Asianet News Hindi

दुनिया पर खतरा, अब हवा में भी घुलने लगा कोरोना वायरस का जहर: REPORT

First Published Feb 9, 2020, 11:13 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

शंघाई. चीन में कोरोना वायरस का आतंक अब हवा में भी घुल गया है। कोरोना वायरस अब सीधे व्यक्ति से व्यक्ति (पर्सन टू पर्सन) नहीं बल्कि हवा में फैलने से लोगों को संक्रमित करने लगा है। संक्रमित हवा के संपर्क में आते ही लोग कोरोना से पीड़ित होते जा रहे हैं। शंघाई अधिकारियों ने खुद इसकी पुष्टि की है। इस खबर से देश दुनिया में सरकारों और स्वास्थ्य विभागों की नीदें उड़ गई हैं। जानलेवा कोरोना के हवा में घुलने से इसके महामारी में बदलकर दुनिया भर में फैल जाने की आशंका बढ़ गई है।

शंघाई के अधिकारियों ने बताया है कि कोरोना वायरस अब हवा में मौजूद नमी में मिलकर संचरण करने लगा है। हवा में तैरते हुए वायरस दूसरे व्यक्ति को संक्रमित कर रहा है जिसे एयरोसोल ट्रांसमिशन कहा जा रहा है। अब तक वायरस से संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने के कारण बीमारी होने की ही बात कही जा रही थी।

शंघाई के अधिकारियों ने बताया है कि कोरोना वायरस अब हवा में मौजूद नमी में मिलकर संचरण करने लगा है। हवा में तैरते हुए वायरस दूसरे व्यक्ति को संक्रमित कर रहा है जिसे एयरोसोल ट्रांसमिशन कहा जा रहा है। अब तक वायरस से संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने के कारण बीमारी होने की ही बात कही जा रही थी।

संक्रमित व्यक्ति के खांसने, छींकने से पास के व्यक्ति में संक्रमण पहुंचने की भी पुष्टि पहले ही हो चुकी है। बीते दिनों चीन में एक शख्श बीमार महिला के पास मात्र 15 सेकेंड खड़े होने की वजह से संक्रमित हो चुका है। उस शख्स को तुरंत एडमिट करवाया गया था।

संक्रमित व्यक्ति के खांसने, छींकने से पास के व्यक्ति में संक्रमण पहुंचने की भी पुष्टि पहले ही हो चुकी है। बीते दिनों चीन में एक शख्श बीमार महिला के पास मात्र 15 सेकेंड खड़े होने की वजह से संक्रमित हो चुका है। उस शख्स को तुरंत एडमिट करवाया गया था।

शंघाई सिविल अफेयर्स ब्यूरो के डेप्युटी हेड ने बताया, 'एयरोसोल ट्रांसमिशन का मतलब है कि वायरस हवा में मौजूद सूक्ष्म बूंदों से मिलकर एयरोसोल बना रहा है। मेडिकल एक्सपर्ट्स के मुताबिक, इससे सांस लेने के कारण संक्रमण हो रहा है।' उन्होंने आगे कहा, 'इसके मद्देनजर हमने लोगों से अपील की है कि वो पारिवारिक सदस्यों से संक्रमित होने के से बचने के उपायों को लेकर अपनी जागरूकता बढ़ाएं।'

शंघाई सिविल अफेयर्स ब्यूरो के डेप्युटी हेड ने बताया, 'एयरोसोल ट्रांसमिशन का मतलब है कि वायरस हवा में मौजूद सूक्ष्म बूंदों से मिलकर एयरोसोल बना रहा है। मेडिकल एक्सपर्ट्स के मुताबिक, इससे सांस लेने के कारण संक्रमण हो रहा है।' उन्होंने आगे कहा, 'इसके मद्देनजर हमने लोगों से अपील की है कि वो पारिवारिक सदस्यों से संक्रमित होने के से बचने के उपायों को लेकर अपनी जागरूकता बढ़ाएं।'

हवा में कोरोना वायरस के घुलने से इसके मरीजों की संख्या अब और तेजी से बढ़ सकती है। लोगों ने अगर अपने चेहरे से मास्क हटाया तो वो बिना किसी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए दूषित हवा से ही पीड़ित हो जाएंगे।

हवा में कोरोना वायरस के घुलने से इसके मरीजों की संख्या अब और तेजी से बढ़ सकती है। लोगों ने अगर अपने चेहरे से मास्क हटाया तो वो बिना किसी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए दूषित हवा से ही पीड़ित हो जाएंगे।

इस मामले पर एक्सपर्ट्स का कहना है कि, डायरेक्ट ट्रांसमिशन का मतलब है कि संक्रमित व्यक्ति अगर छींक या खांस रहा है तो पास के व्यक्ति के सांस लेते वक्त वायरस उसमें भी चला जाएगा। वहीं, संपर्क संचार (कॉन्टैक्ट ट्रांसमिशन) तब होता है जब कोई व्यक्ति वैसी कोई वस्तु छूकर अपना मुंह, नाक या आंख स्पर्श करता है जिसमें वायरस युक्त सूक्ष्म बूंदें चिपकी होती हैं। पर अब ये वायरस हवा में घुलने लगा है जिसके बाद संक्रमित लोगों की संख्या में इजाफा होने के साथ इसके महामारी में बदलने की भी आशंका बढ़ जाएगी।

इस मामले पर एक्सपर्ट्स का कहना है कि, डायरेक्ट ट्रांसमिशन का मतलब है कि संक्रमित व्यक्ति अगर छींक या खांस रहा है तो पास के व्यक्ति के सांस लेते वक्त वायरस उसमें भी चला जाएगा। वहीं, संपर्क संचार (कॉन्टैक्ट ट्रांसमिशन) तब होता है जब कोई व्यक्ति वैसी कोई वस्तु छूकर अपना मुंह, नाक या आंख स्पर्श करता है जिसमें वायरस युक्त सूक्ष्म बूंदें चिपकी होती हैं। पर अब ये वायरस हवा में घुलने लगा है जिसके बाद संक्रमित लोगों की संख्या में इजाफा होने के साथ इसके महामारी में बदलने की भी आशंका बढ़ जाएगी।

चीन की सरकार ने लोगों से अपील की है कि वो एक जगह इकट्ठा होने से बचें, हवा के आर-पार होने के लिए खिड़कियां खोलें, साफ-सफाई का ध्यान रखें और घर में छिड़काव और सफाई करते रहें।

चीन की सरकार ने लोगों से अपील की है कि वो एक जगह इकट्ठा होने से बचें, हवा के आर-पार होने के लिए खिड़कियां खोलें, साफ-सफाई का ध्यान रखें और घर में छिड़काव और सफाई करते रहें।

चीन के वुहान शहर से शुरू हुआ कोरोना वायरस अब तक करीब 811 लोगों की जान ले चुका है। रिपोर्ट के मुताबिक रोजाना इसके मरीजों की संख्या बढ़ रही है। हजारों की तादाद में इसके संक्रमित लोगं की संख्या बढ़ रही है।

चीन के वुहान शहर से शुरू हुआ कोरोना वायरस अब तक करीब 811 लोगों की जान ले चुका है। रिपोर्ट के मुताबिक रोजाना इसके मरीजों की संख्या बढ़ रही है। हजारों की तादाद में इसके संक्रमित लोगं की संख्या बढ़ रही है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios