Asianet News Hindi

पिता ने 2 शादीशुदा बेटियों के साथ की खुदखशी, दोनों नहीं जाती थीं ससुराल..मौत के लिए चुना होली का दिन

First Published Mar 28, 2021, 2:32 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp



बीकानेर. राजस्थान के बीकानेर से एक परिवार के लिए होली का दिन मनहूस साबित हो गया। यहां बजुर्ग पिता ने अपनी बेटी के साथ जहर खाकर आत्महत्या कर ली। वहीं दोनों को देखते ही दूसरी 32 साल की बेटी ने भी अपने हाथ की नस काटकर सुसाइड को कोशिश की। हालांकि वह बच गई, उसको अस्पताल में भर्ती कर दिया गया, जहां उसकी हालात अभी गंभीर बनी हुई है। उधर पुलिस तीनों के आत्महत्या करने के पीछे के कारणों को जानने में जुट गई है।


दरअसल, यह दिल दहल देने वाली घटना रविवार सुबह बीकानेर के धोबी तलाई क्षेत्र में सामने आई। जहां शौकत नाम के बुजुर्ग शख्स ने अपनी बड़ी बेटी जोनिया (35) के साथ जहर खा लिया। कुछ देर बाद दोनों ने तड़प-तड़पकर दम तोड़ दिया। वहीं कुछ देर बाद छोटी बेटी बबली (32) ने अपने हाथ की नसें काट ली। उसे गंभीर अवस्था में शहर के पीबीएम अस्पताल के ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया है।(प्रतीकात्मक फोटो)


दरअसल, यह दिल दहल देने वाली घटना रविवार सुबह बीकानेर के धोबी तलाई क्षेत्र में सामने आई। जहां शौकत नाम के बुजुर्ग शख्स ने अपनी बड़ी बेटी जोनिया (35) के साथ जहर खा लिया। कुछ देर बाद दोनों ने तड़प-तड़पकर दम तोड़ दिया। वहीं कुछ देर बाद छोटी बेटी बबली (32) ने अपने हाथ की नसें काट ली। उसे गंभीर अवस्था में शहर के पीबीएम अस्पताल के ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया है।(प्रतीकात्मक फोटो)


पुलिस को मामले की जानकारी देते हुए पड़ोसियों ने बताया कि काफी देर होने के बाद भी जब शौकत के घर का दरवाजा नहीं खुला तो हमे कुछ शक हुआ। वहां जाकर देखा तो उसका बेटी के साथ शव पड़ा हुआ था। जबकि दूसरी बेटी भी खून से लथपथ अवस्था और बेसुध हालत में पड़ी थी। इसके बाद पुलिस को सूचना देकर मौके पर बुलाया गया।


पुलिस को मामले की जानकारी देते हुए पड़ोसियों ने बताया कि काफी देर होने के बाद भी जब शौकत के घर का दरवाजा नहीं खुला तो हमे कुछ शक हुआ। वहां जाकर देखा तो उसका बेटी के साथ शव पड़ा हुआ था। जबकि दूसरी बेटी भी खून से लथपथ अवस्था और बेसुध हालत में पड़ी थी। इसके बाद पुलिस को सूचना देकर मौके पर बुलाया गया।


थानाधिकारी मनोज माचरा ने बताया कि बाप-बेटी का शव मोर्चरी में रखवा दिया गया है। पोस्टमार्टम के बाद परजिनों को सौंप दिया जाएगा। वहीं दूसरी बेटी को  ट्रॉमा सेंटर में भर्ती करा दिया गया है। फिलहाल यह पता नहीं चल सका है कि परिवार ने यह कदम क्यों उठाया। बबली को होश आने के बाद उसके बयान में पता चल सकेगा कि उन्होंने आत्महत्या क्यों की। (प्रतीकात्मक फोटो)


थानाधिकारी मनोज माचरा ने बताया कि बाप-बेटी का शव मोर्चरी में रखवा दिया गया है। पोस्टमार्टम के बाद परजिनों को सौंप दिया जाएगा। वहीं दूसरी बेटी को  ट्रॉमा सेंटर में भर्ती करा दिया गया है। फिलहाल यह पता नहीं चल सका है कि परिवार ने यह कदम क्यों उठाया। बबली को होश आने के बाद उसके बयान में पता चल सकेगा कि उन्होंने आत्महत्या क्यों की। (प्रतीकात्मक फोटो)


बता दें कि शौकत अपनी पत्नी की हत्या में आरोपी था, वह कुछ दिन पहले ही जेल से बाहर आया हुआ था। वहीं उसकी दोनों बेटियों की शादी हो चुकी हैं, लेकिन वह अपने ससुराल में ना रहकर पिता के साथ रह रही थीं। बेटियों के घर पर होने और खुद पर लगे पत्नी के हत्या के आरोपों के चलते तनाव में था। (प्रतीकात्मक फोटो)


बता दें कि शौकत अपनी पत्नी की हत्या में आरोपी था, वह कुछ दिन पहले ही जेल से बाहर आया हुआ था। वहीं उसकी दोनों बेटियों की शादी हो चुकी हैं, लेकिन वह अपने ससुराल में ना रहकर पिता के साथ रह रही थीं। बेटियों के घर पर होने और खुद पर लगे पत्नी के हत्या के आरोपों के चलते तनाव में था। (प्रतीकात्मक फोटो)


पुलिस को पड़ोसियों ने बताया कि शौकत का किसी से कोई विवाद नहीं था। ना ही उसकी बेटियों को लेकर कोई बात नहीं थी, एक दिन पहले वह आसपास के लोगों हंसकर बातचीत की थी। ऐसे में लोग समझ ही नहीं पा रहे हैं कि अचानक इस तरह शौकत ने आत्महत्या क्यों की। हालांकि लोगों का यह भी कहना है कि हो सकता है कि पारिवारिक कलह के चलते ही यह कदम उठाया होगा।


पुलिस को पड़ोसियों ने बताया कि शौकत का किसी से कोई विवाद नहीं था। ना ही उसकी बेटियों को लेकर कोई बात नहीं थी, एक दिन पहले वह आसपास के लोगों हंसकर बातचीत की थी। ऐसे में लोग समझ ही नहीं पा रहे हैं कि अचानक इस तरह शौकत ने आत्महत्या क्यों की। हालांकि लोगों का यह भी कहना है कि हो सकता है कि पारिवारिक कलह के चलते ही यह कदम उठाया होगा।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios