Asianet News HindiAsianet News Hindi

हैरतंगेज करतब: हरियाणा में पहलवान ने 4 टन के ट्रक को कानों से खींचा, फिर 40 किलो वेट दांतो से दबाकर दौड़ा

दातों से ट्रक को खींचने के बाद पहलवान बिजेन्द्र अपने 40 किलो के बेटे को दांतो से दबा के दौड़े और चलती दो बाइकों को हाथों से रोक कर हैरतंगेज़ करतब दिखाए। सोशल मीडिया पर इसके वीडियो जमकर वायरल हो रहे हैं। 

bhiwani bijender pehalwan   pulled 4 ton truck by his ear  and made by world record kpr
Author
Bhiwani, First Published Jan 5, 2022, 2:02 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp


भिवानी (हरियाणा). अभी तक हम और आप कानों का इस्तेमाल सिर्फ सुनने के लिए करते हैं। क्या आपने कभी किसी इंसान को कान से ट्रक खींचते देखा है। लेकिन हरियाणा के पहलवान बिजेन्द्र ने हैरतंगेज़ करतब दिखाते हुए अपने कान की ताकत के दमपर ऐसा कमाल कर दिखाया जो शायद किसी ने देखा होगा। उन्होंने कानों से भारी भरकम यानि 4 टन ट्रक को खींचा। इस शख्स को ट्रक को इस तरह से खिचते हुए देखकर लोगों के रोंगटे खड़े हो गए। 

पहलवान की देश को नशामुक्त करने के लिए अनुठी मुहिम 
दरअसल, पहलवान बिजेन्द्र ने यह कारनामा भिवानी के राधा स्वामी आश्रम में में कर दिखाया। जहां उन्होंने नशामुक्ति को लेकर चलाए जा रहे अभियान में अपनी शक्ति का प्रदर्शन किया। आयरन मैन कहे जाने वाले पहलवान बिजेन्द्र ने देश को नशामुक्त करने के लिए अनुठी मुहिम शुरू की है। इस दौरान पहलवान बिजेन्द्र ने चार टन वज़नी टाटा ट्रक को कानों से खींच कर रिकॉर्ड बनाया। 

 40 किलो बेटे को दांतो में दबाकर के दौड़े 
दातों से ट्रक को खींचने के बाद पहलवान बिजेन्द्र अपने 40 किलो के बेटे को दांतो से दबा के दौड़े और चलती दो बाइकों को हाथों से रोक कर हैरतंगेज़ करतब दिखाए। सोशल मीडिया पर इसके वीडियो जमकर वायरल हो रहे हैं। वहीं अपनी इस ताकत के पीछे पहलवान ने कहा कि  देसी खान पान से जो ताक़त मिलती है और शरीर मज़बूत होता है उसका कोई मुक़ाबला नहीं। मैं खुद इसी खान पान से हैरतंगेज़ करतब कर पाता हूं। लेकिन देश के युवा अपनी शक्ति नशे में तबाह कर रहे हैं। 

पहलवान ने युवा पीढ़ी से की एक ही अपील
इस दौरान आश्रम के बाबा कंवर महाराज ने बिजेन्द्र के संकल्प और ताकत की सरहाना की। साथ ही कहा कि अगर आप नशा छोड देंगे तो ऐसे कारनामे आप भी कर सकते हैं। वहीं पहलवान ने कहा कि नशा समाज में सबसे बड़ी बिमारी है, जिससे पहले नशा करने वाला और फिर पूरा परिवार बर्बाद हो जाता है। मैं युवा पीढ़ी से कहत हूं कि वह नशे की लत में ना पढ़े। पहलवान बिजेन्द्र ने कहा कि वो और उनका पूरा परिवार राधा स्वामी आश्रम से जुड़ा है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios