Asianet News Hindi

मोदी जी हमारे लिए कुछ मदद भेजिए, 14 दिन हो गए...कोरोना के कारण क्रू में फंसी सोनाली ने कुछ यूं लगाई गुहार

First Published Feb 19, 2020, 3:29 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. कोरोना वायरस के कारण जापान की राजधानी टोक्यो में डायमंड प्रिंसेस शिप पर फंसी सोनाली ठक्कर का नया वीडियो सामने आया है। इस वीडियो में वह मदद की अपील कर रही है। उनका कहना है कि वह 14 दिन से फंसी है। अभी तक उनका और बाकी क्रू मेंबर का कोई टेस्ट नहीं किया गया। इसके साथ ही उनको वापस भारत लाने की भी कोई कोशिश नहीं की जा रही है।

वीडियो में सोनाली ठक्कर ने कहा, 'मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी से ये रिक्वेस्ट करना चाहती हूं कि वो हमारे लिए कुछ मदद भेजें। 14 दिन हो चुके हैं हमें यहां फंसे हुए। हमें अब तक इस शिप में रखा गया है। हमारे टेस्ट भी अब तक पूरे नहीं हुए हैं। हम सारे क्रू मेंबर इंतजार कर रहे हैं कि हमारे सारे टेस्ट को पूरा कर इस शिप से बाहर निकाला जाए।'

वीडियो में सोनाली ठक्कर ने कहा, 'मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी से ये रिक्वेस्ट करना चाहती हूं कि वो हमारे लिए कुछ मदद भेजें। 14 दिन हो चुके हैं हमें यहां फंसे हुए। हमें अब तक इस शिप में रखा गया है। हमारे टेस्ट भी अब तक पूरे नहीं हुए हैं। हम सारे क्रू मेंबर इंतजार कर रहे हैं कि हमारे सारे टेस्ट को पूरा कर इस शिप से बाहर निकाला जाए।'

सोनाली ठक्कर ने पीएम मोदी और केंद्र सरकार से अपील करते हुए कहा कि भारतीय दूतावास ने मुझसे संपर्क किया था और उन्हें बताया गया था कि भारत सरकार से भारतीयों को वापस ले जाने के लिए एक विमान भेजने के लिए कहा गया है, लेकिन अभी तक कोई विमान नहीं आया।

सोनाली ठक्कर ने पीएम मोदी और केंद्र सरकार से अपील करते हुए कहा कि भारतीय दूतावास ने मुझसे संपर्क किया था और उन्हें बताया गया था कि भारत सरकार से भारतीयों को वापस ले जाने के लिए एक विमान भेजने के लिए कहा गया है, लेकिन अभी तक कोई विमान नहीं आया।

सोनाली का टेस्ट रिजल्ट निगेटिवः सोनाली का कहना है कि कोरोना वायरस के टेस्ट का रिजल्ट निगेटिव आया है और वह संक्रमित नहीं होना चाहती है। कोरोना वायरस तेजी से फैल रहा है, इसलिए वे सभी सबसे ज्यादा चिंतित हैं।

सोनाली का टेस्ट रिजल्ट निगेटिवः सोनाली का कहना है कि कोरोना वायरस के टेस्ट का रिजल्ट निगेटिव आया है और वह संक्रमित नहीं होना चाहती है। कोरोना वायरस तेजी से फैल रहा है, इसलिए वे सभी सबसे ज्यादा चिंतित हैं।

मायानगरी मुंबई के ठाकुर विद्या मंदिर कॉलेज से पढ़ाई करने वाली 24 वर्षीय सोनाली ठक्‍कर ने कभी सपने में भी नहीं सोचा होगा कि कभी उनका शौक उनके लिए मौत के खौफ की वजह बन जाएगा। आलीशान जिंदगी और समुंदर की लहरों पर अठखेलियां करने की चाहत लेकर जापान के लग्‍जरी क्रूज शिप डायमंड प्रिंसेज को जॉइन करने वाली सोनाली ठक्‍कर इन दिनों मौत के साए में जी रही हैं।

मायानगरी मुंबई के ठाकुर विद्या मंदिर कॉलेज से पढ़ाई करने वाली 24 वर्षीय सोनाली ठक्‍कर ने कभी सपने में भी नहीं सोचा होगा कि कभी उनका शौक उनके लिए मौत के खौफ की वजह बन जाएगा। आलीशान जिंदगी और समुंदर की लहरों पर अठखेलियां करने की चाहत लेकर जापान के लग्‍जरी क्रूज शिप डायमंड प्रिंसेज को जॉइन करने वाली सोनाली ठक्‍कर इन दिनों मौत के साए में जी रही हैं।

किलर करॉना वायरस ने उनके क्रूज पर सवार 218 लोगों को अपनी गिरफ्त में ले लिया है और अब सोनाली ठाकुर मोदी सरकार से जान बचाने की गुहार लगा रही हैं।

किलर करॉना वायरस ने उनके क्रूज पर सवार 218 लोगों को अपनी गिरफ्त में ले लिया है और अब सोनाली ठाकुर मोदी सरकार से जान बचाने की गुहार लगा रही हैं।

चीन में घातक कोरोना वायरस से 136 और लोगों की मौत हो जाने से संक्रमण से मरने वालों की संख्या बुधवार को 2,000 के पार हो गई और इसके कुल 74,185 मामलों की पुष्टि हो चुकी है।

चीन में घातक कोरोना वायरस से 136 और लोगों की मौत हो जाने से संक्रमण से मरने वालों की संख्या बुधवार को 2,000 के पार हो गई और इसके कुल 74,185 मामलों की पुष्टि हो चुकी है।

राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग (एनएचसी  में से 132 हुबेई में जबकि हेइलोंगजियांग, शानदोंग, गुआंगदोंग और गुइझोऊ में एक-एक व्यक्ति मारे गए। आयोग ने बताया कि इसके 1,185 नए संदिग्ध मामले सामने आए हैं। मंगलवार को 236 मरीजों की हालत काफी गंभीर थी जबकि 1,824 लोगों को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई।

राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग (एनएचसी में से 132 हुबेई में जबकि हेइलोंगजियांग, शानदोंग, गुआंगदोंग और गुइझोऊ में एक-एक व्यक्ति मारे गए। आयोग ने बताया कि इसके 1,185 नए संदिग्ध मामले सामने आए हैं। मंगलवार को 236 मरीजों की हालत काफी गंभीर थी जबकि 1,824 लोगों को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई।

इसी प्रिंसेज डायमंड क्रूज में कुल 2500 लोग सवार हैं। जिनमें से छह यात्री और 130 चालक दल के सदस्य भारतीय हैं। हालांकि सभी 14 दिनों से क्रू में फंसे हुए हैं। बताया जा रहा कि कोरोना वायरस के डर के कारण लोगों को बाहर नहीं निकाला जा रहा है। क्रू में सवार सभी लोगों को लगातार टेस्ट किया जा रहा है।

इसी प्रिंसेज डायमंड क्रूज में कुल 2500 लोग सवार हैं। जिनमें से छह यात्री और 130 चालक दल के सदस्य भारतीय हैं। हालांकि सभी 14 दिनों से क्रू में फंसे हुए हैं। बताया जा रहा कि कोरोना वायरस के डर के कारण लोगों को बाहर नहीं निकाला जा रहा है। क्रू में सवार सभी लोगों को लगातार टेस्ट किया जा रहा है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios