Asianet News Hindi

अब अमेरिका में म्यूजियम से हटानी पड़ी ट्रम्प की मूर्ति, कई दिनों से लोग कर रहे थे हमला

First Published Mar 20, 2021, 3:48 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

इंटरनेशनल डेस्क। अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) के टेक्सास शहर के म्यूजियम में रखी गई वैक्स की मूर्ति को हटाने की नौबत आ गई। बता दें कि ट्रम्प की यह मूर्ति रूस के राष्ट्पति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) और नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग-उन (Kim Jong-Un) के बीच थी। प्रशासन का कहना है कि पिछले कुछ समय से ट्रम्प की मूर्ति पर लोग हमले कर रहे थे। लोगों में ट्रम्प के प्रति घृणा की भावना देखी जा रही थी और ऐसे लोग म्यूजियम में रखी उनकी मूर्ति पर हमला करते थे। इसके बाद टेक्सास शहर के प्रशासन ने ट्रम्प की मूर्ति को म्यूजियम से हटाने का फैसला किया।


 

म्यूजियम के रिप्ले एंटरटेनमेंट के रीजनल मैनेजर क्ले स्टीवर्ट का कहना था कि ट्रम्प की मूर्ति पर लोगों के बढ़ते हमले की वजह से मूर्चि के चेहरे पर कई स्क्रैच पड़ गए थे। उन्होंने कहा कि इस लेकर विवाद बढ़ने की आशंका थी। इसलिए मूर्ति को हटाने का फैसला लिया गया।

म्यूजियम के रिप्ले एंटरटेनमेंट के रीजनल मैनेजर क्ले स्टीवर्ट का कहना था कि ट्रम्प की मूर्ति पर लोगों के बढ़ते हमले की वजह से मूर्चि के चेहरे पर कई स्क्रैच पड़ गए थे। उन्होंने कहा कि इस लेकर विवाद बढ़ने की आशंका थी। इसलिए मूर्ति को हटाने का फैसला लिया गया।

जानकारी के मुताबिक, ट्रम्प की इस मूर्ति को लुईस तुसाद वैक्सवर्क्स के स्टोरेज में रखवा दिया गया है। ट्रम्प की मूर्ति वापस तब तक म्यूजियम में वापस नहीं लाई जाएगी, जब तक कि अमेरिका के नए राष्ट्रपति जो बाइडेन की मूर्ति नहीं लगा दी जाती।

जानकारी के मुताबिक, ट्रम्प की इस मूर्ति को लुईस तुसाद वैक्सवर्क्स के स्टोरेज में रखवा दिया गया है। ट्रम्प की मूर्ति वापस तब तक म्यूजियम में वापस नहीं लाई जाएगी, जब तक कि अमेरिका के नए राष्ट्रपति जो बाइडेन की मूर्ति नहीं लगा दी जाती।

अमेरिकी थिंक टैंक प्यू रिसर्च सेंटर (Pew Research Center) के एक सर्वे के मुताबिक, ट्रम्प की लोकप्रियता में इस साल कैपिटल बिल्डिंग में हुए हमले के बाद बड़ी गिरावट आई है।

अमेरिकी थिंक टैंक प्यू रिसर्च सेंटर (Pew Research Center) के एक सर्वे के मुताबिक, ट्रम्प की लोकप्रियता में इस साल कैपिटल बिल्डिंग में हुए हमले के बाद बड़ी गिरावट आई है।

रिपोर्ट के मुताबिक, ट्रम्प समर्थकों ने जो हिंसा की थी, उसके बाद 68 फीसदी लोगों ने इस बात को माना था कि वे वाइट हाउस छोड़ने के बाद ट्रम्प को राजनीतिक तौर पर सक्रिय देखना नहीं चाहते हैं।

रिपोर्ट के मुताबिक, ट्रम्प समर्थकों ने जो हिंसा की थी, उसके बाद 68 फीसदी लोगों ने इस बात को माना था कि वे वाइट हाउस छोड़ने के बाद ट्रम्प को राजनीतिक तौर पर सक्रिय देखना नहीं चाहते हैं।

पिछले साल अमेरिका में हुए राष्ट्रपति चुनाव के पहले ही मैडम तुसाद म्यूजियम से ट्रम्प की मूर्ति को हटा दिया गया था। साल 2020 में जो बाइडेन ने ट्रम्प को हरा कर अमेरिका के राष्ट्पति पद की शपथ ली। वहीं, कमला हैरिस को अमेरिका का उप राष्ट्रपति बनाया गया।

पिछले साल अमेरिका में हुए राष्ट्रपति चुनाव के पहले ही मैडम तुसाद म्यूजियम से ट्रम्प की मूर्ति को हटा दिया गया था। साल 2020 में जो बाइडेन ने ट्रम्प को हरा कर अमेरिका के राष्ट्पति पद की शपथ ली। वहीं, कमला हैरिस को अमेरिका का उप राष्ट्रपति बनाया गया।

बता दें कि ट्रम्प आखिरी वक्त तक अपनी हार को स्वीकार करने के लिए तैयार नहीं थे। उनके समर्थकों ने कैपिटल हिल पर हथियारबंद हमला कर दिया, जिसकी दुनियाभर में बड़ी निंदा हुई। आखिरकार, ट्म्प को वाइट हाउस छोड़ना पड़ा। बताते हैं कि ट्रम्प की निजी संपत्ति में भी गिरावट देखने को मिल रही है।

बता दें कि ट्रम्प आखिरी वक्त तक अपनी हार को स्वीकार करने के लिए तैयार नहीं थे। उनके समर्थकों ने कैपिटल हिल पर हथियारबंद हमला कर दिया, जिसकी दुनियाभर में बड़ी निंदा हुई। आखिरकार, ट्म्प को वाइट हाउस छोड़ना पड़ा। बताते हैं कि ट्रम्प की निजी संपत्ति में भी गिरावट देखने को मिल रही है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios