Asianet News Hindi

लॉकडाउन में खाली ऑफिसों में जमकर सेक्स कर रहे दैत्याकार चूहे, बच्चे पैदा करने की मच गई होड़

First Published Jun 14, 2020, 10:12 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

हटके डेस्क: दुनिया कोरोना वायरस से जंग लड़ रही है। इस जानलेवा वायरस के आतंक से दुनिया में त्राहिमाम मचा है। अभी तक इस वायरस की वजह से लाखों जहां संक्रमित हुए हैं वहीं लाखों की जान भी जा चुकी है। कोरोना की वजह से दुनिया के कई देश कई महीनों से लॉकडाउन हैं। दुकानें, ऑफिस, स्कूल-कॉलेज सब बंद हैं। इन बंद ऑफिसों का अगर कोई फायदा उठा रहा है तो वो हैं यूके के चूहे। जी हां, लॉकडाउन में यूके में दैत्याकार चूहों का आतंक बढ़ गया है। पेस्ट कंट्रोल फर्म्स की माने तो अब इन चूहों की संख्या डराने लगी है। इसकी वजह बनी है कई महीनों से बंद दुकानें और ऑफिस स्पेस। ये चूहे इन जगहों पर जमकर सेक्स कर रहे हैं और प्रजनन कर रहे हैं। इस कारण इनकी संख्या में इतना उछाल आया है। 

यूके के पेस्ट कंट्रोल फर्म्स की रिपोर्ट्स के मुताबिक, लॉकडाउन में इन चूहों की संख्या में बढ़त आई है। ये चूहे खाली पड़े बिल्डिंग्स और फुटबॉल के मैदानों में जमकर सेक्स कर रहे हैं। 

यूके के पेस्ट कंट्रोल फर्म्स की रिपोर्ट्स के मुताबिक, लॉकडाउन में इन चूहों की संख्या में बढ़त आई है। ये चूहे खाली पड़े बिल्डिंग्स और फुटबॉल के मैदानों में जमकर सेक्स कर रहे हैं। 

जगह के साथ ही साथ यूके का अभी का मौसम, जो उमस से भरा है, उसे चूहों के प्रजनन के लिए परफेक्ट माना जाता है, भी अभी उनका साथ दे रहा है। इस मौसम में चूहों की संख्या तेजी से बढ़ी है। 

जगह के साथ ही साथ यूके का अभी का मौसम, जो उमस से भरा है, उसे चूहों के प्रजनन के लिए परफेक्ट माना जाता है, भी अभी उनका साथ दे रहा है। इस मौसम में चूहों की संख्या तेजी से बढ़ी है। 

पेस्ट कंट्रोल को मार्च से अब तक सबसे ज्यादा चूहों को पकड़ने की ही रिक्वेस्ट आई है। सबसे हैरानी की बात तो ये है कि इन चूहों का साइज काफी बड़ा है। 

पेस्ट कंट्रोल को मार्च से अब तक सबसे ज्यादा चूहों को पकड़ने की ही रिक्वेस्ट आई है। सबसे हैरानी की बात तो ये है कि इन चूहों का साइज काफी बड़ा है। 

घर से लेकर सड़कों तक में इन चूहों की फ़ौज देखने को मिल रही है। पेस्ट कंट्रोल विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि लॉकडाउन में लोग घरों में बन हैं। ऐसे में कचरा ज्यादा पैदा हो रहा है। इस कारण घरों में चूहों का आतंक बढ़ा है।  

घर से लेकर सड़कों तक में इन चूहों की फ़ौज देखने को मिल रही है। पेस्ट कंट्रोल विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि लॉकडाउन में लोग घरों में बन हैं। ऐसे में कचरा ज्यादा पैदा हो रहा है। इस कारण घरों में चूहों का आतंक बढ़ा है।  

मार्टिन रोज किंग नाम के इस अधिकारी ने साथ ही कहा कि इस साल चूहों को पकड़ने के लिए आने वाले कॉल्स में 60 प्रतिशत की वृद्धि देखने को मिली है। जिसमें ज्यादातर मुख्य शहरों में है। 

मार्टिन रोज किंग नाम के इस अधिकारी ने साथ ही कहा कि इस साल चूहों को पकड़ने के लिए आने वाले कॉल्स में 60 प्रतिशत की वृद्धि देखने को मिली है। जिसमें ज्यादातर मुख्य शहरों में है। 

जहां पहले चूहे इंसान की नजरों से दूर रहना पसंद करते थे। अब इन चूहों की इतनी हिम्मत बढ़ गई है कि वो आराम से इंसानों के आसपास घूमते हैं। ये घरों में और सड़कों पर बेफिक्र होकर घूम रहे हैं। 

जहां पहले चूहे इंसान की नजरों से दूर रहना पसंद करते थे। अब इन चूहों की इतनी हिम्मत बढ़ गई है कि वो आराम से इंसानों के आसपास घूमते हैं। ये घरों में और सड़कों पर बेफिक्र होकर घूम रहे हैं। 

इन चूहों का आकार भी काफी बड़ा है। एक्सपर्ट्स का कहना है कि ये चूहे एक घंटे में 5 सौ बार सेक्स कर सकते हैं। ऐसे में 1 चुहिया कई चूहों से सम्बन्ध बनाती है।  
 

इन चूहों का आकार भी काफी बड़ा है। एक्सपर्ट्स का कहना है कि ये चूहे एक घंटे में 5 सौ बार सेक्स कर सकते हैं। ऐसे में 1 चुहिया कई चूहों से सम्बन्ध बनाती है।  
 

साथ ही एक बार में आठ-आठ बच्चों को जन्म देने के तुरंत बाद ही ये चुहिया फिर से एक्टिव हो जाती है और तुरंत ही दुबारा प्रेग्नेंट हो जाती है। 

साथ ही एक बार में आठ-आठ बच्चों को जन्म देने के तुरंत बाद ही ये चुहिया फिर से एक्टिव हो जाती है और तुरंत ही दुबारा प्रेग्नेंट हो जाती है। 

चूहों की बढ़ती संख्या वाकई यूके के लिए कोरोना के बाद खतरे की घंटी बनता जा रहा है। ये चूहे अपने साथ कई जानलेवा बीमारियां भी लेकर आते हैं। ऐसे में अब पेस्ट कंट्रोल ने इनपर लगाम लगाने के लिए प्लान बनाना शुरू कर दिया है।  
 

चूहों की बढ़ती संख्या वाकई यूके के लिए कोरोना के बाद खतरे की घंटी बनता जा रहा है। ये चूहे अपने साथ कई जानलेवा बीमारियां भी लेकर आते हैं। ऐसे में अब पेस्ट कंट्रोल ने इनपर लगाम लगाने के लिए प्लान बनाना शुरू कर दिया है।  
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios