Asianet News HindiAsianet News Hindi

हर घर तिरंगा कार्यक्रम विशेषः बोकारो में बन रहा है 3 किलोमीटर लंबा तिरंगा झंडा, वर्ल्ड रिकॉर्ड की तैयारी

झारखंड के बोकारों में आजादी का अमृत महोत्सव के अंतर्गत हर घर तिरंगा कार्यक्रम तहत 3 किमी लंबा झंडा बनाया गया है। वर्ल्ड रिकार्ड की को ध्यान में रखते हुए किया गया है निर्माण। समाज सेवी संजीव कुमार ने बनाया तिरंगा झंडा।

bokaro azadi ka amrit mahotsav 75 years of independence har ghar tiranga special social activist sanjiv kumar made 3 km long TRICOLOUR built for world record in jharkhand state sca
Author
Bokaro, First Published Aug 13, 2022, 11:21 AM IST

बोकारो ( झारखंड). झारखंड में 75 वें स्वतंत्रता दिवस की तैयारी जोर शोर से चल रही है। हर घर तिरंगा कार्यक्रम को लेकर जगह-जगह पर रैलियां निकाली जा रही है। लेकिन बोकारो जिले में 75 वा स्वतंत्रता दिवस मनाने की अनोखी तैयारी एक समाजसेवी के द्वारा की जा रही है। समाजसेवी संजीव कुमार 3 किलोमीटर लंबा तिरंगा झंडा बनवा रहे हैं। उनकी नजर वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने पर है। संजीव कुमार का कहना है कि 13 अगस्त तक 3 किलोमीटर लंबे तिरंगे झंडे का निर्माण कर लिया जाएगा।उनके इस कार्य की लोग खूब सराहना कर रहे हैं। समाज सेवी संजीव कुमार ने 3 किलोमीटर लंबा झंडा बनाकर विश्व रिकॉर्ड बनाने की ठान ली है। बोकारो के चास के पिंडराजोरा में 3 किमी लंबा झंडा बनाया जा रहा है। इसमें ग्रामीण लड़की और महिलाएं भी जुटी हुई है। 

3500 मीटर कपड़े का इस्तेमाल
3 किलोमीटर तिरंगे झंडे का निर्माण में 35 मीटर कपड़ा का इस्तेमाल किया जा रहा है। 4 कारीगर दिन रात मेहनत कर तिरंगा झंडा बनाने में जुटे हैं। इनमें दो कारीगर प्रिंट करने का काम कर रहे हैं। समाज सेवी संजीव कुमार का दावा है कि 13 अगस्त तक झंडे का निर्माण कर लिया जाएगा। यह झंडा गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज होगा। उन्होंने बताया कि इससे पहले मिस्र के इजिप्ट में 2500 मीटर लंबा राष्ट्रीय ध्वज बनाया गया था। उनके द्वारा बनवाया जा रहा तिरंगा झंडा 35 मीटर का बनाया जा रहा है जो एक नया रिकॉर्ड होगा। 

14 अगस्त को निकलेगी भव्य यात्रा
समाजसेवी के अनुसार 13 अगस्त तक झंडे का निर्माण पूरा कर लिया जाएगा। 14 अगस्त को बोकारो के चास के आईटीआई मोड़ से 3 किलोमीटर का राष्ट्रीय ध्वज के साथ भव्य तिरंगा यात्रा निकाली जाएगी। इसमें स्थानीय लोग शामिल होंगे। संजीव कुमार ने बताया कि इससे बड़ा तिरंगा झंडा आज से पहले कभी भी ना तो फहराया गया है और ना ही इतने लंबे तिरंगे झंडे के साथ कभी कोई यात्रा निकाली गई है। इस अनोखे तिरंगा झंडा यात्रा को लेकर स्थानीय लोग भी काफी उत्साहित हैं।

यह भी पढ़े- स्वतंत्रता दिवस विशेष: कौन है ये सीकर के सपूत, जिन्होंने दिया था गांधीजी को 'बापू' नाम, और थे उनके 5वें पुत्र

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios