Asianet News Hindi

40 देश घूम चुकी है 5 साल की बच्ची, एयर होस्टेस से पायलट तक हैं मासूम के दीवाने

First Published Jun 1, 2021, 12:41 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

अजमेर (Rajasthan) । आपको भी यकीन नहीं होगा, लेकिन ऐसा ही है। महज पांच साल की धनारी अब तक 40 से ज्यादा देशों की यात्रा कर चुकी हैं। इतना ही नहीं मोस्ट ट्रैवल्ड बेबी के खिताब जीतकर इंडिया बुक ऑफ रिकार्ड में अपना नाम दर्ज करवा चुकीं है। जिसकी खासियत जानकर आप भी नाज करेंगे। बता दें कि धनारी के पेरेंट्स साोनिया व नरेन बुलानी थाईलैंड के प्रमुख कारोबारियों में से हैं, जो मूल रूप से वे अजमेर के रहने वाले हैं और उनका कई देशों में कारोबार फैला हुआ है।

मां सोनिया ने के मुताबिक धनारी उनकी इकलौती बेटी है। इसलिए जहां भी जाती हैं उसे जरूर साथ लेकर जाती हैं। बिजनेस मीटिंग्स में भी साथ रहती है, वह समझदार है और मीटिंग के दौरान शांति से बैठती है। 

मां सोनिया ने के मुताबिक धनारी उनकी इकलौती बेटी है। इसलिए जहां भी जाती हैं उसे जरूर साथ लेकर जाती हैं। बिजनेस मीटिंग्स में भी साथ रहती है, वह समझदार है और मीटिंग के दौरान शांति से बैठती है। 

सोनिया अपनी बेटी धनारी को घर पर कभी भी बहलाने के लिए धनारी को मोबाइल फोन, टेबलेट या अन्य कोई गैजेट्स कभी नहीं देतीं। उसे माइंड गेम्स पसंद है। प्लास्टिक पैकिंग वाले फूड से भी दूर ही रहती हैं। बेटी जिद नहीं करे इसलिए घर का कोई और सदस्य भी डिब्बाबंद प्लास्टिक पैकिंग वाली कोई खाद्य सामग्री नहीं खाते। 
 

सोनिया अपनी बेटी धनारी को घर पर कभी भी बहलाने के लिए धनारी को मोबाइल फोन, टेबलेट या अन्य कोई गैजेट्स कभी नहीं देतीं। उसे माइंड गेम्स पसंद है। प्लास्टिक पैकिंग वाले फूड से भी दूर ही रहती हैं। बेटी जिद नहीं करे इसलिए घर का कोई और सदस्य भी डिब्बाबंद प्लास्टिक पैकिंग वाली कोई खाद्य सामग्री नहीं खाते। 
 

सोनिया बताती हैं कि जहां बच्चे सफर के दौरान रोते-बिलखते हैं, वहीं धनारी ट्रेवलिंग के दौरान हंसती है। उसका फेस हमेशा स्माइलिंग रहता है। इसी वजह से फ्लाइट में सफर करने वाले अन्य यात्री उसे दुलारते हैं, और एयरलाइंस का स्टॉफ साथ में सेल्फी लेता है।
 

सोनिया बताती हैं कि जहां बच्चे सफर के दौरान रोते-बिलखते हैं, वहीं धनारी ट्रेवलिंग के दौरान हंसती है। उसका फेस हमेशा स्माइलिंग रहता है। इसी वजह से फ्लाइट में सफर करने वाले अन्य यात्री उसे दुलारते हैं, और एयरलाइंस का स्टॉफ साथ में सेल्फी लेता है।
 

थाईलैंड के एक स्कूल में कक्षा दो में पढ़ने वाली धनारी को हवाई यात्रा के दौरान ड्राइंग बनाना पसंद है। कई देश तो ऐसे हैं, जहां धनारी 4-5 बार गई है, यहां की एयरलाइंस का स्टाफ भी उसे पहचानने लगा है। एयर होस्टेस उसके साथ सेल्फी लेती हैं। साथ ही कुछ न कुछ उपहार देती है। वह घंटों तक एयर होस्टेस से बातें करती है। 
 

थाईलैंड के एक स्कूल में कक्षा दो में पढ़ने वाली धनारी को हवाई यात्रा के दौरान ड्राइंग बनाना पसंद है। कई देश तो ऐसे हैं, जहां धनारी 4-5 बार गई है, यहां की एयरलाइंस का स्टाफ भी उसे पहचानने लगा है। एयर होस्टेस उसके साथ सेल्फी लेती हैं। साथ ही कुछ न कुछ उपहार देती है। वह घंटों तक एयर होस्टेस से बातें करती है। 
 

पहली बार धनारी ने चार साल पहले थाईलैंड से भारत की यात्रा की थी, जबकि 40 देशों में से वे सबसे आखिरी में नाइगर की यात्रा कर लौटी हैं। सोनिया ने बताया कि पीहर पक्ष के लोग अजमेर में रहते हैं, जबकि ससुराल पक्ष के लोग और काफी रिश्तेदार अजमेर में बसे हुए हैं।

पहली बार धनारी ने चार साल पहले थाईलैंड से भारत की यात्रा की थी, जबकि 40 देशों में से वे सबसे आखिरी में नाइगर की यात्रा कर लौटी हैं। सोनिया ने बताया कि पीहर पक्ष के लोग अजमेर में रहते हैं, जबकि ससुराल पक्ष के लोग और काफी रिश्तेदार अजमेर में बसे हुए हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios