दुबई. आईपीएल का जादू सिर चढ़ कर बोल रहा है। हालांकि, इस बार मैच बिना दर्शकों के हो रहे हैं। कोरोना वायरस के चलते इस बार सिर्फ खिलाड़ी, टीम के मालिकों, कमेंट्री वाले और स्टाफ को ही मैदान में जाने की अनुमति है। ऐसे में टीवी पर मैच देखते वक्त आपको पहले जैसा ही शोर सुनाई देता होगा। अब आपके मन में सवाल उठ रहा होगा कि मैदान पर जब दर्शक नहीं हैं तो चौका छक्का लगने या विकेट गिरने पर हो हल्ला कैसे सुनाई दे रहा है। आईए जानते हैं कि ये क्या फंडा है?

आईपीएल हो हल्ला वाला खेल है। अगर दर्शकों का शोर नहीं होगा तो मैच में मजा नहीं आएगा। ऐसे में चैनलों को डर था कि बिना शोर शराबे के दर्शक मैच से दूर हो सकते हैं। इस समस्या का तोड़ निकालने के लिए टीवी चैनलों ने तकनीकी का इस्तेमाल किया।

कैसे सुनाई दे रहा शोर?
 टीवी दर्शकों को शोर शराबा सुनाई दे, इसके लिए प्री रिकॉर्डेड ऑडियो चलाए जा रहे हैं। ये दर्शकों के शोर की पहले से की गई रिकॉर्डिंग है। यानी जब चौका छक्का लगता है या विकेट गिरता है तो शोर शराबे की आवाज को बढ़ा दिया जाता है। अलग अलग टीमों के हिसाब से रिकॉर्डिंग चलाई जा रही है। जैसे मुंबई का मैच होने पर थीम सॉन्ग, रोहित शर्मा को चीयर करने वाली आवाज चलाई जाती है। यह सब चैनल की प्रोडक्शन टीम संभालती है। 
 
आ रहीं कुछ दिक्कतें
हालांकि, आईपीएल के शुरुआती मैचों में प्री रिकॉर्डेड ऑडियो में कुछ खामियां भी देखने को मिलीं। कई मौकों पर सिंगल होने पर तेज आवाज सुनाई देने लगती है। तो कभी आवाज देर तक आती रहती है।