Asianet News Hindi

घर, खेत से लेकर नाव पर भी पैसा पहुंचा रहा डाक विभाग, बस करना होगा एक काम

First Published Apr 30, 2020, 5:53 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ (Uttar Pradesh) । कोरोना संक्रमण के चलते लॉक डाउन के समय बैंक में पैसा होने के बाद परेशान होने की जरूरत नहीं है, क्योंकि घर, खेत से लेकर नाव तक मतलब हर जगह आपको पैसा डाक विभाग पहुंचा रहा है। विभाग का दावा है कि यूपी में गांवों और दूरदराज के क्षेत्रों में डाक विभाग हर रोज 80 हजार से अधिक लोगों तक पैसा पहुंचा रहा है, बस योजना का लाभ पाने के लिए आपके बैंक एकाउंट में आधार कार्ड का लिंक होना जरूरी है।  साथ ही योजना का लाभ पाने के लिए संबंधित डाकिए या ग्रामीण डाक सेवक को कॉल करना होगा। यूपी के चीफ पोस्ट मास्टर जनरल कौशलेंद्र कुमार सिन्हा ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रों में डाकिए व ग्रामीण डाक सेवक आधार इनेबल्ड पेमेंट सिस्टम के माध्यम से दूसरे बैंकों से 140 करोड़ रुपए से अधिक की रकम निकालकर अब तक जरूरतमंदों को दे चुके हैं। डाक विभाग की इस पहल की केंद्रीय संचार मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने भी ट्वीट करके तारीफ की है।

लखनऊ मुख्यालय परिक्षेत्र के निदेशक डाक सेवाएं कृष्ण कुमार यादव ने बताया कि घर की रसोई से लेकर खेतों तक, गांव की गलियों से लेकर नदियों में नाव तक पर जाकर डाकिया लोगों को एईपीएस के माध्यम से उनके बैंकों से पैसे निकालने की सुविधा दे रहे हैं। 
 

लखनऊ मुख्यालय परिक्षेत्र के निदेशक डाक सेवाएं कृष्ण कुमार यादव ने बताया कि घर की रसोई से लेकर खेतों तक, गांव की गलियों से लेकर नदियों में नाव तक पर जाकर डाकिया लोगों को एईपीएस के माध्यम से उनके बैंकों से पैसे निकालने की सुविधा दे रहे हैं। 
 


जिला प्रशासन के साथ विभिन्न स्कूलों व पंचायत भवनों पर कैंप लगाकर भी लोगों को रकम निकालने की सुविधा दी जा रही है। महामारी के इस दौर में डाककर्मी सोशल डिस्टेंसिंग व पूरी एहतियात बरतते हुए समर्पण भाव के साथ कार्य कर रहे हैं। 
 


जिला प्रशासन के साथ विभिन्न स्कूलों व पंचायत भवनों पर कैंप लगाकर भी लोगों को रकम निकालने की सुविधा दी जा रही है। महामारी के इस दौर में डाककर्मी सोशल डिस्टेंसिंग व पूरी एहतियात बरतते हुए समर्पण भाव के साथ कार्य कर रहे हैं। 
 


डाक निदेशक कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि डाकियों के पास उपलब्ध माइक्रो एटीएम से प्रतिदिन एक व्यक्ति द्वारा आधार लिंक्ड अपने बैंक खाते से दस हजार रूपए तक की रकम निकाली जा सकती है। इसके लिए किसी भी प्रकार का चार्ज नहीं लिया जाता है।
 


डाक निदेशक कृष्ण कुमार यादव ने कहा कि डाकियों के पास उपलब्ध माइक्रो एटीएम से प्रतिदिन एक व्यक्ति द्वारा आधार लिंक्ड अपने बैंक खाते से दस हजार रूपए तक की रकम निकाली जा सकती है। इसके लिए किसी भी प्रकार का चार्ज नहीं लिया जाता है।
 


यूपी के चीफ पोस्ट मास्टर जनरल कौशलेंद्र कुमार सिन्हा ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रों में डाकिए व ग्रामीण डाक सेवक, आधार इनेबल्ड पेमेंट सिस्टम के माध्यम से दूसरे बैंकों से 140 करोड़ रुपए से अधिक की रकम निकालकर अब तक जरूरतमंदों को दे चुके हैं।
 


यूपी के चीफ पोस्ट मास्टर जनरल कौशलेंद्र कुमार सिन्हा ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रों में डाकिए व ग्रामीण डाक सेवक, आधार इनेबल्ड पेमेंट सिस्टम के माध्यम से दूसरे बैंकों से 140 करोड़ रुपए से अधिक की रकम निकालकर अब तक जरूरतमंदों को दे चुके हैं।
 

फ्री में इस योजना का लाभ पाने के लिए संबंधित डाकिए या ग्रामीण डाक सेवक को कॉल करना होगा। डाक विभाग की इस पहल की केंद्रीय संचार मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने भी ट्वीट करके तारीफ की है। 

फ्री में इस योजना का लाभ पाने के लिए संबंधित डाकिए या ग्रामीण डाक सेवक को कॉल करना होगा। डाक विभाग की इस पहल की केंद्रीय संचार मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने भी ट्वीट करके तारीफ की है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios