Asianet News Hindi

यूपी में दलितों पर जुल्म; मुंह काला किया, पीटा और इस तरह निकाला जुलूस! पुलिस ने बताया एक अलग सच

First Published Jun 10, 2020, 3:38 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

लखनऊ (Uttar Pradesh).  राजधानी लखनऊ में तीन चोरों को ग्रामीणों द्वारा पकड़ कर पूरे गांव में जूतों की माला पहना कर घुमाते हुए वीडियो वायरल हुआ है। ग्रामीणों ने चोरों को पकड़ कर उनके मुंह में कालिख लगाकर पूरे गांव में घुमाया। इसकी सूचना पुलिस को दी गई। जब तक पुलिस मौके पर पहुंचती तब तक इन्हें आधे गांव में घुमाया जा चुका था। किसी ने इसका वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। सोशल मीडिया पर ये वीडियो यूपी में दलितों की पिटाई के नाम से खूब वायरल हो रहा है। हांलाकि इस मामले में पुलिस ने कुछ और ही सच्चाई बताई है।
 

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे एक वीडियो इन दिनों काफी चर्चा में है। इस वीडियो में तीन लोगों को जूतों की माला पहना कर मुंह में कालिख पोत कर गांव में घुमाया जा रहा है। इस वीडियो को दलितों की पिटाई के नाम से खूब वायरल किया जा रहा है। ये मामला लखनऊ के PGI थाना क्षेत्र का है ।

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे एक वीडियो इन दिनों काफी चर्चा में है। इस वीडियो में तीन लोगों को जूतों की माला पहना कर मुंह में कालिख पोत कर गांव में घुमाया जा रहा है। इस वीडियो को दलितों की पिटाई के नाम से खूब वायरल किया जा रहा है। ये मामला लखनऊ के PGI थाना क्षेत्र का है ।

मामला राजधानी लखनऊ के पीजीआई थाना क्षेत्र के बरौली खलीलाबाद गांव का है। यहां बीते सप्ताह एक चोर घर के बाहर रखा फराटा पंखा चोरी कर भागने लगा। पंखा बंद होने पर घर के बाहर सो रहे युवक की नींद खुल गई तो उसने भाग रहे चोर को पकड़ कर कमरे में बंद कर दिया। 

मामला राजधानी लखनऊ के पीजीआई थाना क्षेत्र के बरौली खलीलाबाद गांव का है। यहां बीते सप्ताह एक चोर घर के बाहर रखा फराटा पंखा चोरी कर भागने लगा। पंखा बंद होने पर घर के बाहर सो रहे युवक की नींद खुल गई तो उसने भाग रहे चोर को पकड़ कर कमरे में बंद कर दिया। 

ग्रामीणों ने कड़ाई से पूछताछ की तो उसने अपने गिरोह के दो और सदस्यों के बारे में बताया। जिसके बाद ग्रामीणों ने चोर की निशानदेही पर उसके अन्य दोनों साथियों को पकड़ लिया । 

ग्रामीणों ने कड़ाई से पूछताछ की तो उसने अपने गिरोह के दो और सदस्यों के बारे में बताया। जिसके बाद ग्रामीणों ने चोर की निशानदेही पर उसके अन्य दोनों साथियों को पकड़ लिया । 

जिसके बाद ग्रामीणों ने तीनों चोरों को पकड़ कर खूब पिटाई की। उन्हें जूतों की माला पहनाकर उनके मुंह पर कालिख पोत कर उन्हें पूरे गांव में घुमाया गया।  

जिसके बाद ग्रामीणों ने तीनों चोरों को पकड़ कर खूब पिटाई की। उन्हें जूतों की माला पहनाकर उनके मुंह पर कालिख पोत कर उन्हें पूरे गांव में घुमाया गया।  

पुलिस को सूचना दी गई थी लेकिन जब उन्हें आने में देर हुई तब ग्रामीणों ने तीनों चोरों की पिटाई कर उनका मुंह काला किया और जूतों की माला पहनाकर उन्हें पूरे गांव में घुमाया। इसी बीच किसी ने इस घटना का वीडियो बनाकर वायरल कर दिया ।

पुलिस को सूचना दी गई थी लेकिन जब उन्हें आने में देर हुई तब ग्रामीणों ने तीनों चोरों की पिटाई कर उनका मुंह काला किया और जूतों की माला पहनाकर उन्हें पूरे गांव में घुमाया। इसी बीच किसी ने इस घटना का वीडियो बनाकर वायरल कर दिया ।

तीनों की पहचान गांव के ही दिलीप, हंसराज और राकेश के रूप में हुई है। इंस्पेक्टर पीजीआई केके मिश्रा ने बताया कि इसमें से हंसराज पिछड़ी जाति का व दिलीप व राकेश दलित हैं। इनके खिलाफ चोरी की कई अन्य शिकायतें भी सामने आई हैं ।

तीनों की पहचान गांव के ही दिलीप, हंसराज और राकेश के रूप में हुई है। इंस्पेक्टर पीजीआई केके मिश्रा ने बताया कि इसमें से हंसराज पिछड़ी जाति का व दिलीप व राकेश दलित हैं। इनके खिलाफ चोरी की कई अन्य शिकायतें भी सामने आई हैं ।

इंस्पेक्टर केके मिश्रा ने बताया कि इन तीनों का काम ही स्मैक पीना और नशे का शौक पूरा करने के लिए चोरियां करना है । आए दिन ये गांव में किसी के घर चोरी करते हैं कई शिकायतें पुलिस तक भी आई थीं । लेकिन इस बार ये ग्रामीणों के हत्थे चढ़ गए ।
 

इंस्पेक्टर केके मिश्रा ने बताया कि इन तीनों का काम ही स्मैक पीना और नशे का शौक पूरा करने के लिए चोरियां करना है । आए दिन ये गांव में किसी के घर चोरी करते हैं कई शिकायतें पुलिस तक भी आई थीं । लेकिन इस बार ये ग्रामीणों के हत्थे चढ़ गए ।
 

उन्होंने बताया पीड़ित परिवार और गांव के लोगों ने चोरों को पकड़कर माल बरामद कर कमरे में बंद कर रखा था। पीड़ित की तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज किया गया है। दूसरी ओर पुलिस चोरों के साथ किए गए अमानवीय व्यवहार के लिए गांव वालों के ऊपर भी विधिक कार्रवाई की तैयारी कर रही है । 
 

उन्होंने बताया पीड़ित परिवार और गांव के लोगों ने चोरों को पकड़कर माल बरामद कर कमरे में बंद कर रखा था। पीड़ित की तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज किया गया है। दूसरी ओर पुलिस चोरों के साथ किए गए अमानवीय व्यवहार के लिए गांव वालों के ऊपर भी विधिक कार्रवाई की तैयारी कर रही है । 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios