नीता अंबानी के पर्स से कई गुना महंगा है ये हैंडबैग, मगरमच्छ के चमड़े से बनेंगे कुल 3 बैग

First Published Nov 27, 2020, 4:25 PM IST

हटके डेस्क: भारत के सबसे अमीर परिवारों में अंबानी फैमिली का नाम आता है। इस परिवार के पास बेहिसाब दौलत है। परिवार के हर मेंबर के पास बेशकीमती चीजों का खजाना है। मीडिया रिपोर्ट में नीते अंबानी के सबसे महंगे पर्स की कीमत 2 करोड़ 60 लाख रु. बताई गई है। इस बीच सोशल मीडिया पर दुनिया के सबसे कीमती पर्स की तस्वीर सामने आई। इस पर्स की कीमत इतनी ज्यादा है की एक बार के लिए मुकेश अंबानी तक के होश उड़ जाएंगे। हालांकि, बीवी के प्यार में हो सकता है वो इसे खरीद भी लें लेकिन आम इंसान के लिए तो इसे  खरीद पाना नामुमकिन है। इटालियन ब्रांड ने इस हैंडबैग को लॉन्च किया है। सबसे ख़ास बात कि कंपनी इस बैग के सिर्फ तीन ही पीस मार्केट में उतारेगी। अब हम आपको बताते हैं इस पर्स की कीमत। इस पर्स के एक पीस की कीमत रखी गई है 52 करोड़ 31 लाख 67 रुपए। जी हां, इस बेशकीमती पर्स की कीमत ही लोगों को हैरान कर रही है। आइये आपको बताते हैं कि आखिर किस चीज से तैयार किया गया है ये बैग जिसने इसकी कीमत को इतना बढ़ा दिया है... 

<p>इटली के बोआरिनी मिलनेसि इस हैंडबैग के मात्र तीन पीस बनाएगी। इसकी कीमत को सुनकर सभी हैरान है। ये दुनिया की का सबसे महंगा हैंडबैग है। इसके एक पीस को बनाने में 1 हजार घंटे का समय लगेगा। &nbsp;<br />
&nbsp;</p>

इटली के बोआरिनी मिलनेसि इस हैंडबैग के मात्र तीन पीस बनाएगी। इसकी कीमत को सुनकर सभी हैरान है। ये दुनिया की का सबसे महंगा हैंडबैग है। इसके एक पीस को बनाने में 1 हजार घंटे का समय लगेगा।  
 

<p>अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर ये बैग इतना कीमती क्यों है? दरअसल, इसे मगरमच्छ की खाल से बनाया जाएगा। साथ ही इसमें 10 प्लैटिनम की तितलियाँ जड़ी जाएगी।&nbsp;जिनमें से चार को हीरे से और तीन को पन्ने से सजाया जाएगा।&nbsp;</p>

अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर ये बैग इतना कीमती क्यों है? दरअसल, इसे मगरमच्छ की खाल से बनाया जाएगा। साथ ही इसमें 10 प्लैटिनम की तितलियाँ जड़ी जाएगी। जिनमें से चार को हीरे से और तीन को पन्ने से सजाया जाएगा। 

<p>इसका लॉक भी हीरे से बनाया जाएगा। इस बैग का नीला रंग महासागर को दर्शाता है। साथ ही इस बैग के बिकने पर कंपनी हर बैग पर 7 करोड़ 2 लाख रुपए डोनेट कर देगी। इन पैसों से महासागर में प्लास्टिक के कचरे की सफाई करने के कार्यक्रम में लगाया जाएगा।&nbsp;</p>

इसका लॉक भी हीरे से बनाया जाएगा। इस बैग का नीला रंग महासागर को दर्शाता है। साथ ही इस बैग के बिकने पर कंपनी हर बैग पर 7 करोड़ 2 लाख रुपए डोनेट कर देगी। इन पैसों से महासागर में प्लास्टिक के कचरे की सफाई करने के कार्यक्रम में लगाया जाएगा। 

<p>कंपनी के को-फाउंडर मटियो रोडोल्फो मिलनेसि ने बताया कि ये बैग उसके पिता के लिए एक श्रद्धांजलि है। वो बचपन में अपने पिता के साथ समुद्र में खेलते थे। लेकिन जवानी में उन्होंने अपने पिता को खो दिया।&nbsp;<br />
&nbsp;</p>

कंपनी के को-फाउंडर मटियो रोडोल्फो मिलनेसि ने बताया कि ये बैग उसके पिता के लिए एक श्रद्धांजलि है। वो बचपन में अपने पिता के साथ समुद्र में खेलते थे। लेकिन जवानी में उन्होंने अपने पिता को खो दिया। 
 

<p>उन्होंने आगे कहा कि अब उन्हें समुद्र में सिर्फ प्लास्टिक ही नजर आते हैं। खासकर कोरोना महामारी के दौरान उन्होंने समुद्र में मास्क और ग्लव्स के ढेर देखे हैं। ऐसे में वो इन पैसों को डोनेट कर उसकी सफाई में कंट्रीब्यूट करना चाहते हैं।&nbsp;</p>

उन्होंने आगे कहा कि अब उन्हें समुद्र में सिर्फ प्लास्टिक ही नजर आते हैं। खासकर कोरोना महामारी के दौरान उन्होंने समुद्र में मास्क और ग्लव्स के ढेर देखे हैं। ऐसे में वो इन पैसों को डोनेट कर उसकी सफाई में कंट्रीब्यूट करना चाहते हैं। 

<p>उन्होंने आगे बताया कि पर्स में लगा हर पत्थर समुद्र और महासागर को दर्शाता है। जैसे ब्लू सफायर समुद्र की गहराई को दिखाता है। जबकि हीरे पारदर्शी पानी की बूंदों को।&nbsp;</p>

उन्होंने आगे बताया कि पर्स में लगा हर पत्थर समुद्र और महासागर को दर्शाता है। जैसे ब्लू सफायर समुद्र की गहराई को दिखाता है। जबकि हीरे पारदर्शी पानी की बूंदों को। 

<p>Boarini Milanesi कंपनी की स्थापना 2016 में हुई थी। ये अपने हर प्रोडक्ट को लिमिटेड मात्रा में बनाते हैं। साथ ही सिर्फ क्वालिटी पर फोकस करते हैं। उन्होंने बताया कि इस बैग को उनके क्लाइंट्स के ऑर्डर पर बनाया जाएगा और उसपर उनका नाम लिखवाया जाएगा।&nbsp;</p>

Boarini Milanesi कंपनी की स्थापना 2016 में हुई थी। ये अपने हर प्रोडक्ट को लिमिटेड मात्रा में बनाते हैं। साथ ही सिर्फ क्वालिटी पर फोकस करते हैं। उन्होंने बताया कि इस बैग को उनके क्लाइंट्स के ऑर्डर पर बनाया जाएगा और उसपर उनका नाम लिखवाया जाएगा। 

<p>इस पर्स के अंदर का हिस्सा सब्जियों जैसे दिखने वाले चमड़े से बनाएगा। साथ ही इसमें ऊन का भी प्रयोग किया जाएगा। साथ ही जब इस पर्स को बनाया जाएगा तब क्लाइंट वीडियो कॉल पर इसे देख भी सकता है। साथ ही अगर उसे कुछ बदलाव चाहिए तो वो भी बता सकता है।&nbsp;<br />
&nbsp;</p>

इस पर्स के अंदर का हिस्सा सब्जियों जैसे दिखने वाले चमड़े से बनाएगा। साथ ही इसमें ऊन का भी प्रयोग किया जाएगा। साथ ही जब इस पर्स को बनाया जाएगा तब क्लाइंट वीडियो कॉल पर इसे देख भी सकता है। साथ ही अगर उसे कुछ बदलाव चाहिए तो वो भी बता सकता है। 
 

<p>बता दें कि फिलहाल दुनिया का सबसे कीमती हैंडबैग Mouawad 1001 Nights Diamond Purse है, जो दिल के आकार का है। इसका नाम जिनिज बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज है। इसमें 4 हजार 5 सौ 17 हीरे लगे हुए हैं। साथ ही इसे बनाने में 10 लोगों को 8 हजार 8 सौ घंटे लगे थे। &nbsp;कीमत 23 करोड़ 44 लाख है।&nbsp;</p>

बता दें कि फिलहाल दुनिया का सबसे कीमती हैंडबैग Mouawad 1001 Nights Diamond Purse है, जो दिल के आकार का है। इसका नाम जिनिज बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज है। इसमें 4 हजार 5 सौ 17 हीरे लगे हुए हैं। साथ ही इसे बनाने में 10 लोगों को 8 हजार 8 सौ घंटे लगे थे।  कीमत 23 करोड़ 44 लाख है। 

Today's Poll

आप कितने खिलाड़ियों के साथ ऑनलाइन गेम खेलना पसंद करते हैं?