19

देश की राजधानी दिल्ली से आज मुंडोता फोर्ट आना चाहते हैं तो यहां आने के लिए आपको दिल्ली से करीब छह घंटे लग सकते हैं। दिल्ली से राजस्थान में इंट्री लेने के बाद कोटपूतली इलाके से होते हुए जयपुर में प्रवेश किया जा सकता है और उसके बाद शहर के बेहद नजदीक अरावली की पहाड़ियों से घिरे हुए मुंडोता फोर्ट में आपका स्वागत है।

Subscribe to get breaking news alerts

29

जयपुर के आमेर में बसे हुए इस 450 साल पुराने फोर्ट का नाम गांव पर पड़ा है। करीब पांच से छह हजार की आबादी का यह गांव अब और बढ़ चला है। 

यह भी पढ़े-बॉलीवुड एक्ट्रेस की शाही शादी का गवाह बनेगा राजस्थान, हंसिका मोटवानी 450 साल पुराने फोर्ट में लेंगी फेरे

39

गांव में एंट्री पर ही भैरव बाबा का मंदिर है जिन्हें सब द्वारपाल कहते हैं, ग्रामीणों का मानना है कि उनका गांव भैरव बाबा के कारण ही फेमस है, वे हर आने जाने वाले की रक्षा जो करते हैं। 

49

गांव के पथरीले रास्तों से पहाड़ पर चढ़ने का आपको एहसास होगा और फिर किलेनुमा फोर्ट दिखने लगेगा। दस एकड़ में फैली यह हवेली हैरिटेज और लग्जरी दोनो का शानदार मिक्सचर है।
 

59

पुराने निर्माण को इतने शानदार तरीके से मेंटेन किया गया है जो पांच सितारा का एहसास कराता है। फोर्ट में छोटे बड़े मिलाकर 11 सुईट हैं, कई बडे लाउंज, हॉल और अन्य स्पेस है जहां पर अलग अलग कार्यक्रम होंगे। 

69

फोर्ट दो हिस्सों में बंटा हुआ हैं। एक हिस्सा सुईट है और एक हिस्सा वार फोर्ट का है। कहा जाता है कि करीब साढे चार सौ साल पहले इसे नरुका राजपूत राजाओं ने बसाया था।

79

उसके बाद इसको मेंटेन भी उनकी पीढ़ियों ने किया है। राजपूत राजाओं की झलक, उनके ठाठबाठ, शौर्य सब कुछ आपको यहां देखने को मिलेगा। इसके साथ ही यहां आने वाले गेस्ट की सुविधाओं का भी पूरा ख्याल रखा जाता है।

89

फोर्ट के नजदीक ही अस्तबल है जहां पर पोलो के लिए घोडे़ रखे हैं। आप यहां आसानी से पोलो भी खेल सकते हैं। सुईट का किराया लाखों रुपयों में है। इसकी बुकिंग कराने के लिए फोर्ट  के नंबरों पर कॉल किया जा सकता है और फोर्ट के नंबर साइट पर उपलब्ध हैं।

99

एक्ट्रेस हंसिका मोटवानी की शादी के चलते फोर्ट के बाहर व अंदर कई सुविधाएं उपलब्ध कराई गई है। जो वहां आने वाले मेहमानों का मन मोह लेंगी। साथ ही उनकी शादी को ओटीटी पर दिखाया जाएगा, जो यहां की भव्यता को दिखाएगा।