Asianet News Hindi

घंटो कोरोना वायरस मरीजों की खिदमत में लगीं नर्सों की हुई ऐसी हालत, हटाए मास्क तो दिखा खौफनाक हाल

First Published Feb 14, 2020, 4:31 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

बीजिंग. कोरोना वायरस से चीन में महामारी जैसे हालात बने हुए हैं। जानलेवा कोरोना ने अब तक करीब 1 हजार से ज्यादा से लोगों की जान ले ली है। वहीं 45 हजार से ज्यादा लोग इससे संक्रमित बताए जा रहे हैं। एक दिन में कोरोना वायरस से 200 से ज्यादा लोगों की मौत दर्ज की गई है। ऐसे में वुहान में स्थित अस्पतालों में डॉक्टर और स्वास्थ्य कर्मी लगातार कई घंटों काम कर रहे हैं। इसकी वजह से इन लोगों को भी बहुत सी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। सोशल मीडिया पर चीन की नर्सों की वीडियो और फोटोज सामने आए हैं। ऐसा खौफनाक मंजर कि देखकर पूरी दुनिया में लोग उनकी हिम्मत को सलाम कर रहे हैं। 

दुनियाभर में कोरोना वायरस की दहशत फैली हुई है पर चीन में डॉक्टर और नर्से अपनी ड्यूटी को निभाते हुए लोगों की जान बचाने में लगे हैं। खतरनाक चिकित्सा आपात स्थितियों में भी चीन में डॉक्टर और नर्स लगातार दिन-रात काम कर रहे हैं। इलाज के दौरान उन्हें मास्क लगाकार रोगियों की देखभाल करनी पड़ रही है।

दुनियाभर में कोरोना वायरस की दहशत फैली हुई है पर चीन में डॉक्टर और नर्से अपनी ड्यूटी को निभाते हुए लोगों की जान बचाने में लगे हैं। खतरनाक चिकित्सा आपात स्थितियों में भी चीन में डॉक्टर और नर्स लगातार दिन-रात काम कर रहे हैं। इलाज के दौरान उन्हें मास्क लगाकार रोगियों की देखभाल करनी पड़ रही है।

दरअसल एक तरफ तेजी से बढ़ रही मौतों को कम करने का जबरदस्त काम का दबाव है, दूसरी तरफ उनके इलाज में लगे कर्मचारियों के संक्रमित होने का जोखिम भी है।

दरअसल एक तरफ तेजी से बढ़ रही मौतों को कम करने का जबरदस्त काम का दबाव है, दूसरी तरफ उनके इलाज में लगे कर्मचारियों के संक्रमित होने का जोखिम भी है।

चीन की सरकारी मीडिया ने चिकित्साकर्मियों की मास्क उतारने के बाद की तस्वीरों शेयर की। देखते ही देखते ये फोटोज सोशल मीडिया पर वायरल हो गईं।

चीन की सरकारी मीडिया ने चिकित्साकर्मियों की मास्क उतारने के बाद की तस्वीरों शेयर की। देखते ही देखते ये फोटोज सोशल मीडिया पर वायरल हो गईं।

मरीजों की देखभाल में लगी नर्सों के चेहरे का खौफनाक हाल हो गया। उनके चेहरे पर लंबे समय तक मेडिकल मास्क पहने रहने की वजह से गहरे निशान बने गए। इन तस्वीरों को देखकर लोगों का दिल पसीज गया है।

मरीजों की देखभाल में लगी नर्सों के चेहरे का खौफनाक हाल हो गया। उनके चेहरे पर लंबे समय तक मेडिकल मास्क पहने रहने की वजह से गहरे निशान बने गए। इन तस्वीरों को देखकर लोगों का दिल पसीज गया है।

कोरोनावायरस रोगियों के इलाज के लिए चीन कई आपातकालीन सुविधाओं के साथ डॉक्टरों और नर्सों की ड्यूटी लगाई है। इन नर्सों के जज्बे और हिम्मत को लोग सलाम कर रहे हैं। हर कोई उनके सेवाभाव को देख अभिभूत नजर आया।

कोरोनावायरस रोगियों के इलाज के लिए चीन कई आपातकालीन सुविधाओं के साथ डॉक्टरों और नर्सों की ड्यूटी लगाई है। इन नर्सों के जज्बे और हिम्मत को लोग सलाम कर रहे हैं। हर कोई उनके सेवाभाव को देख अभिभूत नजर आया।

चिकित्सा कर्मचारियों की देश की उच्च मांग है और देश के रक्षाकर्मी इस संकट की घड़ी में उनकी मदद करने के लिए आगे आ गए हैं। SARS (सार्स) और इबोला वायरस के इलाज में अनुभव रखने वाले कई सैन्य डॉक्टरों और नर्सों को कोरोना वायरस के मरीजों के इलाज के काम में लगाया गया है।

चिकित्सा कर्मचारियों की देश की उच्च मांग है और देश के रक्षाकर्मी इस संकट की घड़ी में उनकी मदद करने के लिए आगे आ गए हैं। SARS (सार्स) और इबोला वायरस के इलाज में अनुभव रखने वाले कई सैन्य डॉक्टरों और नर्सों को कोरोना वायरस के मरीजों के इलाज के काम में लगाया गया है।

बताते चलें कि चीन में इस खतरनाक जानलेवा कोरोना वायरस की वजह से मरने वालों की संख्या बढ़कर 1 हजार से ऊपर हो गई है। एक दिन में इस वायरस से मरने वालों की संख्या में इजाफा हुआ है ये संख्या 200 पार कर गई है। अब तक कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की कुल संख्या 45 हजार से ज्यादा बताई जा रही है।

बताते चलें कि चीन में इस खतरनाक जानलेवा कोरोना वायरस की वजह से मरने वालों की संख्या बढ़कर 1 हजार से ऊपर हो गई है। एक दिन में इस वायरस से मरने वालों की संख्या में इजाफा हुआ है ये संख्या 200 पार कर गई है। अब तक कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की कुल संख्या 45 हजार से ज्यादा बताई जा रही है।

बता दें कि कोरोना वायरस की उत्पत्ति चीन के वुहान शहर से बताई गई है। इस वायरस ने अब भयंकर रूप ले लिया है। इस वायरस के शुरुआती लक्षण की बाच करें तो मामूली ठंड, खांसी, छींकना और बुखार है। इस वायरस का अभी तक कोई इलाज नहीं मिल पाया है। ऐसे में सावधानी ही इसका इलाज बताया जा रहा है। वायरस के कुछ केस चीन के अलावा अमेरिका, फ्रांस, भारत, पाकिस्तान और कनाडा में भी नजर आए हैं।

बता दें कि कोरोना वायरस की उत्पत्ति चीन के वुहान शहर से बताई गई है। इस वायरस ने अब भयंकर रूप ले लिया है। इस वायरस के शुरुआती लक्षण की बाच करें तो मामूली ठंड, खांसी, छींकना और बुखार है। इस वायरस का अभी तक कोई इलाज नहीं मिल पाया है। ऐसे में सावधानी ही इसका इलाज बताया जा रहा है। वायरस के कुछ केस चीन के अलावा अमेरिका, फ्रांस, भारत, पाकिस्तान और कनाडा में भी नजर आए हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios