यूपी में पैदल भी नहीं आ पाएंगे प्रवासी, इस तरह से जाएंगे घर, CM योगी ने तैयार किया ये प्लान

First Published 17, May 2020, 9:45 AM

लखनऊ (Uttar Pradesh) । लॉकडाउन के दौरान दूसरे राज्यों में फंसे प्रवासियों के गैर कानूनी तरीके से आने को लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ सख्त हो गए हैं। सीएम ने निर्देश दिया है कि यूपी में पैदल, साइकिल या ट्रक से आने वालों को रोका जाए। बसों के जरिए श्रमिकों को घर पहुंचाया जाए। वहीं, ट्रकों में सवारी ढोकर लाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। सीएम ने प्रवासी कामगारों के लिए ट्रेनों की संख्या को बढ़ाने पर भी जोर दिया। इस व्यवस्था का पालन कराने के लिए हर थाने में टीम बनाने को कहा है। साथ ही यूपी में प्रवेश करते ही कामगारों व श्रमिकों को सबसे पहले पेयजल और भोजन दिया जाए।

<p>सीएम योगी आदित्यनाथ का कहना है कि यूपी सरकार पहले से ही सभी प्रवासी, कमजोर वर्ग के लोगों को रहने खाने, चिकित्सा के अलावा राशन किट और भरण-पोषण भत्ता उपलब्ध करा रही है, जो जहां है वहां से उनके घर तक पहुंचाने की निःशुल्क व्यवस्था कर रही है, इसके लिए 10,000 बसें लगाई गई हैं।</p>

सीएम योगी आदित्यनाथ का कहना है कि यूपी सरकार पहले से ही सभी प्रवासी, कमजोर वर्ग के लोगों को रहने खाने, चिकित्सा के अलावा राशन किट और भरण-पोषण भत्ता उपलब्ध करा रही है, जो जहां है वहां से उनके घर तक पहुंचाने की निःशुल्क व्यवस्था कर रही है, इसके लिए 10,000 बसें लगाई गई हैं।

<p>प्रवासी श्रमिकों के साथ लगातार हो रही सड़क दुर्घटनाओं पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चिंता जताई है। उन्होंने सभी जिलाधिकारियों और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों/पुलिस अधीक्षकों को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है कि कोई भी प्रवासी कामगार पैदल या बाइक से यात्रा न करने पाए। <br />
 </p>

प्रवासी श्रमिकों के साथ लगातार हो रही सड़क दुर्घटनाओं पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चिंता जताई है। उन्होंने सभी जिलाधिकारियों और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों/पुलिस अधीक्षकों को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है कि कोई भी प्रवासी कामगार पैदल या बाइक से यात्रा न करने पाए। 
 

<p><br />
प्रवासी श्रमिकों को पैदल चलने या बाइक से यात्रा करने से रोकने के लिए उन्होंने हर थाना क्षेत्र में एक टीम गठित करने का निर्देश दिया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्रक व अन्य सुरक्षित वाहनों से सवारी ढोने वालों के खिलाफ भी सख्त कार्रवाई का निर्देश दिया है।</p>


प्रवासी श्रमिकों को पैदल चलने या बाइक से यात्रा करने से रोकने के लिए उन्होंने हर थाना क्षेत्र में एक टीम गठित करने का निर्देश दिया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्रक व अन्य सुरक्षित वाहनों से सवारी ढोने वालों के खिलाफ भी सख्त कार्रवाई का निर्देश दिया है।

<p><br />
सीएम योगी ने कहा कि संबंधित राज्यों के पुलिस महानिदेशक से यह अनुरोध किया जाए कि प्रवासी श्रमिकों को ट्रक से नहीं, बल्कि बस या रेल जैसे सुरक्षित साधनों से भेजा जाए।</p>


सीएम योगी ने कहा कि संबंधित राज्यों के पुलिस महानिदेशक से यह अनुरोध किया जाए कि प्रवासी श्रमिकों को ट्रक से नहीं, बल्कि बस या रेल जैसे सुरक्षित साधनों से भेजा जाए।

<p><br />
सीएम ने यह भी कहा कि विभिन्न राज्यों से ट्रेन से आ रहे प्रवासी श्रमिकों को घर भेजने के लिए परिवहन निगम की बसें उपलब्ध न होने पर निजी और स्कूल बसों का भी इस्तेमाल किया जाए।<br />
 </p>


सीएम ने यह भी कहा कि विभिन्न राज्यों से ट्रेन से आ रहे प्रवासी श्रमिकों को घर भेजने के लिए परिवहन निगम की बसें उपलब्ध न होने पर निजी और स्कूल बसों का भी इस्तेमाल किया जाए।
 

<p><br />
अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने कहा है कि सीएम योगी आदित्यनाथ ने प्रवासी श्रमिकों के लिए दिल्ली और एनसीआर क्षेत्र से पर्याप्त संख्या में रेलगाड़ियां चलवाने के लिए कहा है। </p>


अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने कहा है कि सीएम योगी आदित्यनाथ ने प्रवासी श्रमिकों के लिए दिल्ली और एनसीआर क्षेत्र से पर्याप्त संख्या में रेलगाड़ियां चलवाने के लिए कहा है। 

loader