Asianet News Hindi

पिता ने बेटी-दमाद को बुलाया और घर की चौखट पर मार दी गोली, 5 महीने पहले की थी शादी..अब निकलेगी अर्थी

First Published Sep 8, 2020, 4:43 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

काशीपुर (उत्तराखंड).  भारत में आज भी ऐसे कई परिवार हैं, जहां पर लव मैरेज की इजाजत नहीं है। अगर इसके बाद भी कोई मनपसंद से शादी करता है तो बेटियों की हत्या कर दी जाती है। ऐसा ही एक हॉरर किलिंग मामला उत्तराखंड से सामने आया है। जहां दूसरी समाज में  प्रेम विवाह करने नाराज पिता और भाई ने बेटी दमाद को घर बुलाकर उनकी होली मारकर हत्या कर दी।
 


दरअसल, यह दिल दहला देने वाला मामला ऊधसिंहनगर जिले के काशीपुर का है। जहां सोमवार देर रात घर से भागकर शादी करने वाली बेटी और दामाद को पिता और भाई ने अपनी इज्जत की खातिर मौत के घाट उतार दिया। हत्या करने के बाद आरोपी बाप-बेटे रात में घर से भाग गए। वारदात के बाद अपर पुलिस अधीक्षक राजेश भट्ट अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे और शव को कब्जे में लेकर मामले की जांच शुरू कर दी।


दरअसल, यह दिल दहला देने वाला मामला ऊधसिंहनगर जिले के काशीपुर का है। जहां सोमवार देर रात घर से भागकर शादी करने वाली बेटी और दामाद को पिता और भाई ने अपनी इज्जत की खातिर मौत के घाट उतार दिया। हत्या करने के बाद आरोपी बाप-बेटे रात में घर से भाग गए। वारदात के बाद अपर पुलिस अधीक्षक राजेश भट्ट अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे और शव को कब्जे में लेकर मामले की जांच शुरू कर दी।

पुलिस को जानकारी देते हुए आसपास के लोगों ने बताया कि पांच महीने पहले ही दोनों ने घरवालों के खिलाफ जाकर लॉकडाउन में भागकर शादी की थी। राशिद एक टायर के शोरूम पर काम करता था और नाजिया इंटर पास करने के बाद घर पर थी। दोनों के घर पास थे, वह एक-दूसरे से प्यार करने लगे थे, जब लड़की के घरवालों को इस बात का पता चला तो वो युवक से रंजिश रखने लगे थे। फिर अप्रैल में दोनों घर से भाग गए और निकाह कर लिया।

पुलिस को जानकारी देते हुए आसपास के लोगों ने बताया कि पांच महीने पहले ही दोनों ने घरवालों के खिलाफ जाकर लॉकडाउन में भागकर शादी की थी। राशिद एक टायर के शोरूम पर काम करता था और नाजिया इंटर पास करने के बाद घर पर थी। दोनों के घर पास थे, वह एक-दूसरे से प्यार करने लगे थे, जब लड़की के घरवालों को इस बात का पता चला तो वो युवक से रंजिश रखने लगे थे। फिर अप्रैल में दोनों घर से भाग गए और निकाह कर लिया।

करीब राशिद 15 दिन पहले नाजिया और राशिद इस उम्मीद से घर लौटे थे कि उनके घरवाले शायद उनको माफ कर देंगे। लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ, दोनों शहर के सिद्दीकी मैरिज हॉल में के पास किराए पर रहने लगे। 

करीब राशिद 15 दिन पहले नाजिया और राशिद इस उम्मीद से घर लौटे थे कि उनके घरवाले शायद उनको माफ कर देंगे। लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ, दोनों शहर के सिद्दीकी मैरिज हॉल में के पास किराए पर रहने लगे। 


सोमवार शाम नाजिया के पिता ने उसे वीडियो कॉल किया और दमाद के साथ रात को घर आने को कहा। पिता का बदला रवैया देख बेटी काफी खुशी थी, वह अपने पति से कहती देखो मैंने कहा था ना एक दिन अब्बू जरूर हमको माफ कर देंगे। लेकिन उसको यह पता नहीं था कि आज उसका आखिरी दिन है। जिस पिता ने पाल पोसकर बड़ा किया वो ही उनकी हत्या करने वाला  है।
 


सोमवार शाम नाजिया के पिता ने उसे वीडियो कॉल किया और दमाद के साथ रात को घर आने को कहा। पिता का बदला रवैया देख बेटी काफी खुशी थी, वह अपने पति से कहती देखो मैंने कहा था ना एक दिन अब्बू जरूर हमको माफ कर देंगे। लेकिन उसको यह पता नहीं था कि आज उसका आखिरी दिन है। जिस पिता ने पाल पोसकर बड़ा किया वो ही उनकी हत्या करने वाला  है।
 


बेटी नाजिया इतनी खुश थी की वह वीडियो कॉल करते-करते अपने घर पहुंची। जैसे ही वह अपने पति के साथ आई तो भाई और पिता ने दोनों को गोली मार हत्या कर दी। पहली गोली राशिद को मारी जो उसकी गर्दन को चीरते हुए निकल गई। वहीं दूसरी गोली पिता ने बेटी नाजिया को मारी जो सीने में जा धंसी


बेटी नाजिया इतनी खुश थी की वह वीडियो कॉल करते-करते अपने घर पहुंची। जैसे ही वह अपने पति के साथ आई तो भाई और पिता ने दोनों को गोली मार हत्या कर दी। पहली गोली राशिद को मारी जो उसकी गर्दन को चीरते हुए निकल गई। वहीं दूसरी गोली पिता ने बेटी नाजिया को मारी जो सीने में जा धंसी

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios