>यह तस्वीर असम की है। दुल्हनों के लिए इस तरह डिजानर मॉस्क तैयार किए जाने लगे हैं।</p>

यह तस्वीर असम की है। दुल्हनों के लिए इस तरह डिजानर मॉस्क तैयार किए जाने लगे हैं।

<p>इस तरह के फनी मास्क भी प्रचलन में आ गए हैं।</p>

इस तरह के फनी मास्क भी प्रचलन में आ गए हैं।

<p>यह तस्वीर कोच्चि की है। कोरोना के चलते मॉस्क का भी एक अच्छा-खासा बिजनेस खड़ा हो गया है।</p>

यह तस्वीर कोच्चि की है। कोरोना के चलते मॉस्क का भी एक अच्छा-खासा बिजनेस खड़ा हो गया है।

<p>कोलकाता में साइकिल पर पीपीई किट पहनकर मॉस्क बेचने निकला एक शख्स।</p>

कोलकाता में साइकिल पर पीपीई किट पहनकर मॉस्क बेचने निकला एक शख्स।

<p>यह तस्वीर मुंबई की है। मॉस्क भी अब कलरफुल और स्टाइलिश बनाए जाने लगे हैं।</p>

यह तस्वीर मुंबई की है। मॉस्क भी अब कलरफुल और स्टाइलिश बनाए जाने लगे हैं।

<p>यह तस्वीर अमेरिका के न्यूयॉर्क की है। यहां डिजाइनर मॉस्क महिलाओं की पसंद बनते जा रहे हैं।</p>

यह तस्वीर अमेरिका के न्यूयॉर्क की है। यहां डिजाइनर मॉस्क महिलाओं की पसंद बनते जा रहे हैं।

<p>यह तस्वीर मैक्सिको सिटी की है। कोरोना से बचाने अब मॉस्क भी फैशन का हिस्सा बनते जा रहे हैं।</p>

यह तस्वीर मैक्सिको सिटी की है। कोरोना से बचाने अब मॉस्क भी फैशन का हिस्सा बनते जा रहे हैं।

<p>यह तस्वीर मैक्सिको सिटी की है। कोरोना से बचाने तैयार इस मॉस्क को नाम दिया गया है सुपर हीरो मॉस्क।</p>

यह तस्वीर मैक्सिको सिटी की है। कोरोना से बचाने तैयार इस मॉस्क को नाम दिया गया है सुपर हीरो मॉस्क।

loader