Asianet News Hindi

West Bengal Election: मॉडलिंग और फिल्मों के जरिये लाखों फैन्स बनाने वाली पायल सरकार की कहानी कुछ यूं है

First Published Mar 16, 2021, 4:21 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

पांच राज्यों के साथ पश्चिम बंगाल में होने जा रहे विधानसभा इस बार बेहद आक्रामक हैं। तृणमूल कांग्रेस(TMC) और भाजपा दोनों ने ही कई बंगाली अभिनेत्रियों और अभिनेताओं को विधानसभा का टिकट दिया है। इनमें से एक हैं पायल सरकार। वे बेहला पूर्व सीट से भाजपा की उम्मीदवार हैं। उनका मुकाबला रत्ना चटर्जी से होगा। दिलचस्प बात यह है कि रत्ना हाल में भाजपा में शामिल हुए शोभन चटर्जी की पत्नी हैं। बता दें कि पायल सरकार बंगाली सिनेमा का जाना-माना चेहरा हैं। वे कई बंगाली फिल्मों में लीड रोल निभा चुकी हैं। पायल सरकार का जन्म 10 फरवरी 1984 को कोलकाता में हुआ था। हालांकि कई वेबसाइट पर उनकी जन्मतिथि 1981 भी लिखी है। आइए जानते हैं पायल सरकार से जुड़ीं और कई जानकारियां..

पायल सरकार की एजुकेशन कोलकाता में हुई। उन्होंने ग्रेजुएशन जाधवपुर यूनिवर्सिटी से पूरा किया। पायल ने अपने करियर की शुरुआत मॉडल के तौर पर की थी। उन्हें उम्मीद थी कि भाजपा उन्हें चुनाव में टिकट देगी।
 

पायल सरकार की एजुकेशन कोलकाता में हुई। उन्होंने ग्रेजुएशन जाधवपुर यूनिवर्सिटी से पूरा किया। पायल ने अपने करियर की शुरुआत मॉडल के तौर पर की थी। उन्हें उम्मीद थी कि भाजपा उन्हें चुनाव में टिकट देगी।
 

25 फरवरी को पायल सरकार पश्चिम बंगाल में भाजपा के अध्यक्ष दिलीप घोष और अन्य नेताओं की मौजूदगी में भाजपा में शामिल हुई थीं। तब उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा था-'नमस्कार, दुनिया की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी की सदस्य बनना सौभाग्य की बात है।'

25 फरवरी को पायल सरकार पश्चिम बंगाल में भाजपा के अध्यक्ष दिलीप घोष और अन्य नेताओं की मौजूदगी में भाजपा में शामिल हुई थीं। तब उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा था-'नमस्कार, दुनिया की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी की सदस्य बनना सौभाग्य की बात है।'

पश्चिम बंगाल में पायल काफी लोकप्रिय अभिनेत्री हैं। वे पॉपुलर मैग्जीन उनिश कुरी के कवर पेज पर भी अपनी जगह बना चुकी हैं।

पश्चिम बंगाल में पायल काफी लोकप्रिय अभिनेत्री हैं। वे पॉपुलर मैग्जीन उनिश कुरी के कवर पेज पर भी अपनी जगह बना चुकी हैं।

पायल ने वर्ष 2006 में  फिल्म बिबर से अपने फिल्मी करियर की शुरुआत की थी। उन्हें कई पुरस्कार मिले।

पायल ने वर्ष 2006 में  फिल्म बिबर से अपने फिल्मी करियर की शुरुआत की थी। उन्हें कई पुरस्कार मिले।

पायल को 2010 में फिल्म ले चक्का के लिए बेस्ट एक्ट्रेस का आनंदलोक अवॉर्ड मिला था। साल 2016 में जोमेर राजा दिलो बोर के लिए भी बेस्ट एक्ट्रेस से नवाजी गई थीं।
 

पायल को 2010 में फिल्म ले चक्का के लिए बेस्ट एक्ट्रेस का आनंदलोक अवॉर्ड मिला था। साल 2016 में जोमेर राजा दिलो बोर के लिए भी बेस्ट एक्ट्रेस से नवाजी गई थीं।
 

37 वर्षीय पायल सरकार हिंदी सिनेमा में भी अपनी किस्मत आजमा चुकी हैं। वे गुड्डू गन नामक फिल्म में कुणाल खेमू के अपोजिट नजर आई थीं। यह फिल्म 2015 में रिलीज हुई थी।

37 वर्षीय पायल सरकार हिंदी सिनेमा में भी अपनी किस्मत आजमा चुकी हैं। वे गुड्डू गन नामक फिल्म में कुणाल खेमू के अपोजिट नजर आई थीं। यह फिल्म 2015 में रिलीज हुई थी।

पायल का मुकाबला TMC छोड़कर भाजपा में आए सोवन चटर्जी की पत्नी रत्ना से है। रत्ना को ममता बनर्जी ने जानबूझकर यहां से टिकट दिया है, ताकि पत्नी-पत्नी के झगड़े का फायदा उठाया जा सका। हालांकि रत्ना के मुकाबले पायल काफी लोकप्रिय हैं।

पायल का मुकाबला TMC छोड़कर भाजपा में आए सोवन चटर्जी की पत्नी रत्ना से है। रत्ना को ममता बनर्जी ने जानबूझकर यहां से टिकट दिया है, ताकि पत्नी-पत्नी के झगड़े का फायदा उठाया जा सका। हालांकि रत्ना के मुकाबले पायल काफी लोकप्रिय हैं।

बंगाल की रानजीति में ग्लैमर शुरू से ही हावी रहा है। ऐसे में पायल सरकार को उम्मीद है कि उनके फैन्स जरूर जीत दिलवाएंगे।

बंगाल की रानजीति में ग्लैमर शुरू से ही हावी रहा है। ऐसे में पायल सरकार को उम्मीद है कि उनके फैन्स जरूर जीत दिलवाएंगे।

जानें कब चुनाव
बता दें कि बंगाल की 294 सीटों के लिए 8 चरणों में वोटिंग होगी। पहले चरण में  294 में से 30 सीटों पर 27 मार्च को वोट डाले जाएंगे। दूसरे चरण में 30 सीटों पर एक अप्रैल को, तीसरे चरण में 31 सीटों पर 6 अप्रैल को, चौथे चरण में 44 सीटों पर 10 अप्रैल को, पांचवे चरण में 45 सीटों पर 17 अप्रैल को, छठे चरण में 43 सीटों पर 22 अप्रैल को, सातवें चरण में 36 सीटों पर 26 अप्रैल को और आठवें चरण में 35 सीटों पर 29 अप्रैल को वोटिंग होगी।


(अपने फैन्स के साथ पायल)

जानें कब चुनाव
बता दें कि बंगाल की 294 सीटों के लिए 8 चरणों में वोटिंग होगी। पहले चरण में  294 में से 30 सीटों पर 27 मार्च को वोट डाले जाएंगे। दूसरे चरण में 30 सीटों पर एक अप्रैल को, तीसरे चरण में 31 सीटों पर 6 अप्रैल को, चौथे चरण में 44 सीटों पर 10 अप्रैल को, पांचवे चरण में 45 सीटों पर 17 अप्रैल को, छठे चरण में 43 सीटों पर 22 अप्रैल को, सातवें चरण में 36 सीटों पर 26 अप्रैल को और आठवें चरण में 35 सीटों पर 29 अप्रैल को वोटिंग होगी।


(अपने फैन्स के साथ पायल)

पायल मार्डन ख्यालात की होने के बावजूद धार्मिक प्रवृत्ति की हैं। 

पायल मार्डन ख्यालात की होने के बावजूद धार्मिक प्रवृत्ति की हैं। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios