Asianet News Hindi

लॉकडाउन में गंगा किनारे टहलते दिखे 10 विदेशी, पुलिस ने थमाया कागज-कलम, 500 बार लिखवाई ये बात

First Published Apr 13, 2020, 5:43 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

कोरोना वायरस के फैलने की वजह से पूरे देश में लॉकडाउन लगा हुआ है। कोरोना का खतरा लगातार बढ़ता ही जा रहा है। पूरी दुनिया में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या 18 लाख से भी ज्यादा हो गई है, वहीं 1.4 लाख लोगों की मौत हो चुकी है। भारत में भी इसके 9200 मामले सामने आ चुके हैं और 331 लोगों की मौत हो गई है। भारत में इसे लेकर 21 दिन के लिए लॉकडाउन घोषित किया गया था, जिसकी मियाद 14 अप्रैल को खत्म हो रही है। इसके बावजूद कुछ विदेशी टूरिस्ट ऋषिकेश में गंगा के किनारे टहलते पाए गए। बताया गया कि ये टूरिस्ट मेक्सिको, इजरायल, ऑस्ट्रेलिया और आस्ट्रिया के थे। इनकी संख्या 10 थी। बता दें कि पश्चिम के मशहूर बीटल्स ग्रुप के लोग साल 1968 में ही शांति की तलाश में भारत आए थे। ये लोग ऋषिकेश और बनारस में गंगा के तटों पर घूमते रहते थे और आश्रमों में रुकते थे। इसके बाद हिप्पी लोग भी यहां आने लगे। बहरहाल, लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर पुलिस इन विदेशी टूरिस्ट्स के साथ सख्ती से पेश आई और सबसे 500 बार 'आय एम सॉरी' लिखवाने के बाद उन्हें छोड़ा। इसके अलावा, पुलिसकर्मी और हेल्थ वर्कर भारत के दूसरे शहरों में जाकर लोगों को कोरोना वायरस के प्रति जागरूक कर रहे हैं और उनसे घरों में ही रहने को कह रहे हैं। देखें इससे जुड़ी तस्वीरें। 

ऋषिकेश में गंगा के तट पर बैठे विदेशी टूरिस्ट्स। पुलिस ने लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर सबसे 500 बार 'आय एम सॉरी' लिखवाया और इसके बाद उन्हें बाहर नहीं निकलने को कहा।

ऋषिकेश में गंगा के तट पर बैठे विदेशी टूरिस्ट्स। पुलिस ने लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर सबसे 500 बार 'आय एम सॉरी' लिखवाया और इसके बाद उन्हें बाहर नहीं निकलने को कहा।

गंगा के किनारे बैठी एक विदेशी टूरिस्ट महिला को समझाता पुलिसकर्मी।

गंगा के किनारे बैठी एक विदेशी टूरिस्ट महिला को समझाता पुलिसकर्मी।

चेन्नई में पुलिसकर्मियों ने कोरोनावायरस जैसा हेल्मेट पहन रखा है और हाथों में कोरोना वायरस से बचाव के लिए घरों में रहने की अपली वाली तख्ती लिए सड़क पर लोगों को जागरूक करने के लिए निकले हैं।

चेन्नई में पुलिसकर्मियों ने कोरोनावायरस जैसा हेल्मेट पहन रखा है और हाथों में कोरोना वायरस से बचाव के लिए घरों में रहने की अपली वाली तख्ती लिए सड़क पर लोगों को जागरूक करने के लिए निकले हैं।

कोरोनावायरस जैसा दिखने वाला हेल्मेट पहने और मास्क लगाए पुलिसकर्मी लोगों को घरों में रहने के लिए जागरूक करने निकले हैं।

कोरोनावायरस जैसा दिखने वाला हेल्मेट पहने और मास्क लगाए पुलिसकर्मी लोगों को घरों में रहने के लिए जागरूक करने निकले हैं।

चेन्नई में एक पुलिसकर्मी कोरोनावायरस जैसा हेल्मेट पहने एक घर में जाकर इस वायरस से बचाव के उपायों के बारे में समझा रहा है।

चेन्नई में एक पुलिसकर्मी कोरोनावायरस जैसा हेल्मेट पहने एक घर में जाकर इस वायरस से बचाव के उपायों के बारे में समझा रहा है।

चेन्नई में पुलिस और हेल्थ वर्कर्स ने लोगों को कोराना वायरस के खतरे से आगाह करने के लिए साझा अभियान चलाया है।

चेन्नई में पुलिस और हेल्थ वर्कर्स ने लोगों को कोराना वायरस के खतरे से आगाह करने के लिए साझा अभियान चलाया है।

पंजाब के अमृतसर में हेल्थ वर्कर्स ने कोरोनावायरस के खतरे से आगाह कराने के लिए घर-घर जाकर लोगों को समझाने का अभियान चलाया।

पंजाब के अमृतसर में हेल्थ वर्कर्स ने कोरोनावायरस के खतरे से आगाह कराने के लिए घर-घर जाकर लोगों को समझाने का अभियान चलाया।

पंजाब के अमृतसर में एक घर के बाहर हेल्थ वर्कर्स एक महिला को कोरोनावायरस के खतरे से बचाव के बारे में बता रही हैं।

पंजाब के अमृतसर में एक घर के बाहर हेल्थ वर्कर्स एक महिला को कोरोनावायरस के खतरे से बचाव के बारे में बता रही हैं।

अमृतसर में हेल्थ वर्कर्स एक घर के लोगों से उनके हेल्थ के बारे में जानकारी नोट करते हुए। पंजाब में कोरोनावायरस को लेकर खास सतर्कता बरती जा रही है।

अमृतसर में हेल्थ वर्कर्स एक घर के लोगों से उनके हेल्थ के बारे में जानकारी नोट करते हुए। पंजाब में कोरोनावायरस को लेकर खास सतर्कता बरती जा रही है।

गाउन और मास्क पहने हेल्थ वर्कर्स अमृतसर में हर घर में जाकर लोगों से उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी दर्ज कर रहे हैं, ताकि अगर कोई कोरोना से संक्रमित मिले तो समय रहते उसका इलाज किया जा सके।

गाउन और मास्क पहने हेल्थ वर्कर्स अमृतसर में हर घर में जाकर लोगों से उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी दर्ज कर रहे हैं, ताकि अगर कोई कोरोना से संक्रमित मिले तो समय रहते उसका इलाज किया जा सके।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios