Asianet News Hindi

भांग की गोलियां खिलाकर महिलाओं से करता था रेप, कहता-मैं हूं भगवान, समर्पण का भाव रख सब कुछ दे दो

First Published May 25, 2021, 7:41 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

जयपुर ( Rajasthan) । भांग में गोलियां खिलाकर महिलाओं के साथ रेप करने वाला ढोंगी तपस्वी बाबा योगेंद्र मेहता गिरफ्तार कर लिया गया है। बाबा के खिलाफ 4 महिलाओं ने दुष्कर्म किए जाने के आरोप लगाए थे। भांकरोटा पुलिस के मुताबिक पीड़िताओं का आरोप है कि बाबा खुद को भगवान बताता था। प्रसाद के रूप में भांग की गोलियां खिला देता था। महिलाओं को आश्रम में ऊपर ले जाता था। नशा होने पर महिलाओं को बोलता था कि सब कुछ मुझे समर्पण कर दों। इसके बाद उनके साथ रेप करता था। जिसके गुनाहों की पूरी कहानी हम आपको बता रहे हैं। बता दें कि योगेंद्र मेहता का आश्रम मुकुंदपुरा के अलावा रातल्या सीकर रोड और दिल्ली रोड पर है।

पति के कहने पर बाबा के आश्रम में जाती थी पत्नी
पुलिस के मुताबिक योगेंद्र मेहता खुद को तपस्वी बाबा बताता है। पीड़ित महिला का परिवार भी आश्रम में जाया करता था। उसके पति भी अक्सर बाबा के पास आश्रम में जाते थे और सत्संग सुना करते थे। बाबा ने उसके पति को कहा कि पूरे परिवार को आश्रम में लेकर आया करो। इसके बाद वह भी पति के साथ आश्रम में जाने लग गई। विवाहिता ने बताया कि आश्रम में वह पांच-छह महीने के अंतराल में जाती थी। तीन-चार दिन रुक कर आश्रम में सेवा करती थी।

पति के कहने पर बाबा के आश्रम में जाती थी पत्नी
पुलिस के मुताबिक योगेंद्र मेहता खुद को तपस्वी बाबा बताता है। पीड़ित महिला का परिवार भी आश्रम में जाया करता था। उसके पति भी अक्सर बाबा के पास आश्रम में जाते थे और सत्संग सुना करते थे। बाबा ने उसके पति को कहा कि पूरे परिवार को आश्रम में लेकर आया करो। इसके बाद वह भी पति के साथ आश्रम में जाने लग गई। विवाहिता ने बताया कि आश्रम में वह पांच-छह महीने के अंतराल में जाती थी। तीन-चार दिन रुक कर आश्रम में सेवा करती थी।

ऐसी बातें करते हुए करता था दरिंदगी
विवाहिता का आरोप है कि आश्रम में रोजाना रात को आठ से दस महिलाएं रुकती थीं। उसे एक दिन रात को बाबा ने छत के ऊपर बने कमरे में बुलाया। कमरे में उसे एक गोली दी और कहा कि यह प्रसाद है। बाबा ने कहा कि ईश्वर का ध्यान करो और समर्पण का भाव रख सब कुछ दे दो।

(प्रतीकात्मक फोटो)

ऐसी बातें करते हुए करता था दरिंदगी
विवाहिता का आरोप है कि आश्रम में रोजाना रात को आठ से दस महिलाएं रुकती थीं। उसे एक दिन रात को बाबा ने छत के ऊपर बने कमरे में बुलाया। कमरे में उसे एक गोली दी और कहा कि यह प्रसाद है। बाबा ने कहा कि ईश्वर का ध्यान करो और समर्पण का भाव रख सब कुछ दे दो।

(प्रतीकात्मक फोटो)

बर्बाद करने की देता था धमकी  
गोली खाते ही उसे कुछ नशा होने लग गया। तब बाबा ने दुष्कर्म किया। छह महीने के बाद आश्रम में गई तो बाबा ने बुलाकर दोबारा से दुष्कर्म किया। विरोध करने पर बर्बाद करने की धमकी दी।
(प्रतीकात्मक फोटो)

बर्बाद करने की देता था धमकी  
गोली खाते ही उसे कुछ नशा होने लग गया। तब बाबा ने दुष्कर्म किया। छह महीने के बाद आश्रम में गई तो बाबा ने बुलाकर दोबारा से दुष्कर्म किया। विरोध करने पर बर्बाद करने की धमकी दी।
(प्रतीकात्मक फोटो)

ऐसे खुला राज
तीन दिन पहले उसके पति 20 साल की बेटी को आश्रम में ले जाने लगे। विवाहिता ने बेटी को आश्रम में ले जाने से मना कर दिया। पति ने उससे आश्रम में नहीं ले जाने की बात पूछी तो रोते हुए बाबा की करतूत बताई। परिवार में बात करने पर पता लगा कि उसकी भाभी व जेठानी से भी बाबा ने डरा-धमका कर दुष्कर्म किया। उसके पति व भाई ने बाबा को फोन कर दुष्कर्म के बारे में पूछा तो बाबा ने उन्हें बर्बाद करने की धमकी दे दी।

ऐसे खुला राज
तीन दिन पहले उसके पति 20 साल की बेटी को आश्रम में ले जाने लगे। विवाहिता ने बेटी को आश्रम में ले जाने से मना कर दिया। पति ने उससे आश्रम में नहीं ले जाने की बात पूछी तो रोते हुए बाबा की करतूत बताई। परिवार में बात करने पर पता लगा कि उसकी भाभी व जेठानी से भी बाबा ने डरा-धमका कर दुष्कर्म किया। उसके पति व भाई ने बाबा को फोन कर दुष्कर्म के बारे में पूछा तो बाबा ने उन्हें बर्बाद करने की धमकी दे दी।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios