Asianet News Hindi

आखिर ऐसा क्या होता है केजरीवाल के हैप्पीनेस क्लास में, जो मेलानिया भी देखने पहुंच गईं

First Published Feb 25, 2020, 2:43 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

अमेरिका के प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रम्प के भारत दौरे के क्रम में आज उनकी पत्नी मेलानिया ट्रम्प ने दिल्ली के एक सरकारी स्कूल का विजिट किया। कहा जा रहा है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के सरकारी स्कूलों का कायाकल्प कर दिया है और वहां हैप्पीनेस क्लास की व्यवस्था की है। अरविंद केजरीवाल ने सरकारी स्कूलों की व्यवस्था में जो बदलाव किया है, उसकी चर्चा हर तरफ है। मेलानिया ट्रम्प आज दिल्ली के साउथ मोती बाग स्थित सर्वोदय विद्यालय सीनियर सेकंडरी स्कूल गईं और वहां स्टूडेंट्स और टीचर्स के साथ करीब 15-20 मिनट समय बिताया। इस दौरान उन्होंने वहां की व्यवस्था भी देखी। वे सरकारी स्कूलों में हैप्पीनेस क्लास की व्यवस्था से काफी प्रभावित नजर आईं। फोटोज में देखते हैं मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने किस तरह सरकारी स्कूलों की व्यवस्था में बदलाव लाया है।   

दिल्ली के एक सरकारी स्कूल में बच्चे कुछ इस तरह से हैप्पीनेस क्लास में एन्जॉय कर रहे हैं।

दिल्ली के एक सरकारी स्कूल में बच्चे कुछ इस तरह से हैप्पीनेस क्लास में एन्जॉय कर रहे हैं।

दिल्ली के मुख्यमंत्री स्कूली बच्चों के बीच। वे एक स्टूडेंट से कुछ पूछ रहे हैं। कहा जा रहा है  कि उन्होंने सरकारी स्कूलों की व्यवस्था में बड़ा बदलाव किया है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री स्कूली बच्चों के बीच। वे एक स्टूडेंट से कुछ पूछ रहे हैं। कहा जा रहा है कि उन्होंने सरकारी स्कूलों की व्यवस्था में बड़ा बदलाव किया है।

दिल्ली के सरकारी स्कूलों में कम्प्यूटर और लैपटॉप के जरिए शिक्षक बच्चों को पढ़ाते हैं।

दिल्ली के सरकारी स्कूलों में कम्प्यूटर और लैपटॉप के जरिए शिक्षक बच्चों को पढ़ाते हैं।

दिल्ली के एक सरकारी स्कूल में हैप्पीनेस क्लास में  छोटे बच्चे कुछ इस तरह मस्ती कर रहे हैं।

दिल्ली के एक सरकारी स्कूल में हैप्पीनेस क्लास में छोटे बच्चे कुछ इस तरह मस्ती कर रहे हैं।

एक सरकारी स्कूल के हैप्पीनेस क्लास में स्टूडेंट्स के साथ इंटरएक्शन करते एक टीचर।

एक सरकारी स्कूल के हैप्पीनेस क्लास में स्टूडेंट्स के साथ इंटरएक्शन करते एक टीचर।

दिल्ली के एक  सरकारी स्कूल में बच्चों के साथ उनके अभिभावक भी हैप्पीनेस क्लास की व्यवस्था देखने आए हैं।

दिल्ली के एक सरकारी स्कूल में बच्चों के साथ उनके अभिभावक भी हैप्पीनेस क्लास की व्यवस्था देखने आए हैं।

एक सरकारी स्कूल के सजे-धजे क्लासरूम में दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया। सरकारी स्कूलों की व्यवस्था में सुधार करने में उनका महत्वपूर्ण योगदान माना जाता है।

एक सरकारी स्कूल के सजे-धजे क्लासरूम में दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया। सरकारी स्कूलों की व्यवस्था में सुधार करने में उनका महत्वपूर्ण योगदान माना जाता है।

दिल्ली के एक सरकारी स्कूल का क्लासरूम। देखने में यह किसी भी प्राइवेट स्कूल से कम नहीं लगता। सरकारी स्कूलों की शिक्षा की गुणवत्ता में भी काफी सुधार हुआ है।

दिल्ली के एक सरकारी स्कूल का क्लासरूम। देखने में यह किसी भी प्राइवेट स्कूल से कम नहीं लगता। सरकारी स्कूलों की शिक्षा की गुणवत्ता में भी काफी सुधार हुआ है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios