मास्क लगाकर की शादी, गाड़ी नहीं मिली तो 100 किमी तक साइकिल चला दुल्हन को लाया घर

First Published 30, Apr 2020, 7:54 PM

हमीरपुर (Uttar Pradesh) । कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए देशभर में लॉकडाउन किया गया है। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 30 जून तक किसी भी प्रकार के सार्वजनिक कार्यक्रम पर रोक लगा दिया है। ऐसे में पहले से तय शादियों को लोग टाल दे रहे हैं, लेकिन बहुत से ऐसे भी लोग हैं जो तय तिथि पर अनोखे तरीके से शादी कर रहे हैं, मगर अब तक की शादियों में सबसे अलग शादी महोबा में हुई है। जहां हमीरपुर से जिले से महोबा जिले तक का सफर साइकिल से तय कर दूल्हा एक दिन पहले ही ससुराल पहुंच गया। मास्क लगाकर शादी की और उसके बाद नियमों का पालन करते हुए साइकिल पर ही बैठाकर दुल्हन को लेकर 100 किलोमीटर दूर अपने घर पहुंच गया। जिसकी अब तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रहीं हैं।
 

<p><br />
हमीरपुर जिले के पुतहिया गांव निवासी कल्कू प्रजापति की शादी महोबा जिले के पुणिया गांव निवासी रिंकी के साथ 28 अप्रैल को होनी तय हुई। लेकिन, इसी दौरान लाकडाउन हो गया, जिसके कारण दोनों परिवार शादी को लेकर परेशान हो गए।<br />
 </p>


हमीरपुर जिले के पुतहिया गांव निवासी कल्कू प्रजापति की शादी महोबा जिले के पुणिया गांव निवासी रिंकी के साथ 28 अप्रैल को होनी तय हुई। लेकिन, इसी दौरान लाकडाउन हो गया, जिसके कारण दोनों परिवार शादी को लेकर परेशान हो गए।
 

<p><br />
परिवार की सहमति से कल्कू ने तय तिथि पर ही शादी करने की बात कहीं। दुल्हन के परिवार वाले चिंतित थे कि बिना गाड़ी के दूल्हा पहुंचेगा कैसे, लेकिन दूल्हे ने 100 किलोमीटर तेजी से साइकिल चलाकर शादी की तारीख से एक दिन पहले ही पहुंच गया और उनकी चिंता दूर कर दी। </p>


परिवार की सहमति से कल्कू ने तय तिथि पर ही शादी करने की बात कहीं। दुल्हन के परिवार वाले चिंतित थे कि बिना गाड़ी के दूल्हा पहुंचेगा कैसे, लेकिन दूल्हे ने 100 किलोमीटर तेजी से साइकिल चलाकर शादी की तारीख से एक दिन पहले ही पहुंच गया और उनकी चिंता दूर कर दी। 

<p><br />
इसके लिए दूल्हा कक्कू 27 अप्रैल को साइकिल से ससुराल के लिए निकल पड़ा। इसी दिन देर शाम ससुराल पहुंचकर सबको चौंका दिया। इस तरह उसने लॉकडाउन को अपनी शादी में बाधक नहीं बनने दिया।</p>


इसके लिए दूल्हा कक्कू 27 अप्रैल को साइकिल से ससुराल के लिए निकल पड़ा। इसी दिन देर शाम ससुराल पहुंचकर सबको चौंका दिया। इस तरह उसने लॉकडाउन को अपनी शादी में बाधक नहीं बनने दिया।

<p><br />
कल्कू ने कहा, पुलिस ने मेरे साथ किसी को भी आने की इजाजत नहीं दी, इसलिए शादी में कोई बाराती नहीं आ सका। मेरे नाते-रिश्तेदारों ने मुझे सलाह दी कि विवाह को टालना नहीं चाहिए और अकेले चले जाने के लिए कहा।<br />
 </p>


कल्कू ने कहा, पुलिस ने मेरे साथ किसी को भी आने की इजाजत नहीं दी, इसलिए शादी में कोई बाराती नहीं आ सका। मेरे नाते-रिश्तेदारों ने मुझे सलाह दी कि विवाह को टालना नहीं चाहिए और अकेले चले जाने के लिए कहा।
 

<p><br />
कल्कू और रिंकी का विवाह 28 अप्रैल को बाबा ध्यानदास आश्रम में संपन्न हुआ। बुधवार को वर-वधू साइकिल से दूसरे जिले के पुतहिया गांव लौट आए। कल्कू ने कहा, मैं एक यादगार शादी चाहता था, जो लॉकडाउन के चलते ऐसा नहीं हो सका, जिसका मुझे दुःख है।</p>


कल्कू और रिंकी का विवाह 28 अप्रैल को बाबा ध्यानदास आश्रम में संपन्न हुआ। बुधवार को वर-वधू साइकिल से दूसरे जिले के पुतहिया गांव लौट आए। कल्कू ने कहा, मैं एक यादगार शादी चाहता था, जो लॉकडाउन के चलते ऐसा नहीं हो सका, जिसका मुझे दुःख है।

<p>बता दें कि कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए देशभर में लॉकडाउन किया गया है। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 30 जून तक किसी भी प्रकार के सार्वजनिक कार्यक्रम पर रोक लगा दिया है। ऐसे में पहले से तय शादियों को लोग टाल दे रहे हैं, लेकिन बहुत से ऐसे भी लोग हैं जो तय तिथि पर अनोखे तरीके से शादी कर रहे हैं</p>

बता दें कि कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए देशभर में लॉकडाउन किया गया है। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 30 जून तक किसी भी प्रकार के सार्वजनिक कार्यक्रम पर रोक लगा दिया है। ऐसे में पहले से तय शादियों को लोग टाल दे रहे हैं, लेकिन बहुत से ऐसे भी लोग हैं जो तय तिथि पर अनोखे तरीके से शादी कर रहे हैं

loader