Asianet News Hindi

डेढ़ साल के लिए बंद हो सकता है ये देश, सरकार ने कोरोना से मान ली हार, कहा- जान बचानी है तो घर में रहें

First Published Apr 20, 2020, 11:35 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

हटके डेस्क: दुनिया कोविड 19 यानी कोरोना वायरस से पस्त है। इस वायरस का प्रकोप लगातार बढ़ता जा रहा है। इस वायरस के कारण   बढ़ती जा रही है। दुनिया में अभी तक इससे संक्रमितों की संख्या 24 लाख 7 हजार के पार है। वहीं मरने वालों का आंकड़ा भी 1 लाख 65 हजार पार कर चुका है। दुनिया के कई देश लॉकडाउन हैं। वायरस से लड़ने के लिए कई तरह के वैक्सीन खोजे जा रहे हैं। लेकिन अभी तक किसी ने भी खुशखबरी नहीं दी है। उम्मीद की जा रही है कि इस वायरस के लिए वैक्सीन बना ली जाएगी। इस बीच आयरलैंड ने देश में  महीने लॉकडाउन की बात कही है। देश में अगले 18 महीने के लिए सभी मार्केट, पब और बार बंद कर दिए गए हैं। हालांकि, एक चीज सरकार जल्द खोलने की कोशिश में है... 

आयरलैंड में अभी तक कोरोना के कुल 14 हजार 7 सौ से अधिक मामले सामने आये हैं। वहीं मरने वालों की संख्या करीब 6 सौ है।  

आयरलैंड में अभी तक कोरोना के कुल 14 हजार 7 सौ से अधिक मामले सामने आये हैं। वहीं मरने वालों की संख्या करीब 6 सौ है।  

देश के हेल्थ मिनिस्टर ने देश के कोरोना से जंग के प्रति अगले 18 महीनों तक सभी मार्केट, पब-बार और सभी तरह के स्पोर्ट्स वेन्यू बंद करने की बता कही। 
 

देश के हेल्थ मिनिस्टर ने देश के कोरोना से जंग के प्रति अगले 18 महीनों तक सभी मार्केट, पब-बार और सभी तरह के स्पोर्ट्स वेन्यू बंद करने की बता कही। 
 

हेल्थ मिनिस्टर साइमन हर्रिस के मुताबिक, अभी कोरोना के वैक्सीन के लोगों  तक पहुंचने में 12 से 18 महीने लगेंगे। ऐसे में तब तक के लिए लॉकडाउन ही एकमात्र उपाय है। 
 

हेल्थ मिनिस्टर साइमन हर्रिस के मुताबिक, अभी कोरोना के वैक्सीन के लोगों  तक पहुंचने में 12 से 18 महीने लगेंगे। ऐसे में तब तक के लिए लॉकडाउन ही एकमात्र उपाय है। 
 

हालांकि, देश स्कूल्स को खोलने की कोशिश करेगा। स्कूलों में सोशल डिस्टेंसिंग के बाद पढ़ाई शुरू करने का प्लान है। 
 

हालांकि, देश स्कूल्स को खोलने की कोशिश करेगा। स्कूलों में सोशल डिस्टेंसिंग के बाद पढ़ाई शुरू करने का प्लान है। 
 

आयरलैंड में सारे पब-बार 16 मार्च से बंद कर दिए गए थे। साथ ही देश में 27 मार्च तक लॉकडाउन लगा दिया गया था। लेकिन स्थिति को देखते हुए लॉकडाउन बढ़ा दिया गया। 

आयरलैंड में सारे पब-बार 16 मार्च से बंद कर दिए गए थे। साथ ही देश में 27 मार्च तक लॉकडाउन लगा दिया गया था। लेकिन स्थिति को देखते हुए लॉकडाउन बढ़ा दिया गया। 

हेल्थ  मिनिस्टर के अनुसार, कोरोना से बचने के लिए सोशल डिस्टेंस  ही एक मात्र उपाय है। इसका इलाज शायद अगले 18 महीने में आ पाएगा। ऐसे में अगर बार खुलेंगे तो सोशल डिस्टेंसिंग मुश्किल होगी। 

हेल्थ  मिनिस्टर के अनुसार, कोरोना से बचने के लिए सोशल डिस्टेंस  ही एक मात्र उपाय है। इसका इलाज शायद अगले 18 महीने में आ पाएगा। ऐसे में अगर बार खुलेंगे तो सोशल डिस्टेंसिंग मुश्किल होगी। 

कहा जा रहा है कि आयरलैंड की इकोनॉमी धराशायी हो रही है। यहां करीब 58 हजार लोग बार-पब में काम करते हैं। देश में बेरोजगारी बढ़ गई है। 

कहा जा रहा है कि आयरलैंड की इकोनॉमी धराशायी हो रही है। यहां करीब 58 हजार लोग बार-पब में काम करते हैं। देश में बेरोजगारी बढ़ गई है। 

अगर समय के साथ वायरस का प्रकोप कम होता है, तब बीच में पब खोलने की अनुमति दी जा सकती है। लेकिन तबतक ऐसा नहीं हो पाएगा। 
 

अगर समय के साथ वायरस का प्रकोप कम होता है, तब बीच में पब खोलने की अनुमति दी जा सकती है। लेकिन तबतक ऐसा नहीं हो पाएगा। 
 

दुनिया के एक्सपर्ट्स के मुताबिक, कोरोना की वैक्सीन अगले 18 महीने में ही आ पाएगी। जबकि WHO के मुताबिक, ऐसा भी हो सकता है कि इसका इलाज ना मिल पाए। 
 

दुनिया के एक्सपर्ट्स के मुताबिक, कोरोना की वैक्सीन अगले 18 महीने में ही आ पाएगी। जबकि WHO के मुताबिक, ऐसा भी हो सकता है कि इसका इलाज ना मिल पाए। 
 

अभी तक अमेरिका, चीन और यूके ने कोरोना के वैक्सीन का ट्रायल किया है। लेकिन अभी तक किसी ने गुड न्यूज नहीं दी है। 
 

अभी तक अमेरिका, चीन और यूके ने कोरोना के वैक्सीन का ट्रायल किया है। लेकिन अभी तक किसी ने गुड न्यूज नहीं दी है। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios