US की तरह इस देश ने भी मानी हार, कोरोना से हर 2 मिनट में 3 मौत, बिछ गईं लाशें; देखिए तबाही का भयंकर मंजर

First Published 31, May 2020, 3:56 PM

ब्रासीलिया. कोरोना के संक्रमण से दुनिया का बुरा हाल है। अमेरिका के बाद ब्राजील कोरोना के कहर के आगे बेबस नजर आ रहा है। यहां हालात इस कदर बिगड़ रहे हैं कि पिछले 24 घंटे में 30 हजार से अधिक मरीज सामने आए हैं। जबकि 890 लोगों की मौत हुई है। ब्राजील दुनिया का दूसरा देश बन गया है जहां संक्रमित मरीजों की संख्या 4 लाख से अधिक है। वहीं, देश में सरकार ने लॉकडाउन के सख्त नियमों को लागू नहीं किया है इसके साथ ही लोगों के लिए सोशल डिस्टेंसिंग जैसा भी कोई नियम नहीं है। 

<p style="text-align: justify;">ब्राजील के स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि कोरोना वायरस से मौत के मामले में ब्राजील फ्रांस से भी आगे निकल गया है और अब  केवल संयुक्त राज्य अमेरिका, ब्रिटेन और इटली से नीचे है। <br />
 </p>

ब्राजील के स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि कोरोना वायरस से मौत के मामले में ब्राजील फ्रांस से भी आगे निकल गया है और अब  केवल संयुक्त राज्य अमेरिका, ब्रिटेन और इटली से नीचे है। 
 

<p style="text-align: justify;">ब्राजील में अबतक कुल 499,966 कोरोना मामलों की पुष्टि हो चुकी है। वहां के स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि कोरोना वायरस से ब्राजील में सांस लेने की बीमारी में इजाफा हुआ है। जिसके बाद मरने वालों का आंकड़ा 28 हजार 849 के पार पहुंच गया है। </p>

ब्राजील में अबतक कुल 499,966 कोरोना मामलों की पुष्टि हो चुकी है। वहां के स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि कोरोना वायरस से ब्राजील में सांस लेने की बीमारी में इजाफा हुआ है। जिसके बाद मरने वालों का आंकड़ा 28 हजार 849 के पार पहुंच गया है। 

<p style="text-align: justify;">स्वास्थ्य विशेषज्ञों के वहां स्थिति और खराब होने की चेतावनी देने के बाद भी ब्राजील के कई राज्यों में क्वारनटाइन के नियमों में ढील देने की तैयारी चल रही है। वहीं, मौजूदा समय में हालात यह हो गया है कि लाशों से कब्रिस्तान पट चुके हैं। </p>

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के वहां स्थिति और खराब होने की चेतावनी देने के बाद भी ब्राजील के कई राज्यों में क्वारनटाइन के नियमों में ढील देने की तैयारी चल रही है। वहीं, मौजूदा समय में हालात यह हो गया है कि लाशों से कब्रिस्तान पट चुके हैं। 

<p style="text-align: justify;">ब्राजील के साओ पाउलो में लैटिन अमेरिकी देशों का सबसे बड़ा कब्रिस्तान है जिसका नाम विला फोर्मोसा है। इस कब्रिस्तान में शवों को दफनाने वाले कर्मचारी 8 घंटे की जगह अब 12 घंटे की ड्यूटी कर रहे हैं फिर भी सभी शवों को दफ्न करने का काम पूरा नहीं हो पा रहा है। हालात यह हो गए हैं कि लोग अपनों के शव को दफन करने के लिए कतारों में खड़े हैं। </p>

ब्राजील के साओ पाउलो में लैटिन अमेरिकी देशों का सबसे बड़ा कब्रिस्तान है जिसका नाम विला फोर्मोसा है। इस कब्रिस्तान में शवों को दफनाने वाले कर्मचारी 8 घंटे की जगह अब 12 घंटे की ड्यूटी कर रहे हैं फिर भी सभी शवों को दफ्न करने का काम पूरा नहीं हो पा रहा है। हालात यह हो गए हैं कि लोग अपनों के शव को दफन करने के लिए कतारों में खड़े हैं। 

<p>ब्राजील में कोरोना वायरस इस कदर पांव पसार रहा है कि यहां शनिवार को 30 हजार 102 नए केस सामने आए हैं। जबकि उससे पहले 29 मई को 29 हजार 526  मरीजों कोरोना के शिकार मिले थे। वहीं, मौत का ग्राफ भी तेजी से बढ़ने लगा है। यहां पिछले 24 घंटे में 890 लोगों की मौत हुई है। जबकि उससे एक दिन पहले यानी 29 मई को 1180 लोगों की मौत हुई थी। </p>

ब्राजील में कोरोना वायरस इस कदर पांव पसार रहा है कि यहां शनिवार को 30 हजार 102 नए केस सामने आए हैं। जबकि उससे पहले 29 मई को 29 हजार 526  मरीजों कोरोना के शिकार मिले थे। वहीं, मौत का ग्राफ भी तेजी से बढ़ने लगा है। यहां पिछले 24 घंटे में 890 लोगों की मौत हुई है। जबकि उससे एक दिन पहले यानी 29 मई को 1180 लोगों की मौत हुई थी। 

<p>ब्राजील में स्टेज प्रोग्राम भी आयोजित किए जा रहे हैं। हालांकि इस दौरान लोग इकठ्ठा नहीं हो रहे हैं। </p>

ब्राजील में स्टेज प्रोग्राम भी आयोजित किए जा रहे हैं। हालांकि इस दौरान लोग इकठ्ठा नहीं हो रहे हैं। 

<p>यहां सरकार ने आर्थिक गतिविधयों को सुचारू रूप से जारी रखने के लिए शॉपिंग मॉल्स और दुकान खोलने की इजाजत दी है। इस दौरान कई लोग मास्क पहने नजर आए। </p>

यहां सरकार ने आर्थिक गतिविधयों को सुचारू रूप से जारी रखने के लिए शॉपिंग मॉल्स और दुकान खोलने की इजाजत दी है। इस दौरान कई लोग मास्क पहने नजर आए। 

<p>तेजी से बढ़ रहे ंमरीजों की संख्या के कारण अस्पतालों के बेड भरे पड़े हैं। मरीजों को रखने की जगह नहीं है। </p>

तेजी से बढ़ रहे ंमरीजों की संख्या के कारण अस्पतालों के बेड भरे पड़े हैं। मरीजों को रखने की जगह नहीं है। 

<p>यह तस्वीर ब्राजील के एक रेलवे स्टेशन की है। जहां ट्रेन पकड़ने के लिए यात्रियों की भारी भीड़ दिखाई दी। </p>

यह तस्वीर ब्राजील के एक रेलवे स्टेशन की है। जहां ट्रेन पकड़ने के लिए यात्रियों की भारी भीड़ दिखाई दी। 

<p>ब्राजील में धार्मिक स्थल भी खुले हैं। इस दौरान लोग गिरजाघरों में सोशल डिस्टेंसिंग नियम का पालन करते हुए दिखाई दिए। </p>

ब्राजील में धार्मिक स्थल भी खुले हैं। इस दौरान लोग गिरजाघरों में सोशल डिस्टेंसिंग नियम का पालन करते हुए दिखाई दिए। 

loader