अब कोरोना से भी लाख गुना भयंकर वायरस फैलाने की ताक में बैठा है चीन, इस माहमारी से खत्म तक हो सकती है दुनिया

First Published 15, Jun 2020, 10:17 AM

हटके डेस्क: दुनिया अभी कोरोना वायरस से जंग लड़ रही है। इस वायरस से संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ती ही जा रही है। उसी के साथ बढ़ता जा रहा है इस वायरस से मरने वालों का आंकड़ा। इस वायरस की शुरुआत चीन के वुहान से हुई। जहां चीन ने इसे चमगादड़ के मांस को खाने से इंसानों में आने की दलील दी, वहीँ कई लोगों का कहना है कि चीन ने जानते हुए इस वायरस को लैब में बनाया और फिर इसे दुनिया में फैला दिया। अब चीन की एक और साजिश दुनिया के सामने आई है। एक्सपर्ट्स ने दावा किया है कि चीन अब शेरों की हड्डियों से जो दवाई बना रहा है, उससे भयंकर महामारी फैलेगी। अगर समय रहते इस पर कंट्रोल नहीं किया गया, तो अंजाम काफी बुरा हो सकता है।

<p>चीन में लंबे समय से दवाइयों क लिए शेर की हड्डियों का इस्तेमाल होता है। इसके लिए शेरों को साउथ अफ्रीका में ब्रीड किया जाता है और फिर उन्हें मारकर उनकी हड्डियां चीन भेजी जाती है।  </p>

चीन में लंबे समय से दवाइयों क लिए शेर की हड्डियों का इस्तेमाल होता है। इसके लिए शेरों को साउथ अफ्रीका में ब्रीड किया जाता है और फिर उन्हें मारकर उनकी हड्डियां चीन भेजी जाती है।  

<p>साउथ अफ्रीका के 333 फार्म्स में सिर्फ चीन को हड्डियां सप्लाई करने के लिए हजारों शेरों की ब्रीडिंग करवाई जाती है। फिर उन्हें शिकारियों से गोली मरवाकर उनकी हड्डियां बेची जाती है। </p>

साउथ अफ्रीका के 333 फार्म्स में सिर्फ चीन को हड्डियां सप्लाई करने के लिए हजारों शेरों की ब्रीडिंग करवाई जाती है। फिर उन्हें शिकारियों से गोली मरवाकर उनकी हड्डियां बेची जाती है। 

<p>इस बात का खुलासा लॉर्ड अश्क्रोफ्ट ने अपनी लेटेस्ट किताब में किया है। इसमें उन्होंने लिखा कि एक शेर की हड्डियों के लिए चीन 2 लाख 85 हजार रूपये देता है। प्रॉफिट वाले इस बिजनेस में साउथ अफ्रीका की काफी कमाई होती है। </p>

इस बात का खुलासा लॉर्ड अश्क्रोफ्ट ने अपनी लेटेस्ट किताब में किया है। इसमें उन्होंने लिखा कि एक शेर की हड्डियों के लिए चीन 2 लाख 85 हजार रूपये देता है। प्रॉफिट वाले इस बिजनेस में साउथ अफ्रीका की काफी कमाई होती है। 

<p>शेर की इन हड्डियों से चीन  दवाइयां बनाता है बल्कि इनका इस्तेमाल शराब और गहनों में भी किया जाता है। लेकिन अब लॉर्ड अश्क्रोफ्ट ने जो नया खुलासा  किया है, उसके मुताबिक़ चीन अगली महामारी इन हड्डियों से ही फैलाएगा।</p>

शेर की इन हड्डियों से चीन  दवाइयां बनाता है बल्कि इनका इस्तेमाल शराब और गहनों में भी किया जाता है। लेकिन अब लॉर्ड अश्क्रोफ्ट ने जो नया खुलासा  किया है, उसके मुताबिक़ चीन अगली महामारी इन हड्डियों से ही फैलाएगा।

<p>एक्स ब्रिटिश आर्मी के मेंबर्स ने एक टीम बनाकर साउथ अफ्रीका में शेर की हड्डियों के इस बिजनेस का स्टिंग ऑपरेशन किया। इसमें जिस हालात में शेरों को रखा जाता है, वो चिंता का विषय है। </p>

एक्स ब्रिटिश आर्मी के मेंबर्स ने एक टीम बनाकर साउथ अफ्रीका में शेर की हड्डियों के इस बिजनेस का स्टिंग ऑपरेशन किया। इसमें जिस हालात में शेरों को रखा जाता है, वो चिंता का विषय है। 

<p>लॉर्ड अश्क्रोफ्ट ने पाया कि वहां करीब 12 हजार शेरों को ब्रीड करवाया गया है। जिनके शिकार के लिए रईस लोगों से पैसे चार्ज किये जाते हैं। वो शौक के लिए इन बेजुबानों को मार देते हैं। इसके बाद इनकी हड्डियां निकाल ली जाती है।  </p>

लॉर्ड अश्क्रोफ्ट ने पाया कि वहां करीब 12 हजार शेरों को ब्रीड करवाया गया है। जिनके शिकार के लिए रईस लोगों से पैसे चार्ज किये जाते हैं। वो शौक के लिए इन बेजुबानों को मार देते हैं। इसके बाद इनकी हड्डियां निकाल ली जाती है।  

<p>लॉर्ड अश्क्रोफ्ट ने बताया कि गंदगी और खराब मैनेजमेंट के बीच इन हड्डियों से कई तरह की बीमारियां इंसानों में फ़ैल सकती है। एक ही पिंजरे में कई शेर रखे जाते हैं। मौत के बाद कुछ शेर अपने ही साथ ही हड्डियां खा जाते हैं, जिससे उन्हें कई तरह की बीमारियां भी हो जाती है।  </p>

लॉर्ड अश्क्रोफ्ट ने बताया कि गंदगी और खराब मैनेजमेंट के बीच इन हड्डियों से कई तरह की बीमारियां इंसानों में फ़ैल सकती है। एक ही पिंजरे में कई शेर रखे जाते हैं। मौत के बाद कुछ शेर अपने ही साथ ही हड्डियां खा जाते हैं, जिससे उन्हें कई तरह की बीमारियां भी हो जाती है।  

<p>मौत के बाद शेरों  का अंतिम संस्कार करने का रिवाज यहां नहीं है। वो उन्हें हड्डियों के लिए सड़ाते हैं। लेकिन जिस हाल में ये सारी प्रक्रिया की जाती है, वो बेहद डरावना है। </p>

मौत के बाद शेरों  का अंतिम संस्कार करने का रिवाज यहां नहीं है। वो उन्हें हड्डियों के लिए सड़ाते हैं। लेकिन जिस हाल में ये सारी प्रक्रिया की जाती है, वो बेहद डरावना है। 

<p>अगर इन शेरों की हड्डियों से महामारी फैली, तो लॉर्ड अश्क्रोफ्ट के मुताबिक, उस भयंकर महामारी को रोक पाना नामुमकिन होगा। </p>

अगर इन शेरों की हड्डियों से महामारी फैली, तो लॉर्ड अश्क्रोफ्ट के मुताबिक, उस भयंकर महामारी को रोक पाना नामुमकिन होगा। 

loader