Asianet News Hindi

1 तस्वीर से मशहूर हुई ये नर्स, ऐसी ड्रेस पहनने पर अस्पताल ने नौकरी से निकाला, 1 दिन बाद ही बन गई मॉडल

First Published May 22, 2020, 1:24 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

हटके डेस्क: दुनिया में कई बारे कुछ ऐसी चीजें हो जाती हैं, जिसकी किसी ने कोई कल्पना भी नहीं की होती। इसे किस्मत का खेल कहते हैं। अब देखिये ना, रूस की एक नर्स की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर क्या वायरल हुई, उसकी किस्मत ही बदल गई। ये नर्स एक ट्रांसपेरेंट PPE गाउन पहन कर मर्दों के वार्ड में घुसी थी। वहां वो कोरोना मरीजों का इलाज कर रही थी। उसका गाउन इतना पतला था कि नर्स द्वारा अंदर पहना अंडरगारमेंट्स भी नजर आ रहा था। वहां एडमिट एक मरीज ने ही उसकी तस्वीर खींचकर सोशल मीडिया  पर शेयर कर दी थी, जिसके बाद अस्पताल प्रबंधन ने उसे नौकरी से निकाल दिया। लेकिन कई लोग इसके बाद नर्स के समर्थन में आए। नौकरी जाने के बाद नर्स की किस्मत बदली और अब उसे मॉडलिंग का ऑफर मिला है... 

सोशल मीडिया पर जिस नर्स की ये तस्वीर वायरल हुई थी, \उसकी पहचान सामने आ गई है। ये महिला 23 साल की है, जिसका नाम नादिया है। नादिया को मर्दों के वार्ड में ट्रांसपेरेंट पीपीई किट में देखा गया था। 

सोशल मीडिया पर जिस नर्स की ये तस्वीर वायरल हुई थी, \उसकी पहचान सामने आ गई है। ये महिला 23 साल की है, जिसका नाम नादिया है। नादिया को मर्दों के वार्ड में ट्रांसपेरेंट पीपीई किट में देखा गया था। 

नदिया का गाउन काफी पतला था। उसके अंदर से उसके अंडरगारमेंट्स भी नजर आ रहे थे। नादिया को वहां के मरीज घूरते नजर आ रहे थे। उनमें से एक मरीज ने ही नादिया की तस्वीर खींचकर सोशल मीडिया पर शेयर कर दी थी। 

नदिया का गाउन काफी पतला था। उसके अंदर से उसके अंडरगारमेंट्स भी नजर आ रहे थे। नादिया को वहां के मरीज घूरते नजर आ रहे थे। उनमें से एक मरीज ने ही नादिया की तस्वीर खींचकर सोशल मीडिया पर शेयर कर दी थी। 

तस्वीर वायरल होने के बाद तुला रीजनल क्लिनिकल हॉस्पिटल के मैनेजमेंट ने नादिया को डिसिप्लिन तोड़ने के आरोप में नौकरी से निकाल दिया। इसके बाद कई लोग नादिया के समर्थन में सामने आए। उन्होंने बताया कि अस्पताल के पास अच्छे पीपीई गाउन है ही नहीं। जो नादिया ने पहना उससे कोरोना संक्रमण से बचा नहीं जा सकता है। 

तस्वीर वायरल होने के बाद तुला रीजनल क्लिनिकल हॉस्पिटल के मैनेजमेंट ने नादिया को डिसिप्लिन तोड़ने के आरोप में नौकरी से निकाल दिया। इसके बाद कई लोग नादिया के समर्थन में सामने आए। उन्होंने बताया कि अस्पताल के पास अच्छे पीपीई गाउन है ही नहीं। जो नादिया ने पहना उससे कोरोना संक्रमण से बचा नहीं जा सकता है। 

इस तस्वीर के वायरल होने के बाद नादिया ने कहा था कि उसे अंदाजा नहीं था कि ये गाउन इतना पतला है। अस्पताल प्रबंधन द्वारा निकाले जाने के बाद उसे एक लॉन्जरी ब्रांड की तरफ से मॉडलिंग का ऑफर मिला है। 
 

इस तस्वीर के वायरल होने के बाद नादिया ने कहा था कि उसे अंदाजा नहीं था कि ये गाउन इतना पतला है। अस्पताल प्रबंधन द्वारा निकाले जाने के बाद उसे एक लॉन्जरी ब्रांड की तरफ से मॉडलिंग का ऑफर मिला है। 
 

मिस एक्स लॉन्जरी ब्रांड की हेड अनस्तास्या यकुशवा ने कहा कि वो चाहती है कि नादिया उनके ब्रांड के लिए मॉडलिंग करें। 
 

मिस एक्स लॉन्जरी ब्रांड की हेड अनस्तास्या यकुशवा ने कहा कि वो चाहती है कि नादिया उनके ब्रांड के लिए मॉडलिंग करें। 
 

उन्होंने आगे कहा कि कंपनी ने कई नए डिजाइन्स बनाए हैं। ऐसे में वो चाहते हैं कि इनकी ओपनिंग नदिया ही करे। 
 

उन्होंने आगे कहा कि कंपनी ने कई नए डिजाइन्स बनाए हैं। ऐसे में वो चाहते हैं कि इनकी ओपनिंग नदिया ही करे। 
 

नादिया ने रयजन स्टेट मेडिकल यूनिवर्सिटी से पढ़ाई की है। कोविड 19 से जंग लड़ते हुए वो प्रॉपर गाउन के बिना ही मरीजों का इलाज कर रही थी। 

नादिया ने रयजन स्टेट मेडिकल यूनिवर्सिटी से पढ़ाई की है। कोविड 19 से जंग लड़ते हुए वो प्रॉपर गाउन के बिना ही मरीजों का इलाज कर रही थी। 

अभी तक ये साफ़ नहीं हुआ है कि नदिया ने ये ऑफर माना है या नहीं। लेकिन जब इन तस्वीरों पर उससे अस्पताल ने सफाई मांगी थी तो उसने साफ़ कहा था कि उसे बिलकुल अंदाजा नहीं था कि ये गाउन इतने पारदर्शी हैं। फिलहाल नर्स की तस्वीर लेने वाले मरीज पर भी कार्रवाई की मांग की जा रही है।  
 

अभी तक ये साफ़ नहीं हुआ है कि नदिया ने ये ऑफर माना है या नहीं। लेकिन जब इन तस्वीरों पर उससे अस्पताल ने सफाई मांगी थी तो उसने साफ़ कहा था कि उसे बिलकुल अंदाजा नहीं था कि ये गाउन इतने पारदर्शी हैं। फिलहाल नर्स की तस्वीर लेने वाले मरीज पर भी कार्रवाई की मांग की जा रही है।  
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios