Asianet News HindiAsianet News Hindi

चाईबासा में नक्सलियों की नापाक कोशिश हुई नाकाम, सुरक्षा बलों ने जब्त किए खतरनाक 8 आईईडी एक्सप्लोजिव

नक्सलवाद की समस्याग्रस्त झारखंड प्रदेश में आरोपियों की तलाश में जुटी सुरक्षा बलो की टीम को नुकसान पहुंचाने के लिए बिछाए गए आईईडी को मंगलवार के दिन जब्त करने में सफलता पाई है, हालाकि नक्सली तब तक वहां से फरार हो गए थे। जानकारी बुधवार को अधिकारियों ने दी।

chaibasa news security forces successfully seized 8 IED planted by naxalite in regada forest area asc
Author
First Published Nov 2, 2022, 3:41 PM IST

चाईबासा(chaibasa).झारखंड प्रदेश लगातार नक्सलवाद की समस्या से जूझ रहा है। इसके खात्मे  के लिए कई बार  पुलिस तो कभी सुरक्षा फोर्स के द्वारा सर्च अभियान चलाया जाता है। तो वहीं उनको रोकने के लिए नक्सलियों द्वारा भी अपनी सुरक्षा के लिए खतरनाक फैंसले लेते है। इसी के तहत जंगल सर्चिंग की जानकारी पता चलते ही आरोपियों ने सुरक्षा बलों को रोकने और नुकसान पहुंचाने के लिए लैंड माईन बिछाई थी। हालाकि टीम ने उनकी इस कोशिश को नाकाम कर दिया है।

नुकसान पहुंचाने को बिछाए थे 8 खतरनाक आईईडी
चाईबासा के पुलिस अधीक्षक आशुतोष शेखर ने जानकारी देते हुए बताया कि इन्फॉर्मर से जानकारी मिली थी नक्सली रेंगड़ा के जंगलों में आम आदमी व सुरक्षा बलों को नुकसान पहुंचाने की साजिश रच रहे है। उसकी सूचना के आधार पर सुरक्षा बलों की टीम मौके पर पहुंची। इसके साथ ही टीम ने आरोपियों की तलाश शुरू की और रेंगड़ा के जंगलों में तलाशी लेते हुए नक्सलियों द्वारा लगाए गए 8 खतरनाक आईईडी बरामद किया। खतरनाक बमों को डिटेक्ट करने के बाद उनको वहीं ही डिफ्यूज किया गया। अधिकारी ने बताया सभी आठ इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (IED) करीब 1.5 से 2 किलो के करीब के थे। बम प्लानिंग सीपीआई (CPI)द्वारा की गई थी। वे एक्सप्लोजिव माओवादी विरोधी दस्ते को रोकने के लिए लगाए गए थे।

पहले भी कर चुके है वारदात
झारखंड मे नक्सलियों द्वारा सुरक्षा बलों को नुकसान पहुंचाने का पहला मामला नहीं है इसके पहले भी 20 अक्टूंबर के दिन भी इसी तरह की साजिश रची गई थी। आऱोपियों द्वारा तेकापानी गांव में 10 किलो वजन का पाईप्ड आईईडी बिछाया गया था। हालाकि वहां मौजूद बम स्क्वाड टीम ने डिफ्यूज कर लिया था।

आपको बता दे कि इससे पहले भी 31 अक्टूंबर के दिन झारखंड पुलिस ने माओवादियों के मंसूबों को नाकाम करते हुए बूढ़ा पहाड़ में छिपाए हुए भारी मात्रा में हथियार व गोला बारूद बरामद करने में सफलता हासिल की थी। जानकारी में सामने आया था कि किसी बड़ी घटना को अंजाम देने की साजिश थी।

यह भी पढ़े- झारखंड को दहलाने की कोशिश नाकामयाब, माओवादियों द्वारा छिपा कर रखे गए भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios