Asianet News Hindi

पुलिस लाइन में लगाई गई Female dog की प्रतिमा, हेड कांस्टेबल से बनी थी ASP, 6 साल में किए थे 49 सनसनीखेज खुलासे

First Published Feb 7, 2021, 11:27 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुजफ्फरनगर (Uttar Pradesh) । एएसपी रैंक की फीमेल डॉग क्यूटिक्स उर्फ टिंकी की प्रतिमा पुलिस लाइन में लगाई गई है। प्रतिमा का अनावरण एसपी सिटी अर्पित विजय वर्गी की मौजूदगी में डॉग हैंडलर सुनील कुमार ने किया। बता दें कि छह वर्ष से तैनात एएसपी क्यूटिक्स उर्फ टिंकी का 3 नवंबर को बीमारी के चलते निधन हो गया था। ऐसे में हम आपको इस फीमेल डॉग क्यूटिक्स उर्फ टिंकी के बारे में बता रहे हैं। 

साल 2013 में मध्य प्रदेश के टेकनपुर स्थित बीएसएफ प्रशिक्षण केंद्र से प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद मादा श्वान क्यूटिक्स उर्फ टिंकी को डाग स्क्वाड में बतौर हेड कांस्टेबल शामिल किया गया था। 
 

साल 2013 में मध्य प्रदेश के टेकनपुर स्थित बीएसएफ प्रशिक्षण केंद्र से प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद मादा श्वान क्यूटिक्स उर्फ टिंकी को डाग स्क्वाड में बतौर हेड कांस्टेबल शामिल किया गया था। 
 

क्यूटिक्स उर्फ टिंकी के योगदान को कभी भुला नहीं पाएगा। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक सूंघने की गजब ताकत के चलते उसने कई बड़ी वारदात के राजफाश में अहम भूमिका निभाई थी। 

क्यूटिक्स उर्फ टिंकी के योगदान को कभी भुला नहीं पाएगा। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक सूंघने की गजब ताकत के चलते उसने कई बड़ी वारदात के राजफाश में अहम भूमिका निभाई थी। 

बताते हैं कि प्रतिभा के बल पर टिंकी एएसपी पद तक पहुंची थी। बात अगर टिंकी के कारनामे की करें तो उसने हत्या, लूट और चोरी सहित 49 संगीन मामलों का खुलासा करने में अहम भूमिका निभाई थी। 

बताते हैं कि प्रतिभा के बल पर टिंकी एएसपी पद तक पहुंची थी। बात अगर टिंकी के कारनामे की करें तो उसने हत्या, लूट और चोरी सहित 49 संगीन मामलों का खुलासा करने में अहम भूमिका निभाई थी। 

भौराकलां थानाक्षेत्र के गांव कपूरगढ़ में युवती की हत्या करके शव को भूसे में छिपा दिया गया था। टिंकी ने शव को बरामद कराने और वारदात करने वाली बड़ी बहन को पकड़वाने में पुलिस का सहयोग किया था।

भौराकलां थानाक्षेत्र के गांव कपूरगढ़ में युवती की हत्या करके शव को भूसे में छिपा दिया गया था। टिंकी ने शव को बरामद कराने और वारदात करने वाली बड़ी बहन को पकड़वाने में पुलिस का सहयोग किया था।

इसी तरह साल 2018 में बुढ़ाना में अवैध संबंधों के चलते हत्या के बाद लाश को बोरे में बंद कर तालाब में फेंक दिया गया था। टिंकी ने वारदात के चंद दिन बाद ही शव बरामद करा दिया था।

फोटो सोर्स अमर उजाला

इसी तरह साल 2018 में बुढ़ाना में अवैध संबंधों के चलते हत्या के बाद लाश को बोरे में बंद कर तालाब में फेंक दिया गया था। टिंकी ने वारदात के चंद दिन बाद ही शव बरामद करा दिया था।

फोटो सोर्स अमर उजाला

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios