Asianet News Hindi

12 विदेशी भाषाएं सीखकर दुनियाभर की महिलाओं को करने लगा इम्प्रेस, 'मैडम' भी इंडिया खिंची आने लगीं

First Published Oct 1, 2020, 10:28 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

जयपुर, राजस्थान. यूपी के हाथरस (Hathras gang rape case) की घटना ने पूरे देश को शर्मिंदा कर दिया है। गैंग रेप के बाद युवती को बुरी तरह टॉर्चर करने, उसकी जीभ काटने आदि का मामला लगातार मीडिया और सोशल मीडिया की सुर्खियों में हैं। गंदी मानसिकता के लोगों से लड़ने के अलावा सतर्क रहने की आवश्यकता है। यह घटना आपको अलर्ट करती है। 12 विदेशी भाषाओं का जानकार यह शख्स चाहता, तो अच्छा-भला काम कर सकता था, लेकिन उसने इस हुनर का गंदा फायदा उठाया। वो ई-कॉमर्स बिजनेस (E-commerce business) के जरिये विदेशी महिलाओं को फंसाने लगा। उन्हें ऑनलाइन बिजनेस में मुनाफ दिखाकर भारत बुलाता और फिर रेप करता। लेकिन कुछ महिलाओं ने हिम्मत करके इसका भंडाफोड़ दिया। रूपक चटर्जी नामक यह आरोपी कोलकाता का रहने वाला है। उसे मुंबई से पकड़ा गया है। आरोपी के खिलाफ पुर्तगाल की महिला ने दिल्ली के निजामुद्दीन थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। इसके बाद जीरो पर FIR दर्ज करके मामला आमेर के सदर थाने में उसके खिलाफ 17 सितम्बर को मामला दर्ज किया गया। लोकेशन के आधार पर उसे मुंबई से दबोच लिया गया। फिलहाल आरोपी पुलिस रिमांड पर है। पढ़िए चौंकाने वाली कहानी...

रूपक का असली रूप देखकर पुलिस भी शॉक्ड है। आरोपी के खिलाफ यूके की भी एक महिला ने रेप की शिकायत दर्ज कराई थी। वहीं, दिल्ली के करोलबाग थाने में भी एक विदेशी महिला के साथ रेप का मामला दर्ज है। आमेर(जयपुर) के थानाधिकारी पृथ्वीपाल सिंह ने बताया कि अच्छे बिजनेस का लालच देकर यह विदेशी महिलाओं को भारत बुलाता था। फिर उन्हें घुमाने के बहाने होटल में ले जाकर रेप करता था।

आगे पढ़ें एक बाबा की करतूत...

रूपक का असली रूप देखकर पुलिस भी शॉक्ड है। आरोपी के खिलाफ यूके की भी एक महिला ने रेप की शिकायत दर्ज कराई थी। वहीं, दिल्ली के करोलबाग थाने में भी एक विदेशी महिला के साथ रेप का मामला दर्ज है। आमेर(जयपुर) के थानाधिकारी पृथ्वीपाल सिंह ने बताया कि अच्छे बिजनेस का लालच देकर यह विदेशी महिलाओं को भारत बुलाता था। फिर उन्हें घुमाने के बहाने होटल में ले जाकर रेप करता था।

आगे पढ़ें एक बाबा की करतूत...

ढोंगी बाबा की कहानी
यह मामला अगस्त में मध्य प्रदेश के नरसिंहपुर में सामने आया था। जिले के नादियां बिलहरा में 'साकेत धाम' आश्रम बनाकर अपने गंदे कामों को अंजाम देने वाला स्वयंभू बाबा धर्मेंद्र दास दुबे अभी जेल में है। इस ढोंगी बाबा को आश्रम में रहने वालीं तीन महिलाओं के साथ रेप के इल्जाम में पकड़ा गया था। पुलिस को आश्रम से ड्रग्स के अलावा कई आपत्तिजनक चीजें मिली थीं। आशंका है कि बाबा ने 50 से ज्यादा महिलाओं को अपना शिकार बनाया। पाखंडी ने अपने आश्रम में एक गुप्त कमरा बना रखा था। इसमें शाम 6 से रात 11 बजे के बीच वो अश्लील वीडियो बनाता था। चूंकि इस दौरान बाहर बड़ी संख्या में लोग भजन-कीर्तन करते थे, इसलिए किसी को अंदर क्या चल रहा, इसका पता नहीं चल पाता था। महिलाओं को फंसाने जॉब पर रखे थे चेले...

ढोंगी बाबा की कहानी
यह मामला अगस्त में मध्य प्रदेश के नरसिंहपुर में सामने आया था। जिले के नादियां बिलहरा में 'साकेत धाम' आश्रम बनाकर अपने गंदे कामों को अंजाम देने वाला स्वयंभू बाबा धर्मेंद्र दास दुबे अभी जेल में है। इस ढोंगी बाबा को आश्रम में रहने वालीं तीन महिलाओं के साथ रेप के इल्जाम में पकड़ा गया था। पुलिस को आश्रम से ड्रग्स के अलावा कई आपत्तिजनक चीजें मिली थीं। आशंका है कि बाबा ने 50 से ज्यादा महिलाओं को अपना शिकार बनाया। पाखंडी ने अपने आश्रम में एक गुप्त कमरा बना रखा था। इसमें शाम 6 से रात 11 बजे के बीच वो अश्लील वीडियो बनाता था। चूंकि इस दौरान बाहर बड़ी संख्या में लोग भजन-कीर्तन करते थे, इसलिए किसी को अंदर क्या चल रहा, इसका पता नहीं चल पाता था। महिलाओं को फंसाने जॉब पर रखे थे चेले...

ढोंगी बाबा का आश्रम नरसिंहपुर जिले से करीब 35 किमी दूर है। एसपी अजय सिंह ने बताया कि आरोपी के खिलाफ अभी चार महिलाओं ने सटाला पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई थी। इनमें एक पीड़िता नाबालिग है। आशंका है कि उसने कई महिलाओं को अपना शिकार बनाया। पाखंडी गांव की तीन महिलाओं को अश्लील वीडियो के जरिये ब्लैकमेल कर रहा था। इससे पहले भी गांववालों ने कई महिलाओं के शोषण की आशंका जताते हुए आरोपी के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी। आगे पढ़िए इसी की कहानी...

ढोंगी बाबा का आश्रम नरसिंहपुर जिले से करीब 35 किमी दूर है। एसपी अजय सिंह ने बताया कि आरोपी के खिलाफ अभी चार महिलाओं ने सटाला पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई थी। इनमें एक पीड़िता नाबालिग है। आशंका है कि उसने कई महिलाओं को अपना शिकार बनाया। पाखंडी गांव की तीन महिलाओं को अश्लील वीडियो के जरिये ब्लैकमेल कर रहा था। इससे पहले भी गांववालों ने कई महिलाओं के शोषण की आशंका जताते हुए आरोपी के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी। आगे पढ़िए इसी की कहानी...

पुलिस को आश्रम से 2 किलो गांजा भी मिला था। आशंका है कि आरोपी ड्रग्स का सप्लायर भी है। पुलिस ने आश्रम से 26 एमबी का डेटा जब्त किया था। इसमें अश्लील वीडियो भरे थे। हालांकि छापे की भनक लगने पर आरोपी ने अपने मोबाइल से 10 जीबी डेटा पहले ही डिलीट कर दिया था।  आगे पढ़ें इसी की कहानी...

पुलिस को आश्रम से 2 किलो गांजा भी मिला था। आशंका है कि आरोपी ड्रग्स का सप्लायर भी है। पुलिस ने आश्रम से 26 एमबी का डेटा जब्त किया था। इसमें अश्लील वीडियो भरे थे। हालांकि छापे की भनक लगने पर आरोपी ने अपने मोबाइल से 10 जीबी डेटा पहले ही डिलीट कर दिया था।  आगे पढ़ें इसी की कहानी...

आरोपी ने कई राज्यों में अपना साम्राज्य फैला रखा था। इसके लिए उसने सेवादारों और चेलों को जॉब पर रखा हुआ था। ये लोग महिलाओं को ढूंढते थे। साथ ही पाखंडी बाबा को चमत्कारी बताकर प्रचार-प्रसार करते थे। करीब हफ्तेभर पहले ढोंगी बाबा अपने मोबाइल को डेटा किसी को दिखा रहा था, संभवत: तभी वो लीक हो गया। आगे पढ़ें इसी की कहानी...

आरोपी ने कई राज्यों में अपना साम्राज्य फैला रखा था। इसके लिए उसने सेवादारों और चेलों को जॉब पर रखा हुआ था। ये लोग महिलाओं को ढूंढते थे। साथ ही पाखंडी बाबा को चमत्कारी बताकर प्रचार-प्रसार करते थे। करीब हफ्तेभर पहले ढोंगी बाबा अपने मोबाइल को डेटा किसी को दिखा रहा था, संभवत: तभी वो लीक हो गया। आगे पढ़ें इसी की कहानी...

ढोंगी बाबा ने प्रचार करा रखा था कि पांच मंगलवार-शनिवार को उसके दरबार में आने से गृहक्लेश दूर हो जाएगा। आरोप है कि ढोंगी के चेले लोगों को प्रसाद में नशा मिलाकर खिलाते थे। इससे वे मदहोश हो जाते थे। आगे पढ़ें इसी की कहानी...

ढोंगी बाबा ने प्रचार करा रखा था कि पांच मंगलवार-शनिवार को उसके दरबार में आने से गृहक्लेश दूर हो जाएगा। आरोप है कि ढोंगी के चेले लोगों को प्रसाद में नशा मिलाकर खिलाते थे। इससे वे मदहोश हो जाते थे। आगे पढ़ें इसी की कहानी...

पुलिस की जांच में सामने आया है कि आरोपी धर्मेंद्र दास मूलत: बीतली गांव का रहने वाला है। वो बेहद झगड़ालू और गुंडा प्रवृत्ति का था। लिहाजा गांववालों ने उसके पूरे परिवार को खदेड़ दिया था। नांदिया के लोगों ने इन्हें शरण दी। तब आरोपी की उम्र 17-18 साल रही होगी। आगे पढ़ें इसी की कहानी...
  

पुलिस की जांच में सामने आया है कि आरोपी धर्मेंद्र दास मूलत: बीतली गांव का रहने वाला है। वो बेहद झगड़ालू और गुंडा प्रवृत्ति का था। लिहाजा गांववालों ने उसके पूरे परिवार को खदेड़ दिया था। नांदिया के लोगों ने इन्हें शरण दी। तब आरोपी की उम्र 17-18 साल रही होगी। आगे पढ़ें इसी की कहानी...
  

बताते हैं कि यहां पढ़ाई-लिखाई पूरी करने के बाद धर्मेंद्र गायब हो गया। जब लौटा, तो गांव में हनुमानजी की मढ़िया के पास बैठकर पूजा-अर्चना करने लगा। आज इसी जगह पर उसका आश्रम है। इसके बाद गांववालों ने श्मशान भूमि का एक टुकड़ा इसके परिवार को रहने के लिए दे दिया। लेकिन यह सरकारी जमीनों पर कब्जा करने लगा। फिर 2010 में आश्रम की नींव रखी। आगे पढ़ें इसी की कहानी...

बताते हैं कि यहां पढ़ाई-लिखाई पूरी करने के बाद धर्मेंद्र गायब हो गया। जब लौटा, तो गांव में हनुमानजी की मढ़िया के पास बैठकर पूजा-अर्चना करने लगा। आज इसी जगह पर उसका आश्रम है। इसके बाद गांववालों ने श्मशान भूमि का एक टुकड़ा इसके परिवार को रहने के लिए दे दिया। लेकिन यह सरकारी जमीनों पर कब्जा करने लगा। फिर 2010 में आश्रम की नींव रखी। आगे पढ़ें इसी की कहानी...

पिछले 10 सालों में आरोपी ने आश्रम को भव्य रूप दे दिया। वहीं, अपने कथित चेलों और सेवादारों के जरिये अपने पाखंड का बाजार खड़ा कर दिया। फिलहाल, आरोपी के पिछले इतिहास को खंगाला जा रहा है। 
 

पिछले 10 सालों में आरोपी ने आश्रम को भव्य रूप दे दिया। वहीं, अपने कथित चेलों और सेवादारों के जरिये अपने पाखंड का बाजार खड़ा कर दिया। फिलहाल, आरोपी के पिछले इतिहास को खंगाला जा रहा है। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios