Asianet News Hindi

हाथरस केस:पीड़िता की मां से मिलने के बाद प्रियंका गांधी हुईं भावुक, शेयर किया दर्द और पूछे ये 5 सवाल

First Published Oct 4, 2020, 11:28 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp


हाथरस (उत्तर प्रदेश). हाथरस गैंगरेप (hathras case) पीड़िता के परिवार के साथ राहुल और प्रियंका गांधी (Rahul Gandhi and Priyanka Gandhi)ने शनिवार शाम करीब एक घंटे तक मुलाकात की। उन्होंने उनकी इस न्याय की लड़ाई में पूरा सहयोग देने का आश्वासन भी दिया। साथ ही जब प्रियंका ने पीड़िता की मां को गले लगाया तो वह फफक-फफक कर रोने लगी। सोशल मीडिया पर प्रियंका के इस भावुक सीन की को खूब तारीफ हो रही है। फिल्ममेकर अलंकृता श्रीवास्तव ने ट्विटर पर भाई बहन की तारीफ करते हुए लिखा-दोनों के इस कदम से आज में बहुत खुश हूं, वहीं प्रियंका ने जिस आत्मीयता के साथ पीड़िता की मां को गले लगाते हुए दुख बांटा है उस पल ने मेरा दिल जीत लिया।


भारी सुरक्षा के बीच राहुल और प्रियंका पीड़ित के घर पहुंचे और परिवार से मिले। बंद कमरे में परिवार के साथ चर्चा हुई। पीड़ित के भाई के अनुसार, राहुल गांधी ने उन्हें आर्थिक सहायता के लिए एक चेक भी दिया है।
 


भारी सुरक्षा के बीच राहुल और प्रियंका पीड़ित के घर पहुंचे और परिवार से मिले। बंद कमरे में परिवार के साथ चर्चा हुई। पीड़ित के भाई के अनुसार, राहुल गांधी ने उन्हें आर्थिक सहायता के लिए एक चेक भी दिया है।
 

प्रियंका गांधी ने ट्विटर पर पीड़ित परिवार की मांगों और सवाल शेयर करते हुए उत्तर प्रदेश सरकार से जबाव मांगा है।
1. सुप्रीम कोर्ट के जरिए पूरे मामले की  न्यायिक जाँच हो
2. हाथरस DM को सस्पेंड किया जाए और किसी बड़े पद पर नहीं लगाया जाए
3. हमारी बेटी के शव को बगैर हमसे पूछे पेट्रोल से क्यों जलाया गया?
4. हमें बार-बार गुमराह किया, धमकाया क्यों जा रहा है
5. हम इंसानियत के नाते चिता से फूल चुनकर लाए मगर हमें कैसे माने कि यह शव हमारी बेटी का है भी या नहीं? 

 

प्रियंका गांधी ने ट्विटर पर पीड़ित परिवार की मांगों और सवाल शेयर करते हुए उत्तर प्रदेश सरकार से जबाव मांगा है।
1. सुप्रीम कोर्ट के जरिए पूरे मामले की  न्यायिक जाँच हो
2. हाथरस DM को सस्पेंड किया जाए और किसी बड़े पद पर नहीं लगाया जाए
3. हमारी बेटी के शव को बगैर हमसे पूछे पेट्रोल से क्यों जलाया गया?
4. हमें बार-बार गुमराह किया, धमकाया क्यों जा रहा है
5. हम इंसानियत के नाते चिता से फूल चुनकर लाए मगर हमें कैसे माने कि यह शव हमारी बेटी का है भी या नहीं? 

 

इसके बाद प्रियंका गांधी ने लिखा कि इन प्रश्नों के उत्तर पाना इस परिवार का हक है, उत्तर प्रदेश सरकार को ये जवाब देना पड़ेगा, मां का दर्द समझती हूं, न्याय मिलने तक इनके साथ खड़ी रहूंगी, इनके हर आंसुओं का जवाब सरकार को देना होगा।
 

इसके बाद प्रियंका गांधी ने लिखा कि इन प्रश्नों के उत्तर पाना इस परिवार का हक है, उत्तर प्रदेश सरकार को ये जवाब देना पड़ेगा, मां का दर्द समझती हूं, न्याय मिलने तक इनके साथ खड़ी रहूंगी, इनके हर आंसुओं का जवाब सरकार को देना होगा।
 

प्रियंका गांधी भावुक हो गईं और पीड़ित की मां को गले लगाया।
 

प्रियंका गांधी भावुक हो गईं और पीड़ित की मां को गले लगाया।
 


बता दें कि हाथरस जाने से पहले नोएडा बॉर्डर पर पुलिस और कांग्रेसियों के बीच झड़प हुई। जहां एक पुलिसकर्मी ने न सिर्फ प्रियंका गांधी से बदसलूकी की बल्कि उनका कुर्ता भी खींचा। सोशल मीडिया पर पुलिस काफी आलोचना हो रही है।
 


बता दें कि हाथरस जाने से पहले नोएडा बॉर्डर पर पुलिस और कांग्रेसियों के बीच झड़प हुई। जहां एक पुलिसकर्मी ने न सिर्फ प्रियंका गांधी से बदसलूकी की बल्कि उनका कुर्ता भी खींचा। सोशल मीडिया पर पुलिस काफी आलोचना हो रही है।
 


तस्वीर में आप साफ तौर पर देख सकते हैं कि कैसे प्रियंका गांधी कांग्रेस कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच घिरी हुई हैं।
 


तस्वीर में आप साफ तौर पर देख सकते हैं कि कैसे प्रियंका गांधी कांग्रेस कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच घिरी हुई हैं।
 


कांग्रेस कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच हुई झड़प के दौरान प्रियंका ने एक कार्यकर्ता को पुलिस से भी बचाया।


कांग्रेस कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच हुई झड़प के दौरान प्रियंका ने एक कार्यकर्ता को पुलिस से भी बचाया।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios