Asianet News Hindi

अचानक बेहोश होकर गिर गया शख्स, दौड़कर आई लड़की, उतारा मास्क, फिर होंठ से होंठ सटा कर देने लगी सांसें

First Published Apr 15, 2020, 2:42 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

हटके डेस्क: दुनिया में अभी कोरोना ने कहर बरपा दिया है। हर तरफ संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। दुनिया में अभी संक्रमितों की संख्या 20 लाख से अधिक हो चुकी है।  साथ ही मरने वालों का आंकड़ा भी 1 लाख 25 हजार से पार कर चुका है। चीन के वुहान से शुरू हुए इस वायरस के कारण अब लोग लॉकडाउन में घरों में बंद हैं। साथ ही बाहर भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जा रहा। इस बीच चीन से एक वीडियो वायरल हुआ, जिसमें एयरपोर्ट पर एक शख्स बेहोश होकर गिर गया। पास में ही मौजूद दो डॉक्टर्स ने जैसे ही शख्स को देखा, तुरंत वहां पहुंचे। शख्स की हालत देख महिला डॉक्टर ने तुरंत होना मास्क उतारा और शख्स को मुंह से ऑक्सीजन देने लगी। कोरोना के कारण हो चुकी खौफनाक हालात के बीच महिला डॉक्टर के इस काम की लोग काफी सराहना कर रहे हैं। 

सोशल मीडिया पर इस घटना का वीडियो वायरल हुआ। महिला डॉक्टर की पहचान डॉ मा रुई के रूप में हुई। 

सोशल मीडिया पर इस घटना का वीडियो वायरल हुआ। महिला डॉक्टर की पहचान डॉ मा रुई के रूप में हुई। 

जब ये वीडियो वायरल हुआ, तो महिला के साथ काम करने वाले एक दूसरी डॉक्टर ने उसकी पहचान की। 

जब ये वीडियो वायरल हुआ, तो महिला के साथ काम करने वाले एक दूसरी डॉक्टर ने उसकी पहचान की। 

शख्स के बेहोश होने पर डॉ रुई अपने एक और साथी के साथ उसके पास पहुंची। उस समय दोनों ही ऑफ़ ड्यूटी थे। लेकिन डॉ रुई ने बिना कुछ सोचे शख्स का ट्रीटमेंट किया।  

शख्स के बेहोश होने पर डॉ रुई अपने एक और साथी के साथ उसके पास पहुंची। उस समय दोनों ही ऑफ़ ड्यूटी थे। लेकिन डॉ रुई ने बिना कुछ सोचे शख्स का ट्रीटमेंट किया।  

थोड़ी देर के बाद शख्स की सांसें लौटी। उसे तुरंत हॉस्पिटल ले जाया गया। बताया जा रहा है कि घटना के समय डॉ बीजिंग से अपनी ड्यूटी के बाद घर लौट रही थी।  

थोड़ी देर के बाद शख्स की सांसें लौटी। उसे तुरंत हॉस्पिटल ले जाया गया। बताया जा रहा है कि घटना के समय डॉ बीजिंग से अपनी ड्यूटी के बाद घर लौट रही थी।  

अपनी ट्रेन का इन्तजार करती डॉ रुई ने अचानक बेहोश हो चुके पैसेंजर को देखा। उसी समय एक और शख्स भी वहां पहुंचा। दोनों ही पेशे से डॉक्टर थे। दोनों ने डिसाइड किया कि शख्स को तुरंत सीपीआर देना पड़ेगा। 
 

अपनी ट्रेन का इन्तजार करती डॉ रुई ने अचानक बेहोश हो चुके पैसेंजर को देखा। उसी समय एक और शख्स भी वहां पहुंचा। दोनों ही पेशे से डॉक्टर थे। दोनों ने डिसाइड किया कि शख्स को तुरंत सीपीआर देना पड़ेगा। 
 

इसके बाद कोरोना के खौफ से डरे बिना डॉ रुई ने शख्स को सीपीआर दिया। इस समय जब पूरी दुनिया कोरोना से डरी हुई है, ऐसा करना बेहद रिस्की था।  

इसके बाद कोरोना के खौफ से डरे बिना डॉ रुई ने शख्स को सीपीआर दिया। इस समय जब पूरी दुनिया कोरोना से डरी हुई है, ऐसा करना बेहद रिस्की था।  

वीडियो में दिख रहे पुरुष की पहचान नहीं हो पाई है। लेकिन सोशल मीडिया ने इन दोनों को हीरो बताया। वीडियो को कई बार शेयर किया गया और लोग उनकी तारीफ कर रहे हैं।  
 

वीडियो में दिख रहे पुरुष की पहचान नहीं हो पाई है। लेकिन सोशल मीडिया ने इन दोनों को हीरो बताया। वीडियो को कई बार शेयर किया गया और लोग उनकी तारीफ कर रहे हैं।  
 


बेहोश हुए पैसेंजर को कार्डियक अरेस्ट आया था। अभी उसका इलाज अस्पताल में चल रहा है। 


बेहोश हुए पैसेंजर को कार्डियक अरेस्ट आया था। अभी उसका इलाज अस्पताल में चल रहा है। 

बता दें कि चीन से ही कोरोना की शुरुआत हुई है। ऐसे में अनजान बेहोश शख्स को सीपीआर देना बड़ा ही चैलेंजिंग काम था। 

बता दें कि चीन से ही कोरोना की शुरुआत हुई है। ऐसे में अनजान बेहोश शख्स को सीपीआर देना बड़ा ही चैलेंजिंग काम था। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios