Asianet News Hindi

यूपी के इन पांच शहरों पर बढ़ा कोरोना का खतरा, तब्लीगी जमात है बड़ी वजह

First Published Apr 4, 2020, 8:55 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ (Uttar Pradesh) । कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को लेकर सरकार परेशान है। बावजूद इसके यूपी के कुछ जिलों में कोरोना वायरस का संक्रमण कुछ ज्यादा ही बढ़ रहा है। कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित प्रदेश का नोएडा है। जहां इस महामारी को नियंत्रित करने के लिए यूपी सरकार खास ध्यान दे रही है। जिन-जिन सोसायटी में कोरोना के मामले सामने आ रहे हैं उन्हें सील किया जा रहा है। लेकिन, इसके साथ ही पांच ऐसे जिलें हैं, जहां लॉक डाउन के बाद भी कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ रही है, जिसमें राजधानी लखनऊ, ताज नगरी आगरा भी शामिल है। वहीं, माना जा रहा है कि इसकी असली वजह तब्लीगी जमात है, जिनमें बहुत से लोग कोरोना संक्रमित हैं और लोगों को अपने संपर्क में लेकर उन्हें भी इसका शिकार बना रहे हैं।
 

लखनऊ के कसाईबाड़ा इलाके में शुक्रवार को कोरोना के 12 नए मामले सामने आए। सभी संक्रमित लोगों ने दिल्ली के तबलीगी जमात में हिस्सा लिया था। इतनी बड़ी संख्या में संक्रमित लोगों के मिलने के बाद पुलिस ने पूरे कसाईबाड़ा इलाके को सील कर दिया है। इससे पहले लखनऊ में कोरोना के 10 मामले सामने आए थे।

लखनऊ के कसाईबाड़ा इलाके में शुक्रवार को कोरोना के 12 नए मामले सामने आए। सभी संक्रमित लोगों ने दिल्ली के तबलीगी जमात में हिस्सा लिया था। इतनी बड़ी संख्या में संक्रमित लोगों के मिलने के बाद पुलिस ने पूरे कसाईबाड़ा इलाके को सील कर दिया है। इससे पहले लखनऊ में कोरोना के 10 मामले सामने आए थे।

मेरठ में कोरोना वायरस के शुक्रवार तक 24 मामले सामने आए हैं। जिले में एक मरीज की कोरोना से मौत भी हो चुकी है। जानकारी के अनुसार, कुल 195 लोगों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। गुरुवार को मेरठ में 5 नए मामले सामने आए थे। इसमें चार दिल्ली के तबलीगी मरकज से संबंधित हैं।

मेरठ में कोरोना वायरस के शुक्रवार तक 24 मामले सामने आए हैं। जिले में एक मरीज की कोरोना से मौत भी हो चुकी है। जानकारी के अनुसार, कुल 195 लोगों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। गुरुवार को मेरठ में 5 नए मामले सामने आए थे। इसमें चार दिल्ली के तबलीगी मरकज से संबंधित हैं।

आगरा में शुक्रवार को कोरोना के 6 नए मामले सामने आए। इससे पहले जिले में 12 कोरोना पॉजिटिव मामले थे। अब जिले में कोरोना के कुल 18 मरीज हो गए हैं। शुक्रवार को सामने आए नए मामलों के सभी मरीज जमात में हिस्सा ले चुके थे।

आगरा में शुक्रवार को कोरोना के 6 नए मामले सामने आए। इससे पहले जिले में 12 कोरोना पॉजिटिव मामले थे। अब जिले में कोरोना के कुल 18 मरीज हो गए हैं। शुक्रवार को सामने आए नए मामलों के सभी मरीज जमात में हिस्सा ले चुके थे।

गोरखपुर में भी लोग कोरोना वायरस को लेकर चिंतित हो गए हैं। शहर के मेडिकल कॉलेज में अब तक दो लोगों की मौत चुकी है। इनमें एक बस्ती और एक देवरिया जिले का निवासी था। शुक्रवार को कोरोना से संक्रमित यहां प्रदेश की तीसरे मौत हो गई।

गोरखपुर में भी लोग कोरोना वायरस को लेकर चिंतित हो गए हैं। शहर के मेडिकल कॉलेज में अब तक दो लोगों की मौत चुकी है। इनमें एक बस्ती और एक देवरिया जिले का निवासी था। शुक्रवार को कोरोना से संक्रमित यहां प्रदेश की तीसरे मौत हो गई।

स्वास्थ्य सेवा निदेशालय की ओर से शुक्रवार शाम जारी बुलेटिन में कहा गया कि अब तक कोरोना वायरस से पीड़ित लोगों की संख्या बढ़कर 174 हो गई है। बुलेटिन के मुताबिक सबसे अधिक 50 मामले गौतम बुद्ध नगर (नोएडा) के हैं। जिन-जिन सोसायटी में कोरोना के मामले सामने आ रहे हैं उन्हें सील किया जा रहा है।

स्वास्थ्य सेवा निदेशालय की ओर से शुक्रवार शाम जारी बुलेटिन में कहा गया कि अब तक कोरोना वायरस से पीड़ित लोगों की संख्या बढ़कर 174 हो गई है। बुलेटिन के मुताबिक सबसे अधिक 50 मामले गौतम बुद्ध नगर (नोएडा) के हैं। जिन-जिन सोसायटी में कोरोना के मामले सामने आ रहे हैं उन्हें सील किया जा रहा है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios