Asianet News Hindi

गजबः पत्नी देती रही नोटों की गड्डियां, साहब उसे आग में फेंकते रहे..देखते ही देखते 20 लाख कर दिए स्वाहा

First Published Mar 25, 2021, 2:48 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp


सिरोही. राजस्थान में आए दिन बड़े-बड़े अधिकारियों को रिश्वतखोरी के मामले में पकड़ा जा रहा है। लेकिन इसके बाद भी भ्रष्टाचार का मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है। अब इस कड़ी में एक तहलीसदार साहब का नया नाम सामने आया है। जिसने छापामारी के डर से किचन में गैस चूल्हे पर 20 लाख रुपए के नोट रखकर जला दिए। ताकि एजेंजी को कोई सबूत नहीं मिल सके। उसे सूचना मिली थी कि एंटी करप्शन ब्यूरो (ACB) की टीम ने उसके घर पर छापा मारने आने वाली है।
 


दरअसल, यह घूंसखोर अफसर का नाम कल्पेश जैन है, जो कि सिरोही जिले की पिंडवाड़ा तहसील में तहसीलदार है। बुधवार शाम ACB की टीम ने  भांवरी के में रेवेन्यू इंस्पेक्टर (RI) पर्बत सिंह को एक लाख रुपए की रिश्वत लेते हुए पकड़ा था। जिसने पूछताछ में खुलासा किया था कि यह पैसा उसने तहसीलदार कल्पेश जैन के कहने पर लिया है। जिसके बाद  ACB टीम उसके घर पहुंची हुई थी।


दरअसल, यह घूंसखोर अफसर का नाम कल्पेश जैन है, जो कि सिरोही जिले की पिंडवाड़ा तहसील में तहसीलदार है। बुधवार शाम ACB की टीम ने  भांवरी के में रेवेन्यू इंस्पेक्टर (RI) पर्बत सिंह को एक लाख रुपए की रिश्वत लेते हुए पकड़ा था। जिसने पूछताछ में खुलासा किया था कि यह पैसा उसने तहसीलदार कल्पेश जैन के कहने पर लिया है। जिसके बाद  ACB टीम उसके घर पहुंची हुई थी।


बता दें कि जैसे ही कल्पेश जैन को सूचना मिली की ACB की टीम छापा मारने आने वाली है तो उसने अपने घर के सारे दरवाजे-खिड़की बंद कर लिए। इसके बाद किचन में गैस चूल्हे पर रखकर रुपए जलाने लगा। इस काम में उसकी पत्नी ने पूरा साथ दिया, वह नोटो की गड्डियां उठा-उठाकर पति को दिए जा रही थी। ACB अफसरों ने दरवाजा खटखटाया लेकिन पति-पत्नी ने नहीं खोला। वह चिल्लाते रहे मैडम आप तो इस भ्रष्टाचार में साथ नहीं दो, लेकिन वह कोई जवाब नहीं दे रहीं थीं। 


बता दें कि जैसे ही कल्पेश जैन को सूचना मिली की ACB की टीम छापा मारने आने वाली है तो उसने अपने घर के सारे दरवाजे-खिड़की बंद कर लिए। इसके बाद किचन में गैस चूल्हे पर रखकर रुपए जलाने लगा। इस काम में उसकी पत्नी ने पूरा साथ दिया, वह नोटो की गड्डियां उठा-उठाकर पति को दिए जा रही थी। ACB अफसरों ने दरवाजा खटखटाया लेकिन पति-पत्नी ने नहीं खोला। वह चिल्लाते रहे मैडम आप तो इस भ्रष्टाचार में साथ नहीं दो, लेकिन वह कोई जवाब नहीं दे रहीं थीं। 


इतना ही नहीं नोटों के धुएं से बच्चे रोए जा रहे थे, क्योंकि खिड़की और दरवाजे जो लॉक थे। फिर भी उन्होंने दरवाजा नहीं खोला। आखिर में ACB ने पुलिस की मदद से  करीब 1 घंटे की मशक्कत के बाद कटर से दरवाजा काटा। मैके पर पहुंचकर करीब 20 लाख रुपए के अधजले नोट बरामद किए।
 


इतना ही नहीं नोटों के धुएं से बच्चे रोए जा रहे थे, क्योंकि खिड़की और दरवाजे जो लॉक थे। फिर भी उन्होंने दरवाजा नहीं खोला। आखिर में ACB ने पुलिस की मदद से  करीब 1 घंटे की मशक्कत के बाद कटर से दरवाजा काटा। मैके पर पहुंचकर करीब 20 लाख रुपए के अधजले नोट बरामद किए।
 


इस पूरे मामले में मूल सिंह नाम के शख्स ने एसीबी टीम को शिकायत की थी। उसने बताया था कि पिंडवाड़ा तहसील के अधिकारी छाल की खुली बोली से नीलामी  करते हैं। वहीं तहसीलदार कल्पेश जैन ने इस ठेके के लिए 5 लाख रुपए की रिश्वत की डिमांड करते हैं। पैसे की वसूली  RI पर्बत सिंह करता है। इसके लिए मैंने RI से बात की तो उसने कहा कि अभी एक लाख दे दो बाद में चार दे देना ठेका आपका ही होगा।


इस पूरे मामले में मूल सिंह नाम के शख्स ने एसीबी टीम को शिकायत की थी। उसने बताया था कि पिंडवाड़ा तहसील के अधिकारी छाल की खुली बोली से नीलामी  करते हैं। वहीं तहसीलदार कल्पेश जैन ने इस ठेके के लिए 5 लाख रुपए की रिश्वत की डिमांड करते हैं। पैसे की वसूली  RI पर्बत सिंह करता है। इसके लिए मैंने RI से बात की तो उसने कहा कि अभी एक लाख दे दो बाद में चार दे देना ठेका आपका ही होगा।

हैरानी की बात तो यह है कि  ACB की टीम कांच के बाहर से नोट जलाने का वीडियो बनाती रही, फिर भी उसने खिड़की नहीं खोली। सोशल मीडिया पर नोट जलाने का यह वीडियो वायरल हो रहा है।
 

हैरानी की बात तो यह है कि  ACB की टीम कांच के बाहर से नोट जलाने का वीडियो बनाती रही, फिर भी उसने खिड़की नहीं खोली। सोशल मीडिया पर नोट जलाने का यह वीडियो वायरल हो रहा है।
 

 ACB की टीम बाद में इन अधजले नोटों को बरामद किया है। बुधवार देर रात तक टीम की यह कार्रवाई जारी रही।

 ACB की टीम बाद में इन अधजले नोटों को बरामद किया है। बुधवार देर रात तक टीम की यह कार्रवाई जारी रही।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios