Asianet News Hindi

चीख-पुकार के बीच निकाले जा रहे मजदूरों के शव, 4 की मौत और कई मलबे में दबे..सूरत में भरभराकर गिरी दीवार

First Published Mar 23, 2021, 5:41 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp


सूरत. गुजरात के सूरत से एक बड़े हादसे की खबर सामने आई है, जहां को एक निर्माणाधीन इमारत की दीवार ढह गई। मजदूरों की मलबे में दबने से मौत हो गई। वहीं अभी भी कई मजदूर फंसे होने की आशंका जताई जा रही है। घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस और अन्य प्रशासन के अधि‍कारी पहुंच गए हैं। रेस्क्यू व फायर की टीमें बचाव कार्य में जुटी हुई हैं।
 


दरअसल, सूरत के मोटा वाराछा इलाके में केदार हाइट्स नाम की ब‍िल्‍ड‍िंग निर्माण का कार्य चल रहा था। जहां खुदाई के दौरान पार्किंग की दीवार धसने लगी और अचानक गिर गई। इस दौरान काम करने वाले मजदूर इसकी चपेट में आ गए। जिनमें से 4 के शव निकाल लिए गए हैं। अब भी अन्य 4 मजदूर दबे हुए हैं। 
 


दरअसल, सूरत के मोटा वाराछा इलाके में केदार हाइट्स नाम की ब‍िल्‍ड‍िंग निर्माण का कार्य चल रहा था। जहां खुदाई के दौरान पार्किंग की दीवार धसने लगी और अचानक गिर गई। इस दौरान काम करने वाले मजदूर इसकी चपेट में आ गए। जिनमें से 4 के शव निकाल लिए गए हैं। अब भी अन्य 4 मजदूर दबे हुए हैं। 
 


हादसे के बाद घटना पर मौजूद विपुल कंथारिया ने बताया कि जब दीवार गिरी तो मजदूर चीखते हुए बाहर की तरफ भागे। वहीं कुछ उसमें ही फंसकर रह गए। चीख पुकार सुनकर आसपास के लोगों की भीड़ जमा हो गई। मिट्टी का मलबा इतना ज्यादा था कि हम दबे लोगों को बाहर नहीं निकाल पाए। दम घटुने से उनकी मौत हो गई। इसके मैंने फायर टीम को फोनकर मामले की सूचना दी।
 


हादसे के बाद घटना पर मौजूद विपुल कंथारिया ने बताया कि जब दीवार गिरी तो मजदूर चीखते हुए बाहर की तरफ भागे। वहीं कुछ उसमें ही फंसकर रह गए। चीख पुकार सुनकर आसपास के लोगों की भीड़ जमा हो गई। मिट्टी का मलबा इतना ज्यादा था कि हम दबे लोगों को बाहर नहीं निकाल पाए। दम घटुने से उनकी मौत हो गई। इसके मैंने फायर टीम को फोनकर मामले की सूचना दी।
 


रेस्क्यू व फायर की टीमें बचाव कार्य में जुटे लोगों का कहना है कि कंस्ट्रक्शन साइट पर चिकनी गीली मिट्टी के कई ढेर हैं। बड़े बड़े टीले जमे हुए हैं। जिसके चलते  दबे मजदूरों को खोजने में परेशानी आ रही है।


रेस्क्यू व फायर की टीमें बचाव कार्य में जुटे लोगों का कहना है कि कंस्ट्रक्शन साइट पर चिकनी गीली मिट्टी के कई ढेर हैं। बड़े बड़े टीले जमे हुए हैं। जिसके चलते  दबे मजदूरों को खोजने में परेशानी आ रही है।


बता दें कि कुछ दिन पहले ही सूरत की एक रिहायशी इमारत और टेक्स्टाइल मिल में आग लगने की घटनाएं सामने आई थीं। वहीं वडोदरा शहर में भी एक बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन के दौरान ही तीन लोगों की मौत हुई थी।


बता दें कि कुछ दिन पहले ही सूरत की एक रिहायशी इमारत और टेक्स्टाइल मिल में आग लगने की घटनाएं सामने आई थीं। वहीं वडोदरा शहर में भी एक बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन के दौरान ही तीन लोगों की मौत हुई थी।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios