Asianet News Hindi

क्वारेंटाइन सेंटर्स में जमकर सेक्स कर रहे लोग, रात के अंधेरे में एक-दूसरे के कमरे से पकड़े जा रहे मरीज

First Published Apr 16, 2020, 12:11 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

हटके डेस्क: दुनिया को पूरी तरह से तहस-नहस करने वाले कोविड 19 से सभी आतंकित हैं। इस वायरस का अभी तक कोई इलाज नहीं मिला है। इससे संक्रमित हुए लोगों की संख्या  तेजी से वृद्धि देखी जा रही है। अभी तक इस वायरस ने दुनिया में कुल 20 लाख 83 हजार लोगों को संक्रमित किया है। मरने वालों का आंकड़ा भी 1 लाख 34 हजार के पार है। इस बीच दुनिया के कई देशों ने अपने यहां लॉकडाउन कर दिया है। ताकि लोग बाहर ना निकलें और संक्रमण पर लगाम लगाया जा सके। जो लोग संक्रमित हैं, उन्हें इलाज के लिए अलग रखा जा रहा है, साथ ही संक्रमण के शक में लोगों को क्वारेंटाइन सेंटर्स में रखा जा रहा है। लेकिन युगांडा में इन सेंटर्स पर लोगों के बीच प्यार पनप रहा है और उन्हें कमरे में सेक्स करते पकड़ा जा रहा है। संक्रमण के रोकथाम के बीच ये काफी चिंता की बात है।  

दुनिया के कई देशों में लॉकडाउन किया गया है। इस बीच इन देशों में लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग के लिए कहा गया है।  कोरोना संक्रमण के डर से लोगों को परिवार से दूर क्वारेंटाइन सेंटर्स में रखा जा रहा है, ताकि उनसे कोई और संक्रमित ना हो। 

दुनिया के कई देशों में लॉकडाउन किया गया है। इस बीच इन देशों में लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग के लिए कहा गया है।  कोरोना संक्रमण के डर से लोगों को परिवार से दूर क्वारेंटाइन सेंटर्स में रखा जा रहा है, ताकि उनसे कोई और संक्रमित ना हो। 

युगांडा में भी ऐसे कई क्वारेंटाइन सेंटर्स बनाए गए हैं। लेकिन अब इस देश की हेल्थ मिनिस्ट्री के बयान ने सबको चौंका दिया है। दरअसल, यहां के क्वारेंटाइन सेंटर्स में लोगों के बीच प्यार के किस्से पनप रहे हैं। 

युगांडा में भी ऐसे कई क्वारेंटाइन सेंटर्स बनाए गए हैं। लेकिन अब इस देश की हेल्थ मिनिस्ट्री के बयान ने सबको चौंका दिया है। दरअसल, यहां के क्वारेंटाइन सेंटर्स में लोगों के बीच प्यार के किस्से पनप रहे हैं। 

क्वारेंटाइन सेंटर्स में अलग-अलग कमरों में रखे जा रहे लोगों के बीच यही प्यार हो रहा है। इसके बाद कई लोगों को एक-दूसरे के कमरों से पकड़ा जा रहा है। ये लोग आपस में शारीरिक संबंध बनाते पकड़े गए।  

क्वारेंटाइन सेंटर्स में अलग-अलग कमरों में रखे जा रहे लोगों के बीच यही प्यार हो रहा है। इसके बाद कई लोगों को एक-दूसरे के कमरों से पकड़ा जा रहा है। ये लोग आपस में शारीरिक संबंध बनाते पकड़े गए।  

लोग बाहर एक-दूसरे को देखते हैं और फिर रात में एक-दूसरे के कमरे में चले जाते हैं। ऐसे में अगर किसी एक को जो संक्रमित है, दूसरे को भी संक्रमण दे देगा। 

लोग बाहर एक-दूसरे को देखते हैं और फिर रात में एक-दूसरे के कमरे में चले जाते हैं। ऐसे में अगर किसी एक को जो संक्रमित है, दूसरे को भी संक्रमण दे देगा। 


स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि ऐसी हरकतों से वायरस के फैलने के चांसेस हैं। ऐसे महामारी को रोकने की बात तो बेईमानी हो जाएगी। 


स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि ऐसी हरकतों से वायरस के फैलने के चांसेस हैं। ऐसे महामारी को रोकने की बात तो बेईमानी हो जाएगी। 

मंत्रालय के अनुसार, देश के लोग अभी तक इस वायरस को लेकर गंभीर नहीं हैं। उनके लिए क्वारेंटाइन सेंटर्स हनीमून डेस्टिनेशन बन गया है। 
 

मंत्रालय के अनुसार, देश के लोग अभी तक इस वायरस को लेकर गंभीर नहीं हैं। उनके लिए क्वारेंटाइन सेंटर्स हनीमून डेस्टिनेशन बन गया है। 
 

अजनबियों से मिलने के बाद उनसे प्यार की बातें करना और फिर सेक्स इन्हें मौज-मस्ती लग रही है। अजनबियों के अलावा कई लोगों के घर वाले भी उनके साथ क्वारेंटाइन सेंटर्स में रहना चाह रहे हैं।  

अजनबियों से मिलने के बाद उनसे प्यार की बातें करना और फिर सेक्स इन्हें मौज-मस्ती लग रही है। अजनबियों के अलावा कई लोगों के घर वाले भी उनके साथ क्वारेंटाइन सेंटर्स में रहना चाह रहे हैं।  

इस कारण कई लोगों को 14 दिन के बाद भी क्वारेंटाइन सेंटर्स में रखा गया है। क्यूंकि इन लोगों को दूसरे लोगों के साथ कमरे में पकड़ा गया था। 
 

इस कारण कई लोगों को 14 दिन के बाद भी क्वारेंटाइन सेंटर्स में रखा गया है। क्यूंकि इन लोगों को दूसरे लोगों के साथ कमरे में पकड़ा गया था। 
 

इस समस्या से बचने के लिए अब क्वारेंटाइन सेंटर्स में सिक्युरिटी गार्ड्स लगाए गए हैं। ये गार्ड्स इस बात का ध्यान रख रहे हैं कि कोई दूसरे के कमरे में ना जा पाए।  
 

इस समस्या से बचने के लिए अब क्वारेंटाइन सेंटर्स में सिक्युरिटी गार्ड्स लगाए गए हैं। ये गार्ड्स इस बात का ध्यान रख रहे हैं कि कोई दूसरे के कमरे में ना जा पाए।  
 

 बता दें कि युगांडा में अभी तक कोरोना के कुल 55 मामले सामने आए हैं। अभी ये देश शुरूआती दौर में है, ऐसे में अगर अभी इसपर लगाम लग जाए तो बेहतर है। 

 बता दें कि युगांडा में अभी तक कोरोना के कुल 55 मामले सामने आए हैं। अभी ये देश शुरूआती दौर में है, ऐसे में अगर अभी इसपर लगाम लग जाए तो बेहतर है। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios