Asianet News Hindi

ऐसे खत्म होगा कोरोनाः मुस्लिम धर्मगुरु के जनाजे में 20 की जगह शामिल हुए 20 हजार लोग, बेबस नजर आई पुलिस

First Published May 11, 2021, 11:30 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बदायूं (Uttar Pradesh) । जिला काजी हजरत शेख अब्दुल हमीद मुहम्मद सालिमुल कादरी के जनाजे में शामिल होने वालों पर पुलिस ने कार्रवाई किया है। सोमवार रात इस मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ महामारी अधिनियम के तहत केस दर्ज किया है। बता दें कि शनिवार को मुस्लिम धर्मगुरू का इंतकाल हो गया था। जिसके बाद उनके जनाजे में 20 लोगों की जगह 15-20 हजार लोग उमड़ पड़े थे। लोग कोविड प्रोटोकॉल को दर किनार कर जनाजे में शामिल हुए थे और उनके शव को कंधा देने की चाह रखे हुए थे। वहीं, इस दौरान पुलिस भी बेबस नजर आई थी, जिसकी तस्वीरें और वीडियो सोशल मीडिया पर भी खूब वायरल हुई। 

यूपी सरकार ने अंतिम संस्कार में सिर्फ 20 लोगों के शामिल होने की अनुमति दी है। लेकिन, शनिवार की शाम कादरी साहब के निधन हो गया। जिसकी खबर मिलते ही लोग गम में डूब गए। उनके घर जिलेभर से हजारों की संख्या में पहुंचना शुरू हो गए। 

यूपी सरकार ने अंतिम संस्कार में सिर्फ 20 लोगों के शामिल होने की अनुमति दी है। लेकिन, शनिवार की शाम कादरी साहब के निधन हो गया। जिसकी खबर मिलते ही लोग गम में डूब गए। उनके घर जिलेभर से हजारों की संख्या में पहुंचना शुरू हो गए। 

सुबह नौ बजे तक भीड़ इतनी ज्यादा हो गई कि लोगों को अंदाजा लगाना मुश्किल हो गया। कोरोना से बेखौफ लोगों ने सारे नियम ताक पर रख दिया। 15-20 हजार लोगों के सामने पुलिस भी बेबस नजर आई। 
 

सुबह नौ बजे तक भीड़ इतनी ज्यादा हो गई कि लोगों को अंदाजा लगाना मुश्किल हो गया। कोरोना से बेखौफ लोगों ने सारे नियम ताक पर रख दिया। 15-20 हजार लोगों के सामने पुलिस भी बेबस नजर आई। 
 

यह मामला सदर कोतवाली पुलिस ने दर्ज किया। SSP बदायूं संकल्प शर्मा ने SP सिटी प्रवीण सिंह चौहान को जांच सौंपी है।

यह मामला सदर कोतवाली पुलिस ने दर्ज किया। SSP बदायूं संकल्प शर्मा ने SP सिटी प्रवीण सिंह चौहान को जांच सौंपी है।

सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने पर बदायूं पुलिस की फजीहत होने लगी। इससे बचने के लिए महामारी अधिनियम की धाराओं-188, 269 और 270 के तहत मामला दर्ज किया है।

सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने पर बदायूं पुलिस की फजीहत होने लगी। इससे बचने के लिए महामारी अधिनियम की धाराओं-188, 269 और 270 के तहत मामला दर्ज किया है।

बताते चले कि कादरी साहब का मुसलमानों के साथ-साथ हिंदू भी सम्मान करते थे। उन्होंने कई मसलों पर सरकार का साथ दिया। चाहे वह नागरिकता संशोधन कानून का मसला रहा हो या कोविड-19 प्रोटोकॉल के पालन की बात। लोगों को नियम-कानून का पालन करने के लिए हमेशा कहते रहे।

बताते चले कि कादरी साहब का मुसलमानों के साथ-साथ हिंदू भी सम्मान करते थे। उन्होंने कई मसलों पर सरकार का साथ दिया। चाहे वह नागरिकता संशोधन कानून का मसला रहा हो या कोविड-19 प्रोटोकॉल के पालन की बात। लोगों को नियम-कानून का पालन करने के लिए हमेशा कहते रहे।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios