Asianet News Hindi

UP पुलिस ने मानी कनिका कपूर की बात, 40 सवालों की लिस्ट लेकर पहुंची घर, बेबी डॉल ने दिए यह जवाब

First Published Apr 30, 2020, 7:44 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ (Uttar Pradesh)। बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर ने अपना बयान दर्ज कराया है। अपने बयान में कनिका ने खुद को बेकसूर बताया है। बेबी डॉल के भी नाम से प्रसिद्ध कनिका कपूर का का कहना है कि 10 मार्च को वह यूके से भारत आई थीं। इस दौरान उनको खुद को क्वारंटाइन करने का कोई आदेश जारी नहीं हुआ था। इंस्पेक्टर सरोजनीनगर आनंद कुमार शाही का कहना है कि कनिका से पूछताछ के लिए 40 सवालों की सूची बनाई गई थी, जिसके आधार पर उनसे पूछताछ की गई है। बता दें कि पुलिस ने कनिका के घर जाकर बयान के लिए नोटिस चस्पा की थी। कनिका को 30 अप्रैल को बयान के लिए थाने में बुलाया था। हालांकि, कनिका ने पुलिस से घर आकर ही बयान लेने का आग्रह किया, जिसके बाद पुलिस की टीम उनके घर गई थी।
 


पुलिस ने कनिका के घर जाकर बयान के लिए नोटिस चस्पा की थी। उनके खिलाफ महामारी अधिनियम और लॉकडाउन का उल्लंघन करने की एफआइआर दर्ज की गई थी। 
 


पुलिस ने कनिका के घर जाकर बयान के लिए नोटिस चस्पा की थी। उनके खिलाफ महामारी अधिनियम और लॉकडाउन का उल्लंघन करने की एफआइआर दर्ज की गई थी। 
 


30 अप्रैल को बयान के लिए कनिका कपूर को थाने में बुलाया गया था। हालांकि, कनिका ने पुलिस से घर ही बयान लेने का आग्रह किया था, जिसके बाद पुलिस उनके घर पहुंची थी। 


30 अप्रैल को बयान के लिए कनिका कपूर को थाने में बुलाया गया था। हालांकि, कनिका ने पुलिस से घर ही बयान लेने का आग्रह किया था, जिसके बाद पुलिस उनके घर पहुंची थी। 


कनिका कपूर का बयान लेने के लिए विवेचक पुलिस टीम के साथ उनके महानगर स्थित आवास पर पहुंचे थे। कनिका से पूछताछ के लिए 40 सवालों की सूची बनाई गई थी, जिसके आधार पर उनसे पूछताछ की गई है।


कनिका कपूर का बयान लेने के लिए विवेचक पुलिस टीम के साथ उनके महानगर स्थित आवास पर पहुंचे थे। कनिका से पूछताछ के लिए 40 सवालों की सूची बनाई गई थी, जिसके आधार पर उनसे पूछताछ की गई है।

कनिका कपूर ने खुद को निर्दोष बताते हुए उनके खिलाफ दर्ज एफआइआर को गलत बताया है। उनका कहना है उनके संपर्क में आए सभी लोग स्वस्थ हैं और किसी को कोरोना का संक्रमण भी नहीं हुआ है। 
 

कनिका कपूर ने खुद को निर्दोष बताते हुए उनके खिलाफ दर्ज एफआइआर को गलत बताया है। उनका कहना है उनके संपर्क में आए सभी लोग स्वस्थ हैं और किसी को कोरोना का संक्रमण भी नहीं हुआ है। 
 


पुलिस ने कनिका से यूके से आने से लेकर कोरोना संक्रमित होने तक उनकी यात्रा के बारे में जानकारी ली। कनिका ने बताया कि 10 मार्च को वह ब्रिटेन से मुंबई आई थीं। मुंबई एयरपोर्ट पर उनकी स्क्रीनिंग हुई थी। 


पुलिस ने कनिका से यूके से आने से लेकर कोरोना संक्रमित होने तक उनकी यात्रा के बारे में जानकारी ली। कनिका ने बताया कि 10 मार्च को वह ब्रिटेन से मुंबई आई थीं। मुंबई एयरपोर्ट पर उनकी स्क्रीनिंग हुई थी। 


11 मार्च को लखनऊ आईं। डोमेस्टिक एयरपोर्ट पर स्क्रीनिंग की कोई भी व्यवस्था नहीं थी, जबकि 18 मार्च को यूके से आने वालों के लिए एडवाइजरी जारी की गई थी।
 


11 मार्च को लखनऊ आईं। डोमेस्टिक एयरपोर्ट पर स्क्रीनिंग की कोई भी व्यवस्था नहीं थी, जबकि 18 मार्च को यूके से आने वालों के लिए एडवाइजरी जारी की गई थी।
 

कनिका कपूर ने कहा कि इस दौरान लोगों को खुद क्वारंटाइन करने की सलाह दी गई थी। तब तक उनमें कोई लक्षण भी नहीं था। जैसे ही उनको पता चला, उन्होंने खुद चिकित्सकों से संपर्क किया था। 

कनिका कपूर ने कहा कि इस दौरान लोगों को खुद क्वारंटाइन करने की सलाह दी गई थी। तब तक उनमें कोई लक्षण भी नहीं था। जैसे ही उनको पता चला, उन्होंने खुद चिकित्सकों से संपर्क किया था। 


कनिका का कहना है कि उनकी ओर से राजधानी लखनऊ में कोई पार्टी आयोजित नहीं की गई थी। यही नहीं, लखनऊ में वह किसी पार्टी में नही, बल्कि अपने मित्र के यहां लंच और डिनर में शामिल हुई थीं। 


कनिका का कहना है कि उनकी ओर से राजधानी लखनऊ में कोई पार्टी आयोजित नहीं की गई थी। यही नहीं, लखनऊ में वह किसी पार्टी में नही, बल्कि अपने मित्र के यहां लंच और डिनर में शामिल हुई थीं। 


बता दें कि लखनऊ में कनिका कपूर ने होली के बाद 14 और 15 मार्च को एक लंच और डिनर में शिरकत किया था। 18 मार्च को तबीयत में कुछ गड़बड़ी महसूस होने पर उन्होंने खुद अपना कोरोना टेस्ट करवाया। डॉक्टरों की राय के बाद अस्पताल और क्‍वारेंटाइन में रहीं।


बता दें कि लखनऊ में कनिका कपूर ने होली के बाद 14 और 15 मार्च को एक लंच और डिनर में शिरकत किया था। 18 मार्च को तबीयत में कुछ गड़बड़ी महसूस होने पर उन्होंने खुद अपना कोरोना टेस्ट करवाया। डॉक्टरों की राय के बाद अस्पताल और क्‍वारेंटाइन में रहीं।

कनिका कपूर ने अपने बयान में कहा कि उनके संपर्क में ब्रिटेन, मुंबई या लखनऊ में आया कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं पाया गया है। लिहाजा उनकी मंशा कोरोना फैलाने की नहीं थी। 

कनिका कपूर ने अपने बयान में कहा कि उनके संपर्क में ब्रिटेन, मुंबई या लखनऊ में आया कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं पाया गया है। लिहाजा उनकी मंशा कोरोना फैलाने की नहीं थी। 

कनिका ने कहा कि खुद अपना कोरोना टेस्ट करवाया और अस्पताल में रहीं, क्‍वारेंटाइन में रहीं। लिहाजा उन्‍होंने कोई लापरवाही भी नहीं बरती। इसलिए उनके ऊपर कोई मामला नहीं बनना चाहिए।
 

कनिका ने कहा कि खुद अपना कोरोना टेस्ट करवाया और अस्पताल में रहीं, क्‍वारेंटाइन में रहीं। लिहाजा उन्‍होंने कोई लापरवाही भी नहीं बरती। इसलिए उनके ऊपर कोई मामला नहीं बनना चाहिए।
 

जांच अधिकारी के मुताबिक आगे की विवेचना में कनिका के बयानों की तस्दीक की जाएगी और आगे की जांच के लिए मुंबई एयरपोर्ट से संपर्क साधा जा रहा है। 

जांच अधिकारी के मुताबिक आगे की विवेचना में कनिका के बयानों की तस्दीक की जाएगी और आगे की जांच के लिए मुंबई एयरपोर्ट से संपर्क साधा जा रहा है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios