Asianet News Hindi

नशे में धुत पिता ने तीन मासूम बेटियों को नदी में फेंका, तलाश जारी, आरोपी पिता गिरफ्तार

First Published Jun 1, 2020, 11:27 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

संतकबीर नगर(Uttar Pradesh).  यूपी में बाप-बेटी के गहरे व पवित्र रिश्ते को दागदार करने वाला एक मामला सामने आया है। यूपी के संतकबीर नगर में नशे के आदी पिता ने अपनी तीन मासूम बेटियों को नदी में फेंक दिया। घंटों बाद भी उनका कोई पता नही चला है। गोताखोर उनकी तलाश में जुटे हुए हैं । पुलिस ने एसडीआरएफ की टीम को भी सर्च के लिए बुलाया है। पुलिस ने आरोपी बाप व उस काम में उसकी मदद करने वाले उसके एक दोस्त को गिरफ्तार कर लिया है।
 

मामला यूपी के संतकबीरनगर के बिड़हर पुल का है। यहां  धनघटा थाना क्षेत्र के डीहवा गांव निवासी सरफराज बाइक से पहुंचा। बाइक पर उसकी तीन बेटियां सना साढ़े सात साल, सबा साढ़े चार और समां ढाई साल भी थीं। उसके साथ उसका एक दोस्त भी था। उसने बाइक पुल पर रोकी और तीनों बच्चियों को एक-एक कर पुल से घाघरा नदी में फेंक दिया।
 

मामला यूपी के संतकबीरनगर के बिड़हर पुल का है। यहां  धनघटा थाना क्षेत्र के डीहवा गांव निवासी सरफराज बाइक से पहुंचा। बाइक पर उसकी तीन बेटियां सना साढ़े सात साल, सबा साढ़े चार और समां ढाई साल भी थीं। उसके साथ उसका एक दोस्त भी था। उसने बाइक पुल पर रोकी और तीनों बच्चियों को एक-एक कर पुल से घाघरा नदी में फेंक दिया।
 

सरफराज को ऐसा करते उधर से गुजर रहे लोगों ने देखा तो तुरंत इसकी सूचना पुलिस को दी। सूचना पाते ही पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने तुरंत गोताखोरों को तीनों बच्चियों की तलाश में पानी में भेजा। दूसरी ओर एसडीआरएफ की टीम भी बुलाई गई है।
 

सरफराज को ऐसा करते उधर से गुजर रहे लोगों ने देखा तो तुरंत इसकी सूचना पुलिस को दी। सूचना पाते ही पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने तुरंत गोताखोरों को तीनों बच्चियों की तलाश में पानी में भेजा। दूसरी ओर एसडीआरएफ की टीम भी बुलाई गई है।
 

एसपी ब्रजेश सिंह ने बताया की सरफराज नाम का व्यक्ति मुम्बई में रहकर ट्रक चलाता है। 20 दिन पहले ही वह मुम्बई से वापस आया है। सरफराज की 2012 में शादी हुई थी। उन्होंने बताया कि नशे का आदी होने के कारण उसके पारिवार में हमेशा पारिवारिक कलह होती रहती है। 

एसपी ब्रजेश सिंह ने बताया की सरफराज नाम का व्यक्ति मुम्बई में रहकर ट्रक चलाता है। 20 दिन पहले ही वह मुम्बई से वापस आया है। सरफराज की 2012 में शादी हुई थी। उन्होंने बताया कि नशे का आदी होने के कारण उसके पारिवार में हमेशा पारिवारिक कलह होती रहती है। 

सोमवार सुबह नशे की हालत में अपने दोस्त की मदद से वह मोटरसाइकिल से अपनी तीन मासूम बेटियों को लेकर पुल पर पहुंचा और उन्हें नदी में फेंक दिया। चौथी बच्ची सात महीने की अनम को भी वह ले जाना चाहता था लेकिन वो उसे नही ले जा सका।

सोमवार सुबह नशे की हालत में अपने दोस्त की मदद से वह मोटरसाइकिल से अपनी तीन मासूम बेटियों को लेकर पुल पर पहुंचा और उन्हें नदी में फेंक दिया। चौथी बच्ची सात महीने की अनम को भी वह ले जाना चाहता था लेकिन वो उसे नही ले जा सका।

एसपी ने बताया कि बच्चियों की तलाश के लिए गोताखोर लगाए गए हैं। एसडीआरएफ की टीम को भी मदद के लिए बुलाया गया है। हांलाकि अभी तक उनका कुछ पता नही चला है। आरोपी पिता व उसके दोस्त को दब्बिश देकर गिरफ्तार कर लिया गया है।
 

एसपी ने बताया कि बच्चियों की तलाश के लिए गोताखोर लगाए गए हैं। एसडीआरएफ की टीम को भी मदद के लिए बुलाया गया है। हांलाकि अभी तक उनका कुछ पता नही चला है। आरोपी पिता व उसके दोस्त को दब्बिश देकर गिरफ्तार कर लिया गया है।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios