Asianet News HindiAsianet News Hindi

Health: अगर आपको भी है हकलाने की दिक्कत और हो रहा है आपका कॉन्फिडेंस खत्म, तो इन तरीकों से करें इसे मैनेज

अक्सर हम लोगों को हकलाते हुए लोगों की हंसी उड़ाते हुए देखते हैं। जिसके कारण वो लोग अपना कॉन्फिडेंस पूरी तरह से खो देते हैं। ऐसे में ना ही वो किसी से बात कर पाते हैं और ना ही कुछ काम। लेकिन अब आप काम भी कर पाएंगे और अपना कॉन्फिडेंस वापस भी ला पाएंगे।

Health Problem Impact of stunnering Self identity MBT
Author
Delhi, First Published Nov 17, 2021, 1:33 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली। आजकल लोगों को लगता है कि, इंसान तब हकलाता (stuttering) है जब वो परेशानी में होता है या फिर कॉन्फिडेंस (confident) नहीं होता। लेकिन आपको बता दें कि, ऐसा नहीं है हकलाने की आदत एक व्यक्ति के अंदर बचपन से ही होती है। जिसको फ्लुएंसी डिसऑर्डर कहते हैं। यह एक कॉम्प्लैक्स कम्यूनिकेशन डिसऑर्डर है जिसके कई कारण हैं।

क्या है हकलाना

हकलाना सिर्फ बोलना के समय अटकना ही नहीं है। बल्कि ज्यादा तनाव और नेगिटिव एनर्जी पैदा होने के कारण ये हो सकता है। जिसके लिए व्यक्ति को अपने डर पर पूरी तरह से काबू पाना होता है। कई बार ऐसा देखा गया है कि, जो व्यक्ति आपसे बात कर रहा है और उसने ऐसा सवाल आपसे पूछ लिया जिसको बताने में आप हकलाते हैं, तो आप इससे पीछे हट जाते हैं जिसके कारण आपका कॉन्फिडेंस खत्म हो जाता है। इसलिए जो भी पूछा जाए उसका जवाब आप रूककर ही दें लेकिन बोले। इससे आपकी प्रैक्टिस भी हो जाएगी और आपके अंदर  कॉन्फिडेंस भी पैदा हो जाएगा।

हकलाने से पड़ता है पहचान पर असर

अक्सर आपके दिमाग में एक ही बात आती है कि, हम बात करते समय हकलाएंगे तो सब हमारी हंसी उड़ाएंगे। लेकिन ऐसा नहीं है आपको जो भी कहना है आराम से सही शब्दों का चयन करके कहिए। इससे ना ही आपका  कॉन्फिडेंस खत्म होगा और ना ही पहचान। बल्कि वही लोग आपको समझने आपके बारे में जानने की कोशिश करेंगे।

हकलाने का रिश्तों पर पड़ता है प्रभाव

इस दौड़ती भागती जिंदगी ने लोगों के जीने के मायने को ही बदलकर रख दिया है। ऐसे में कुछ लोग आगे बढ़ जाते हैं और कुछ लोग पीछे ही रह जाते हैं। लेकिन आप अपने आपको पीछे ना करें बल्कि आगे बढ़े और जो बात करनी है वो करें। अगर आपकी इस दिक्कत से किसी को कोई दिक्कत हो रही है तो उस रिश्ते से किनारा कर लें। लेकिन उस व्यक्ति के सामन अपना कॉन्फिडेंस ना खोएं क्योंकि इससे ही आपको आगे बढ़ने की हिम्मत मिलेगी।

क्वालिटी ऑफ लाइफ

कुछ लोग इस लाइफस्टाइल के कारण भूल जाते हैं कि, हमारे बीच कुछ ऐसे स्पेशल लोग रहते हैं जिनके साथ हमे सबसे ज्यादा समय बिताना चाहिए। लेकिन वो सिर्फ उनसे एक बार ही बात करके पीछे हट जाते हैं। जिसके कारण वो डिप्रेशन में आ जाते हैं लेकिन अब आपको इससे पीछा छुड़ाना होगा। क्योंकि ऐसे डिप्रेशन में आने से आप अपने आपको नुकसान पहुंचाएंगे। इसलिए उनकी हर चीज को इग्नोर कर आगे बढ़े और उन्हें दिखा दें कि आपके अंदर किसी तरह की कोई दिक्कत नहीं है।

ये भी पढ़ें-

 Lip Care Tips:सर्दियों में होंठ फटने की समस्या से परेशान हैं तो ये घरेलू नुस्खें आपके आ सकते हैं काम

Healthy Skin: केसर के इस्तेमाल से आपको कभी नहीं होगी स्किन से जुड़ी ये समस्याएं, जानें फायदे
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios