Asianet News Hindi

फुल मेकअप और बन-ठन कर झाड़ू-पोंछा करती हैं ये नौकरानियां, 1 ख़ास सर्विस की वजह लोगों में घर बुलाने की होड़

First Published Dec 29, 2020, 2:43 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

हटके डेस्क: बिजनेस करना हर किसी के बस की बात नहीं होती। कई लोग बिजनेस स्टार्ट तो कर लेते हैं लेकिन आइडिया की कमी के कारण जल्द ही बिजनेस डूब जाता है। कोरोना महामारी में कई बिजनेस स्टार्टअप्स डूब गए। इस महामारी से वही फर्म बाहर निकल पाई, जिसने आइडिया लगाया। इंग्लैंड के प्लाईमाउथ में एक कंपनी लोगों को मेड प्रोवाइड करती है। कोरोना की वजह से लोगों ने मेड सर्विस लेना बंद कर दिया। कंपनी बंद होने की कगार पर ही थी कि उसने ऐसा ऑफर शुरू किया कि नौकरानी भेजने के लिए वेटिंग लिस्ट लग गई। द नेकेड क्लीनिंग नाम की ये कंपनी इन दिनों चर्चा में है। आइये बताते हैं क्या था वो ऑफर जिसने डूबती कंपनी को फिर से खड़ा कर दिया... 

यूके में मेड सर्विस देने वाली द नेकेड क्लीनिंग फर्म इन दिनों चर्चा में है। जहां कोरोना के कारण यहां से लोग सर्विस नहीं ले रहे थे वहीं अब यहां लोगों की वेटिंग लिस्ट लग गई  है। ये फर्म लोगों को मेड प्रोवाइड करती है। 

यूके में मेड सर्विस देने वाली द नेकेड क्लीनिंग फर्म इन दिनों चर्चा में है। जहां कोरोना के कारण यहां से लोग सर्विस नहीं ले रहे थे वहीं अब यहां लोगों की वेटिंग लिस्ट लग गई  है। ये फर्म लोगों को मेड प्रोवाइड करती है। 

कंपनी के दो डायरेक्टर हैं। निक्की बेल्टन और लियन वूलमैन ने इसे शुरू किया। कोरोना की वजह से लोगों ने अपने घर में मेड बुलाना बंद कर दिया था। ऐसे में इनकी कंपनी बंद होने के कगार पहुंच गई थी।  
 

कंपनी के दो डायरेक्टर हैं। निक्की बेल्टन और लियन वूलमैन ने इसे शुरू किया। कोरोना की वजह से लोगों ने अपने घर में मेड बुलाना बंद कर दिया था। ऐसे में इनकी कंपनी बंद होने के कगार पहुंच गई थी।  
 

तभी निक्की को एक आइडिया आया। उन्होंने काफी यूनिक कांसेप्ट निकाला। ये था नेकेड कामवाली प्रोवाइड करने का ऑफर। जी हां, इस फर्म से रजिस्टर्ड नौकरानियां घरों में बिना कपड़ों के काम करती हैं।  

तभी निक्की को एक आइडिया आया। उन्होंने काफी यूनिक कांसेप्ट निकाला। ये था नेकेड कामवाली प्रोवाइड करने का ऑफर। जी हां, इस फर्म से रजिस्टर्ड नौकरानियां घरों में बिना कपड़ों के काम करती हैं।  

साथ ही सभी अच्छे से मेकअप कर काम करने जाती हैं। निक्की के मुताबिक, ऑफर की वजह से उनके पास क्लाइंट्स की काफी वेटिंग हो गई है। कोरोना के बाद इसने मार्केट में उनकी काफी डिमांड बढ़ा दी है। 
 

साथ ही सभी अच्छे से मेकअप कर काम करने जाती हैं। निक्की के मुताबिक, ऑफर की वजह से उनके पास क्लाइंट्स की काफी वेटिंग हो गई है। कोरोना के बाद इसने मार्केट में उनकी काफी डिमांड बढ़ा दी है। 
 

कंपनी से भेजी जाने वाली मेड 6 हजार 7 सौ रुपए लेकर आपके कपड़े धो देगी। साथ ही बाथरूम साफ़ करने के बदले उन्हें साढ़े आठ हजार रूपये देने होंगे। ये सभी फीस घंटे के हिसाब से तय की गई है। अगर कपड़े धोने में दो घंटे लगे तो फीस दुगुनी। 

कंपनी से भेजी जाने वाली मेड 6 हजार 7 सौ रुपए लेकर आपके कपड़े धो देगी। साथ ही बाथरूम साफ़ करने के बदले उन्हें साढ़े आठ हजार रूपये देने होंगे। ये सभी फीस घंटे के हिसाब से तय की गई है। अगर कपड़े धोने में दो घंटे लगे तो फीस दुगुनी। 

हालांकि, इस ऑफर की वजह से कंपनी को काफी आलोचनाएं भी झेलनी पड़ी। कई लोगों ने उनका विरोध किया। लेकिन क्लाइंट्स की तरफ से अच्छे फीडबैक की वजह से ये आइडिया अभी भी चल रहा है। निक्की ने बताया कि 2021 में वो इस आइडिया को और आगे लेकर जाएंगी। 

हालांकि, इस ऑफर की वजह से कंपनी को काफी आलोचनाएं भी झेलनी पड़ी। कई लोगों ने उनका विरोध किया। लेकिन क्लाइंट्स की तरफ से अच्छे फीडबैक की वजह से ये आइडिया अभी भी चल रहा है। निक्की ने बताया कि 2021 में वो इस आइडिया को और आगे लेकर जाएंगी। 

अभी ये कंपनी यूके में सर्विस देती है। लेकिन हाल के परफॉर्मेंस के बाद अब इसे अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और दुबई जैसे देशों में शुरू करने का प्लान है। साथ ही अगले साल से कंपनी अपना जोरदार प्रमोशन भी शुरू करेगी। 
 

अभी ये कंपनी यूके में सर्विस देती है। लेकिन हाल के परफॉर्मेंस के बाद अब इसे अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और दुबई जैसे देशों में शुरू करने का प्लान है। साथ ही अगले साल से कंपनी अपना जोरदार प्रमोशन भी शुरू करेगी। 
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios