Asianet News Hindi

कोरोना की मार झेल रहे पाकिस्तान को दिया चीन ने 'धोखा', मदद के नाम पर भेजे अंडरवियर से बने मास्क

First Published Apr 4, 2020, 5:22 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

इस्लामाबाद. चीन हमेशा पाकिस्तान का दोस्त होने का दावा करता है। भारत के खिलाफ किसी भी मामले में पाकिस्तान को चीन से हर संभव मदद भी मिलती है। लेकिन कोरोना की मार झेल रहे पाकिस्तान को इस बार उसके दोस्त चीन से धोखा मिला। दरअसल, तंगी की मार झेल रहे पाकिस्तान को चीन ने एन 95 मास्क और मेडिकल उपकरण भेजने का वादा किया था। हाल ही में इनकी पहली खेप पाकिस्तान भी पहुंची। लेकिन पाकिस्तानी मीडिया का दावा है कि यह मास्क अंडरवियर से बने हैं। 

कोरोना संकट के बीच यह पहला मौका नहीं है, जब चीन के मास्क और मेडिकल उपकरणों में खामी की बात सामने आई हो। इससे पहले यूरोप के कई देशों में चीन से पहुंचे सामान जैसे मास्क और जांच किट में खामी की बात सामने आई थी। इसके बाद स्पेन और नीदरलैंड्स ने मेडिकल सामानों को वापस करने का भी फैसला किया था।

कोरोना संकट के बीच यह पहला मौका नहीं है, जब चीन के मास्क और मेडिकल उपकरणों में खामी की बात सामने आई हो। इससे पहले यूरोप के कई देशों में चीन से पहुंचे सामान जैसे मास्क और जांच किट में खामी की बात सामने आई थी। इसके बाद स्पेन और नीदरलैंड्स ने मेडिकल सामानों को वापस करने का भी फैसला किया था।

हाल ही में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान कोरोना के खिलाफ जंग में अपने भाषणों में चीन की बढ़ाई करते नहीं थक रहे हैं। लेकिन उन्हें शायद इसका अंदाजा नहीं होगा कि चीन मदद के नाम पर भी उनकी फजीयत हो जाएगी।

हाल ही में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान कोरोना के खिलाफ जंग में अपने भाषणों में चीन की बढ़ाई करते नहीं थक रहे हैं। लेकिन उन्हें शायद इसका अंदाजा नहीं होगा कि चीन मदद के नाम पर भी उनकी फजीयत हो जाएगी।

पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक, जब स्थानीय अधिकारियों ने चीन से आए सामान को खोला तो वे हैरान रह गए। यहां एन 95 की जगह अंडरवियर से बने मास्क थे।

पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक, जब स्थानीय अधिकारियों ने चीन से आए सामान को खोला तो वे हैरान रह गए। यहां एन 95 की जगह अंडरवियर से बने मास्क थे।

इतना ही नहीं, इन सामानों की जांच आते वक्त भी नहीं की गई। इन्हें सिंध सरकार के पास बिना जांचे ही भेज दिया गया। वहां से इन्हे अस्पतालों में भेज दिया गया। जहां इस सामान की पोल खुली।

इतना ही नहीं, इन सामानों की जांच आते वक्त भी नहीं की गई। इन्हें सिंध सरकार के पास बिना जांचे ही भेज दिया गया। वहां से इन्हे अस्पतालों में भेज दिया गया। जहां इस सामान की पोल खुली।

पाक मीडिया के मुताबिक, चीन ने मेडिकल उपकरण भेजने का वादा किया था। लेकिन चीन ने पाकिस्तान को ठग लिया और अंडरवियर से बने मास्क भेज दिए। इतना ही नहीं पाकिस्तान की एंकर यह कहते हुए भी नजर आ रही हैं कि चीन ने चूना लगा दिया।

पाक मीडिया के मुताबिक, चीन ने मेडिकल उपकरण भेजने का वादा किया था। लेकिन चीन ने पाकिस्तान को ठग लिया और अंडरवियर से बने मास्क भेज दिए। इतना ही नहीं पाकिस्तान की एंकर यह कहते हुए भी नजर आ रही हैं कि चीन ने चूना लगा दिया।

इससे पहले चीन ने मेडिकल सप्लाई भेजने के लिए गिलगित बाल्टिस्तान की सीमा खोलने का अनुरोध किया था। चीन दूतावास ने पाकिस्तान सरकार से अनुरोध किया था कि शिजियांग मदद के लिए मेडिकल सप्लाई भेजना चाहता है।

इससे पहले चीन ने मेडिकल सप्लाई भेजने के लिए गिलगित बाल्टिस्तान की सीमा खोलने का अनुरोध किया था। चीन दूतावास ने पाकिस्तान सरकार से अनुरोध किया था कि शिजियांग मदद के लिए मेडिकल सप्लाई भेजना चाहता है।

चीन ने कहा था कि वह पाकिस्तान के लिए 2 लाख सामान्य मास्क, 2000 एन 95 मास्क और 5 वेंटिलेटर और 2 हजार टेस्टिंग किट भेजेगा। हालांकि, अभी यह साफ नहीं हुआ कि बाकी सामान ठीक है या उसमें भी खामी पाई गई है।

चीन ने कहा था कि वह पाकिस्तान के लिए 2 लाख सामान्य मास्क, 2000 एन 95 मास्क और 5 वेंटिलेटर और 2 हजार टेस्टिंग किट भेजेगा। हालांकि, अभी यह साफ नहीं हुआ कि बाकी सामान ठीक है या उसमें भी खामी पाई गई है।

उधर, पाकिस्तान में कोरोना के संक्रमण के मामले बढ़ते जा रहे हैं। यहां अब तक 2709 मामले सामने आए हैं। वहीं, 40 लोगों की मौत हुई है। पाकिस्तान में सबसे ज्यादा प्रभावित पंजाब और सिंध प्रांत है। पंजाब में कोरोना के संक्रमण के 1072 तो सिंध में 839 मामले सामने आए हैं।

उधर, पाकिस्तान में कोरोना के संक्रमण के मामले बढ़ते जा रहे हैं। यहां अब तक 2709 मामले सामने आए हैं। वहीं, 40 लोगों की मौत हुई है। पाकिस्तान में सबसे ज्यादा प्रभावित पंजाब और सिंध प्रांत है। पंजाब में कोरोना के संक्रमण के 1072 तो सिंध में 839 मामले सामने आए हैं।

पाकिस्तान में कोरोना को फैलने से रोकने के लिए लॉकडाउन लगाया है। इसके चलते पहले से संकट में चल रही पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था और चरमरा गई है।

पाकिस्तान में कोरोना को फैलने से रोकने के लिए लॉकडाउन लगाया है। इसके चलते पहले से संकट में चल रही पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था और चरमरा गई है।

इससे पहले इमरान खान ने साफ कर दिया था कि पाकिस्तान कोरोना वायरस रोकने में सक्षम नहीं है। उन्होंने कहा कि हमारे पास संसाधन भी नहीं हैं। उन्होंने विकसित देशों से अपील की है कि वो गरीब देशों की मदद करें और पैसा दें।

इससे पहले इमरान खान ने साफ कर दिया था कि पाकिस्तान कोरोना वायरस रोकने में सक्षम नहीं है। उन्होंने कहा कि हमारे पास संसाधन भी नहीं हैं। उन्होंने विकसित देशों से अपील की है कि वो गरीब देशों की मदद करें और पैसा दें।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios